ब्लॉग

मण्डी जिला में 3 लाख 25 हजार 134 राशन कार्डधारक

11 लाख 11 हजार 621 लोग हो रहे लाभान्वित: अपूर्व देवगन

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम में 4.69 लाख लोग चयनित

मंडी, 15 जुलाई। मंडी जिला में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत 837 उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से कुल 3 लाख 25 हजार 134 राशन कार्डधारकों को खाद्यान्नों का आबंटन किया जा रहा है, जिससे जिला की 11 लाख 11 हजार 621 लोग लाभान्वित हो रहे हैं। यह जानकारी उपायुक्त अपूर्व देवगन ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी ।

उन्होंने बताया कि राशन कार्डधारकों को फोर्टीफाइड पीडीएस चावल, आटा, खाद्य तेल व नमक जिसमें आयरन, फोलिक एसिड व बी-12 सम्मिलित हैं, का वितरण किया जा रहा है ताकि कोई भी व्यक्ति कुपोषण का शिकार न हो। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आपदा संभावित क्षेत्रों में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत दी जाने वाली आवश्यक खाद्य सामग्री का पर्याप्त भंडारण कर लें ताकि किसी भी आपदा की स्थिति में इन क्षेत्रों में खाद्यान्न की कमी न रहे।

अपूर्व देवगन ने बताया कि दिसम्बर, 2023 से जून, 2024 तक विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत 2,87,011 क्विंटल आटा, 1,72,050 क्विंटल पीडीएस चावल, 45,916 क्विंटल दालें, 37,603 क्विंटल चीनी, 31,88,874 लीटर खाद्य तेल एवं 13,034 क्विंटल नमक तथा 7,78,404 एलपीजी सिलेंडर राशन कार्डधारकों को वितरित किये गए।

उन्होंने बताया कि इस अवधि के दौरान खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग मंडी द्वारा 4119 निरीक्षण के कार्य किये गये। जबकि विभिन्न उचित मूल्य की दुकानों, थोक गोदामों से कुल 3,61,129 रुपये का जुर्माना वसूला गया। फल व सब्जी विक्रेताओं द्वारा की गई अनियमितताओं तथा प्रतिबन्धित पालीथीन बैग जब्त कर 32539 रुपये का जुर्माना भी वसूला गया।

उन्होंने बताया कि दिसम्बर 2023 से जून, 2024 तक की 13 घरेलू गैस सिलेंडर जब्त किए गए जिस पर अभी कार्यवाही की जा रही है। इसके अतिरिक्त उपभोक्ताओं को अच्छी गुणवत्ता के खाद्यान्न उपलब्ध हो सके, इसके लिए कुल 135 खाद्यान्नों के सैंपल लिए गये। जिनमें से 107 सैंपल की रिपोर्ट प्राप्त हो गई है प्राप्त रिपोर्ट में से सभी 107 सैंपल पास हुए हैं।

अपूर्व देवगन ने बताया कि मंडी जिला में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत 4 लाख 69 हजार 485 लाभार्थियों का चयन किया जा चुका है। उन्होंने अधिकारियों को लाभार्थियों को योजना का पूरा लाभ पहुंचाने की व्यवस्था को मजबूती देने के साथ ही सार्वजनिक वितरण प्रणाली में अधिक पारदर्शिता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

बैठक में सार्वजनिक वितरण प्रणाली एवं राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत आने वाले पात्र लाभार्थियों के चयन बारे समीक्षा की गई। इसके अतिरिक्त उचित मूल्य की दुकानों के आवंटन के संबंध में भी चर्चा की गई।

