त्यौहार व मेले

"मंडी की अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि" धार्मिक, संस्कृतिक व पुरातात्विक का प्रतीक

“मण्डी की अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि” धार्मिक, सांस्कृतिक व पुरातात्विक का प्रतीक

उत्तर-पश्चिमी भारत में भगवान शिव की पौराणिक गाथाएं गहरी जड़े जमाए हुए पूरे देश में शिवरात्रि का त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। लेकिन हिमाचल जिसे देवभूमि के नाम से जाना जाता है यहां के...

लाहौल का पारम्परिक जनजातीय उत्सव “गोची”

लाहौल में बेटों के पैदा होने पर “गोची” उत्सव मनाने की परंपरा सामूहिक पुत्रोत्सव का पर्व गोची  आकर्षक, रंगीन एवं मनोरंजक भारी हिमपात एवं भयंकर शीत के बावजूद भी लाहौल में रहती है सामूहिक...

पांगी जुकारू उत्सव, आपसी भाईचारे का प्रतीक..

वीरू राणा/पांगी: जिला चंबा के जनजातीय क्षेत्र पांगी में हर साल मनाये जाने वाले जुकारू उत्सव इस वर्ष भी दो फरवरी से समूचे पांगी घाटी में मनाया जा रहा है। इस त्यौहार को घाटी की सांस्कृतिक पहचान...

हिमाचल में "लोहड़ी" को कहा जाता है "माघी का साजा", दिन बीतता है प्रीतिभोज और खुशियां मनाने में

हिमाचल में “लोहड़ी” को कहा जाता है “माघी का साजा”, दिन बीतता है प्रीतिभोज और खुशियां मनाने में

हिमाचल में “लोहड़ी” को कहा जाता है “माघी का साजा”, दिन बीतता है प्रीतिभोज और खुशियां मनाने में हमारे पहाड़ी प्रदेशों में इस उत्सव को लोहड़ी, माघी व माघी साजा के नाम से जाना जाता है मकर...

अलौकिक अवतार गुरु नानकदेव जी

“गुरु नानकदेव जी” अलौकिक अवतार

अलौकिक अवतार गुरु नानकदेव जी भारत की पावन भूमि पर कई संत-महात्मा अवतरित हुए हैं, जिन्होंने धर्म से विमुख सामान्य मनुष्य में अध्यात्म की चेतना जागृत कर उसका नाता ईश्वरीय मार्ग से जोड़ा है। ऐसे...

हिमाचल का सबसे पुराना व्यापारिक मेला "लवी"

हिमाचल के रामपुर का अंतरराष्ट्रीय मेला “लवी”

 रामपुर शहर का लवी मेला हिमाचल प्रदेश मेलों व त्यौहरों के लिए विशेष रूप से जाना जाता है। हर त्यौहार और मेले की अपनी एक खास महत्ता है। इतना ही नहीं बल्कि कुछ खास मेले व त्यौहार  देश में ही नहीं...

भाई दूज के दिन बहनें भाइयों को करें इस शुभ मुहूर्त में तिलक..

हिंदू धर्म में भाई दूज के पर्व का विशेष महत्व है। राखी के त्योहार की ही तरह भाई दूज पर भी बहनें भाइयों को तिलक करती हैं और उनकी लंबी आयु की कामना करती हैं. पांच दिनों तक चलने वाले दिवाली पर्व का...