ताज़ा समाचार

राजभवन में यज्ञशाला का उद्घाटन

शिमला : राज्यपाल आचार्य देवव्रत, मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने अपनी धर्मपत्नी तथा रेडक्रॉस अस्पताल शाखा की अध्यक्ष प्रतिभा सिंह तथा विधानसभा के अध्यक्ष बृज बिहारी लाल बुटेल तथा विधानसभा में विपक्ष के नेता प्रेम कुमार धूमल ने आज सायं राजभवन में आयोजित यज्ञ में भाग लिया। इससे पूर्व, मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने राजभवन परिसर में राज्यपाल आचार्य देवव्रत के सानिध्य में नवनिर्मित यज्ञशाला का उद्घाटन किया।

राज्यपाल ने राजभवन में वैदिक रस्मों के आयोजन के लिए यज्ञशाला के निर्माण के लिए विशेष पहल की है, जिसका उद्देश्य शांति व अध्यात्मिक वातावरण तैयार करना है।

इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि वेद बहुत ही पवित्र है, जो बुद्धिज्ञान व दृष्टि का गोचर है और देवताओं की भाषा को जोड़ने का साधन है। यह ज्ञान हमारे जीवन व वैदिक साहित्यों के सभी पहलुओं में शामिल है और आज भी अपनी कसौटी पर खरे उतर रहे हैं और विशेष रूप से हिन्दुओं के सभी वर्गों के लिए और मानव जाति के लिए सर्वोच्च है।

उन्होंने कहा कि यज्ञ के दौरान मंत्रों के जाप से लोगों व समाज का कल्याण सुनिश्चित होता है तथा यह बाहरी व आंतरिक शांति प्रदान करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्यपाल द्वारा राजभवन में यज्ञशाला का निर्माण एक विशेष पहल है। उन्होंने कहा कि ग्रंथों में यज्ञ को सबसे श्रेष्ठ कर्म के रूप में प्रभाषित किया गया है और इसे विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त है।

वीरभद्र सिंह ने कहा कि यज्ञ एक पवित्र रस्म है, जिसे प्रत्येक व्यक्ति द्वारा बिना किसी जाति, नस्ल, रंगभेद के भेदभाव किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि वेद व अन्य ग्रंथों में यज्ञ का उल्लेख मिलता है और आज विश्वभर में यज्ञ विभिन्न तरीकों से लगभग सभी धर्मों व समुदायों द्वारा किया जा रहा है। इसाई गिरिजा घरों में मोमबती जलाकर, हिन्दु मंदिरों में दीपक, अगरबत्ती, धूप से कई पवित्र स्थानों तथा धर्मिक सभाओं में यज्ञ अनुष्ठान की निरन्तरता का पता चलता है। उन्होंने कहा कि इन सभी रस्मों का उद्देश्य मानव जाति की खुशहाली, स्वास्थ्य, सम्पत्ति, शांति, शक्ति, शोहरत के लिए तथा प्राकृतिक आपदा व बीमारियों से बचाव के लिए किया जाता है।

राज्यपाल ने इसके उपरांत राजभवन में राजकीय भोज का आयोजन किया, जिसमें मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, विधानसभा के अध्यक्ष बृज बिहारी लाल बुटेल, विपक्ष के नेता प्रेम कुमार धूमल, विधानसभा के उपाध्यक्ष जगत सिंह नेगी, मंत्रिमण्डल के सदस्य, मुख्य संसदीय सचिव और विधायकगण, मुख्य सचिव पी.मित्रा, डीजीपी संजय कुमार, अतिरिक्त मुख्य सचिव व प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारी और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8  +  1  =