उपायुक्त अपूर्व देवगन ने बताया कि जिला मंडी में राशन कार्ड के साथ 99.98 प्रतिशत आधार सीडिंग, 96 प्रतिशत मोबाईल नम्बर सीडिंग व 82 प्रतिशत ई-केवाईसी का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। उन्होंने ई-केवाईसी में भी शत-प्रतिशत के लिए प्रयासों में और तेजी को कहा। जिन लोगों की ई-केवाईसी नहीं हुई है वे नजदीक की उचित मूल्य की दुकान में जाकर शीघ्र अपनी ई-केवाईसी करवाएं। जिला नियंत्रक कार्यालय में भी लोगों की ई-केवाईसी की जा रही है। उन्होंने बताया कि कोई भी व्यक्ति कार्यालय में आकर उनसे सम्पर्क कर अपनी ई-केवाईसी करवा सकता है।

नगर निगम सोलन की आयुक्त पुनरीक्षण प्राधिकारी नियुक्त

सोलन: नगर निगम निर्वाचन नियम 2012 के तहत प्रदत्त शक्तियों और राज्य चुनाव आयुक्त हिमाचल प्रदेश की ओर से जारी अधिसूचना की अनुपालना में निर्वाचक पंजीकरण अधिकारी नगर निगम- सह- एसडीएम, सोलन पूनम बंसल की ओर से आयुक्त, नगर निगम सोलन एकता काप्टा को मतदाता सूची (जहां रिक्तियां हैं) के अद्यतनीकरण और तैयारी (दावों और आपत्तियों की प्राप्ति और निपटान) के लिए पुनरीक्षण प्राधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया है।

इस बारे में जारी आदेशों के अनुसार आयुक्त, नगर निगम सोलन से हिमाचल प्रदेश नगर निगम नियम, 2012 में निहित प्रावधानों का अक्षरशः और सही भावना से पालन करने और राज्य चुनाव आयोग, हिमाचल प्रदेश द्वारा निर्धारित समय सीमा में उचित प्रक्रिया का पालन करते हुए इस कार्य को पूरा करने का आग्रह किया गया है।

रिक्त पड़ी पंचायतों की मतदाता सूचियां प्रारूप में प्रकाशित: DC हेमराज बैरवा

धर्मशाला : उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी, पंचायत हेमराज बैरवा ने बताया कि जिला में पंचायती राज संस्थाओं में किसी कारण से आकस्मिक रिक्तियां हुई है, के निर्वाचन क्षेत्रों की मतदाता सूचियां पहली जुलाई, 2024 को अर्हता तिथि मानते हुए 15 जुलाई को प्रारुप में प्रकाशित कर दी गई है।

उपायुक्त ने बताया कि संबंधित पंचायत के लोगों द्वारा 16 से 22 जुलाई तक पुनर्निरीक्षण प्राधिकारी के पास दावे व आक्षेप प्रस्तुत किए जा सकते हैं, जिनका निपटारा पुनर्निरीक्षण प्राधिकारी द्वारा 25 जुलाई तक किया जायेगा। जिला निर्वाचन अधिकारी के पास 29 जुलाई तक अपील की जा सकती है तथा उनके द्वारा पहली अगस्त तक निपटारा कर दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि मतदाता सूचियों का 2 अगस्त को अंतिम प्रकाशन कर दिया जायेगा।

उन्होंने बताया कि यदि किसी व्यक्ति को मतदाता सूचियों में नाम सम्मिलित करना हो या कोई दावा या आक्षेप हो तो संबंधित विकास खंड के पुनर्निरीक्षण अधिकारी, खंड विकास अधिकारी या संबंधित ग्राम पंचायत के सचिव से सम्पर्क कर सकते हैं । दावे व आक्षेप प्रस्तुत करने के लिए निर्धारित प्रपत्र उपरोक्त कार्यालयों में निःशुल्क उपलब्ध होंगे।

सोलन: 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के टीकाकरण के लिए पंजीकरण अनिवार्य

एसजीपीसी बोर्ड सदस्यों के चुनावों के लिए पात्र मतदाताओं की पंजीकरण प्रक्रिया 31 जुलाई तक

जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिला के पात्र मतदाताओं से अपील की है कि वे एसजीपीसी चुनावों के लिए 31 जुलाई तक अपना पंजीकरण अवश्य करवाएं

ऊना, 15 जुलाई।- शिरोमणी गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी चुनाव के लिए निर्वाचक नामावली तैयार करने का कार्य 31 जुलाई, 2024 तक किया जाएगा। यह जानकारी देते हुए उपायुक्त जतिन लाल ने बताया कि शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक बोर्ड के सदस्यों के चुनाव के लिए पात्र मतदाता अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। उन्होंने बताया कि निदेशक पंचायती राज एवं आयुक्त गुरूद्वारा चुनाव हिमाचल प्रदेश से प्राप्त शेडयूल के अनुसार 1 अगस्त से 20 अगस्त तक हस्तलिखित नियमावली तैयार करके उसकी छपाई और रख-रखाव का प्रारम्भिक प्रकाशन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि नियमावली का प्रारम्भिक प्रकाशन उपायुक्त द्वारा 21 अगस्त को किया जाएगा। प्रारम्भिक प्रकाशन सूची में प्रकाशित नाम, पद व पता या कर्मचारी के मामले में, उसका पद और पता से संबंधित दावे व आक्षेप 21 अगस्त तक संबंधित पुनरीक्षण प्राधिकारी के समक्ष प्रस्तुत कर किए जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि दावे व आक्षेप प्राप्त करने की अंतिम तिथि 11 सितम्बर रहेगी। सिख गुरुद्वारा बोर्ड चुनाव नियम, 1959 के नियम 10(3) के तहत प्राप्त सभी दावे और आपत्तियांे का निपटारा 12 सितम्बर से 20 सितम्बर, 2024 तक किया जाएगा। इसके अलावा 21 सितम्बर से 4 अक्तूबर तक संक्षिप्त नामावलियों को छपाई के लिए तैयार कर लिया जाएगा तथा 5 अक्तूबर को मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन कर दिया जाएगा।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिला के पात्र मतदाताओं से अपील की है कि वे एसजीपीसी चुनावों के लिए 31 जुलाई तक अपना पंजीकरण अवश्य करवाएं।

पंचायतों में रिक्त पदों को भरने के लिए मतदाता सूचियों का विशेष पुनरीक्षण शुरू

2 अगस्त को मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन कर दिया जाएगा

ऊना: पंचायती राज संस्थाओं में किसी कारणवश रिक्त हुए पदों को भरने के लिए संबंधित पंचायतों में मतदाता सूचियों का विशेष पुनरीक्षण किया जा रहा है। इस बारे जानकारी देते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत एवं उपायुक्त जतिन लाल ने बताया कि मतदाता सूची में नाम शामिल करने के लिए किसी व्यक्ति की पात्रता निर्धारित करने की तिथि 1 जुलाई, 2024 रहेगी। उन्होंने बताया कि मतदाता सूची का प्रारूप प्रकाशित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में 16 से 22 जुलाई तक दावे और आपत्तियां पुनरीक्षण प्राधिकारी के समक्ष प्रस्तुत की जा सकती है। 25 जुलाई को पुनरीक्षण प्राधिकारी द्वारा दावों एवं आपत्तियों का निपटारा करेंगे। 29 जुलाई तक जिला निर्वाचन अधिकारी के समक्ष अपील दाखिल कर सकेंगे। 1 अगस्त को जिला निर्वाचन अधिकारी इस संबंध में प्राप्त हुई अपीलों का निवारण करेंगे। इसके अतिरिक्त 2 अगस्त को मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन कर दिया जाएगा।

ऊना: वर्धमान इस्पात उद्योग बाथड़ी में भरे जाएंगे 150 पद

अधिक जानकारी के लिए 76962-00743 पर सम्पर्क किया जा सकता है

ऊना: मैसर्ज़ वर्धमान इस्पात उद्योग बाथड़ी में केवल पुरुष वर्ग में विभिन्न श्रेणियों के 150 पद भरे जाएंगे। यह जानकारी जिला रोजगार अधिकारी अक्षय शर्मा ने दी। उन्होंने बताया कि इनमें मेल्टर के 10 पद, फिटर के 10, क्रेन ऑप्रेटर के 5, वेल्डर के 10, सहायक मेल्टर/ बारी मेन के 15 और हेल्पर के 100 पद शामिल है। इन पदों के साक्षात्कार 18 जुलाई को प्रातः 10 बजे जिला रोजगार कार्यालय ऊना में होगा।

उन्होंने बताया कि मेल्टर पद के शैक्षणिक योग्यता 10वीं और आयु सीमा 25 से 40 वर्ष निर्धारित की है। फिटर के लिए 10वीं और फिटर में आईटीआई व आयु सीमा 18 से 40 वर्ष निर्धारित की गई है। क्रेन ऑप्रेटर पद के लिए शैक्षणिक योग्यता 10वीं पास और आयु 22 से 40 वर्ष होनी चाहिए। वेल्डर पद के लिए 10वीं, वेल्डर में आईटीआई और आयु 20 से 40 वर्ष होना अनिवार्य है। सहायक मेल्टर के लिए 10वीं पास और आयु 25 से 40 वर्ष होनी जरुरी है। इसके अतिरिक्त हेल्पर पद के लिए शैक्षणिक योग्यता 5वीं और आयु सीमा 18 से 40 वर्ष निर्धारित की है। उन्होंने बताया कि अभ्यार्थियों को वेतन हिमाचल प्रदेश सरकार के मानदंडों के अनुसार दिया जाएगा।

अक्षय शर्मा ने बताया इच्छुक अभ्यार्थी अपने योग्यता प्रमाण पत्र, जन्म तिथि, रोजगार कार्यालय का पंजीकरण कार्ड, आधार कार्ड नम्बर, दो पासपोर्ट साईज फोटो सहित साक्षात्कार में उपस्थित हो सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए 76962-00743 पर सम्पर्क किया जा सकता है। उन्होंने बातया कि साक्षात्कार में यात्रा भत्ता देय नहीं होगा।

रोड साइड चेकिंग के दौरान 7 मामले बिना बिल के पकड़े

कर चोरी मामलों में 2,18,510 रूपये का लगाया जुर्माना, मौके पर वसूले 1,85,860 रूपये

ऊना:  राज्य कर व आबकारी विभाग ऊना द्वारा विशेष अभियान के तहत गत शनिवार को रोड साइड चेकिंग के दौरान वाहनों की जांच की। इस दौरान विभिन्न वाहनों का जीएसटी अधिनियम के तहत निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान 7 मामले बिना बिल के विभिन्न प्रकार के सामान के पाए गए जिस पर विभाग ने नियमानुसार कार्रवाई करते हुए 2,18,510 रूपये का जुर्माना लगाया गया जिसमें दो मामले आयरन स्क्रैप के सम्मिलित हैं जिन पर कड़ी कार्रवाई करते हुए विभाग ने 1,85,860 रूपये का जुर्माना मौके पर वसूला। रोड साइड चेकिंग विशेष अभियान में एसटीईओ शिव महाजन सहित संजीव कुमार, सुरेश कुमार व लखविंदर सिंह शामिल रहे।

उपायुक्त राज्य कर व आबकारी ऊना विनोद सिंह डोगरा ने बताया कि विभाग किसी भी प्रकार की कर चोरी को रोकने के लिए भरसक प्रयासरत है। उन्होंने सभी प्रकार के व्यापारियों से आग्रह किया गया है कि भविष्य में क्रय-विक्रय से सम्बन्धित पूर्ण दस्तावेज़ जोकि मूल खरीद/बिक्री बिल, ई-वे बिल सामान के परिवहन के साथ अवश्य रखें। उन्होंने कहा कि भविष्य में भी यदि कोई कर चोरी से संबंधित मामला पाया जाता है तो विभाग द्वारा नियमानुसार कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

नाहन: 24 लाख व नशे की खेप के साथ दादा,पोता बेटा गिरफ्तार

नाहन: सिरमौर जिला मुख्यालय नाहन के वाल्मीकि नगर में एक ही परिवार की 3 पीढ़ियां करीब हर तरह के नशे का कारोबार कर रही थीं। पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल कर मामले का खुलासा करते हुए बाप-बेटे और पोते को एक साथ न केवल विभिन्न तरह के नशे की बड़ी खेप के साथ गिरफ्तार किया है बल्कि आरोपियों के कब्जे से लाखों रुपये का कैश भी बरामद किया है।

पुलिस ने यह कार्रवाई गुप्त सूचना के आधार पर देर रात अमल में लाई। इस दौरान पुलिस ने 24.40 लाख रुपए कैश भी बरामद किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।  एसपी सिरमौर रमन कुमार मीणा ने बताया कि पुलिस टीम ने रिहायशी मकान में दबिश देकर बुजुर्ग के अलावा उसके बेटे और पोते को भी दबोचा है। ये तीनों नशे के कारोबार में संलिप्त थे। इस दौरान पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 336 स्पासमैक्स ट्रामाडोल कैप्सूल्स, 159.80 ग्राम चरस, 38.10 ग्राम अफीम, 23.34 ग्राम हेरोइन (चिट्टा) और 24.40 लाख की नकद राशि भी बरामद की है। उन्होंने बताया कि इस मामले में पुलिस ने 71 वर्षीय प्रेम चंद पुत्र स्व. बच्चना राम, 44 वर्षीय सागर पुत्र प्रेम चंद और 21 वर्षीय संग्राम उर्फ अंशुल पुत्र सागर, तीनों निवासी वाल्मीकि नगर नाहन के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि ड्रग माफिया के खिलाफ सख्त कार्रवाई जारी रहेगी। वहीं, आरोपियों के बैंक खाते भी खंगाले जा रहे हैं।ऐसे में माना जा रहा है कि मामले में कई और बड़े खुलासे हो सकते हैं।

कांगड़ा: गाड़ी से कूदकर दुष्कर्म का आरोपी फरार

शिमला: हवालात की ग्रिल तोड़कर फरार हुआ चिट्टे का आरोपी; पुलिस ने जगह-जगह की नाकाबंदी

शिमला: राजधानी शिमला के ढली पुलिस हिरासत से रविवार रात चिट्टे की तस्करी का आरोपी हवालात की ग्रिल काटकर फरार हो गया। आरोपी के पुलिस हिरासत से फरार होने की बात का पता चलते ही पुलिस स्टेशन में अफरातफरी मच गई। इसके बाद आनन-फानन में घटना के बारे में वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित किया गया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी की तलाश के लिए जगह-जगह नाकाबंदी कर दी है। साथ ही आसपास के क्षेत्र की सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला जा रहा है। फरार आरोपी की पहचान आकाश माथुर (23) निवासी ए-60 पर्यावरण कॉम्पलेक्स साउथ दिल्ली के रूप में हुई है। नौ जुलाई को ढली के भट्ठाकुफर में पुलिस ने उसे 14.61 ग्राम चिट्टे के साथ गिरफ्तार किया था। पुलिस के मुताबिक आरोपी पर क्षेत्र के युवाओं को चिट्टा बेचने के आरोप हैं। इसके बाद आरोपी को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे पुलिस रिमांड मिली थी। इसी दौरान उसे पूछताछ के लिए ढली थाने में हिरासत में रखा गया था। पुलिस सूत्रों के मुताबिक रविवार देर रात आरोपी थाने में लगी खिड़की की ग्रिल काटकर फरार हो गया। आरोपी को पकड़ने के लिए जिला पुलिस ने कई टीमें गठित की गई हैं। इन टीमों का नेतृत्व एएसपी और डीएसपी रैंक के अधिकारियों को सौंपा गया है। आरोपी के प्रदेश से बाहर भागने की आशंका है। इसको देखते हुए सभी बस अड्डों के अलावा बैरियरों पर तैनात सुरक्षा कर्मियों को भी इस बारे में अलर्ट कर दिया गया है। जिले के बैरियरों पर सभी वाहनों की गहनता से जाँच की जा रही है।

चंबा: ज़िला के पर्यटन गंतव्यों एवं ऐतिहासिक स्थलों की जानकारी के लिए कटोरी – बंगला में लगेगा होर्डिंग पर्यटकों को मिलेगी सुविधा

वन अनुमति से संबंधित मामलों में लाई जाए तेजी –उपायुक्त मुकेश रेपसवाल

जारी विकास कार्यों की प्रगति को लेकर साप्ताहिक समीक्षा बैठक आयोजित

चंबा: उपायुक्त मुकेश रेपसवाल ने विभिन्न विभागीय योजनाओं के तहत वन अनुमति मामलों की प्रक्रिया में संबंधित विभागों के ज़िला अधिकारियों को तेजी लाने के निर्देश दिए हैं।

उपायुक्त ने यह निर्देश आज विभिन्न विभागीय योजनाओं के तहत ज़िला में जारी विकास कार्यों की प्रगति को लेकर उपायुक्त कार्यालय के सभागार में आयोजित साप्ताहिक समीक्षा बैठक (मंडे मीटिंग) की अध्यक्षता करते हुए दिए ।

मुकेश रेपसवाल ने उपनिदेशक पशुपालन, प्रारंभिक एवं उच्च शिक्षा, ज़िला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास सेवाएं तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को विभागवार नोडल अधिकारी तैनात करने को कहा ताकि वन अनुमति मामलों के समयबद्ध कार्यान्वयन को सुनिश्चित बनाया जा सके।

बैठक में पंडित जवाहरलाल नेहरू राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय के सरोल स्थित परिसर में पेयजल आपूर्ति एवं विद्युत व्यवस्था से संबंधित शेष कार्यों को जल्द पूरा करने को लेकर उपायुक्त ने जल शक्ति विभाग तथा विद्युत बोर्ड के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी प्रदान किए।

साथ में उन्होंने नर्सिंग कॉलेज भवन निर्माण को लेकर प्रगति की समीक्षा करते हुए संबंधित विभाग को वन अनुमति मामला जल्द तैयार करने को कहा। प्राचार्य पंडित जवाहरलाल नेहरू राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय डॉ. एसएस डोगरा ने बैठक में अवगत किया कि सुल्तानपुर मुहाल के तहत भूमि का चयन कर विभागीय औपचारिकताओं को पूर्ण किया जा रहा है ।

राष्ट्रीय जल विद्युत परियोजना चमेरा चरण एक जलाशय में स्थित ज़िला के प्रसिद्ध जल क्रीड़ा केंद्र तलेरू में बहकर आने वाली लकड़ियों तथा लट्ठे इत्यादि को हटाने के लिए ज़िला पर्यटन विकास अधिकारी राजीव मिश्रा ने बताया कि मामले को राष्ट्रीय जल विद्युत निगम एवं वन विभाग को मामला प्रेषित किया गया है ।

मुकेश रेपसवाल ने चंबा के सीमावर्ती क्षेत्र कटोरी बंगला में पर्यटकों की सुविधा के लिए ज़िला सभी के महत्वपूर्ण पर्यटन गंतव्यों एवं ऐतिहासिक स्थलों के छाया चित्रों सहित आवश्यक जानकारी युक्त होर्डिंग स्थापित करने के भी निर्देश ज़िला पर्यटन विकास अधिकारी को दिए । साथ में उन्होंने यह भी कहा कि आवश्यक जानकारियों सहित महत्वपूर्ण दूरभाष नंबर होल्डिंग में प्रदर्शित किए जाएं ।

बैठक में नगर परिषद चंबा के तहत कचरा प्रबंधन स्थल, गौ सदन मंजीर, अपना विद्यालय योजना, आयुष स्वास्थ्य केंद्र भवनों के निर्माण, मनरेगा कन्वर्जेंस सहित विभिन्न मदों के तहत प्रगति को लेकर गत बैठक के दौरान दिए गए दिशा-निर्देशों एवं विभागीय प्रतिक्रिया की भी समीक्षा की गई ।