टूरिज़्म

“देव कमरूनाग” ...यहां स्थानीय ही नहीं, बल्कि देश-विदेश के लोग भी होते हैं नतमस्तक

हिमाचल: देव कमरूनाग का वर्णन महाभारत से…

कमरूनाग झील में समाया है अपार खजाना “देव कमरूनाग” … स्थानीय लोगों के साथ-साथ जहां देश-विदेश के लोग भी होते हैं नतमस्तक परंपरा के कारण सिक्कों और अमूल्य धातुओं का भारी भंडार हिमाचल को देवभूमि...

"शिमला" के दर्शनीय स्थल

ऐतिहासिक इमारतों की नगरी व खूबसूरत वादियों से लबालब “शिमला”

कुछ वर्षों में हिमाचल प्रदेश ने पर्यटकों के लिए बहुत आकर्षक, विवधिता से पूर्ण, मनोहरी दृश्यों से पूर्ण, पर्वतारोहण, खोज पूर्ण, पर्वत भ्रमण स्थानों से भरपूर अदभूत प्रदेश की ख्याति प्राप्त कर...

हरी भरी वादियों से दूर, बर्फ से ढके पर्वतों का नूर : किब्बर

हरी भरी वादियों से दूर, बर्फ से ढके पर्वतों का नूर : किब्बर

चमचमाती झीलें, बर्फ की चादर ओढ़े पर्वत, पर्यटकों को खींच लाते हैं किब्बर   किब्बर विश्व का सबसे ऊंचा ‘शीत मरुस्थल’ गांव प्रदेश के कई दुर्गम जनजातीय क्षेत्र हैं, लेकिन इन कई दुर्गम जनजातीय...

ऐतिहासिक धरोहर कोटखाई पैलेस, सेबों के बागीचों से लबालब व स्थानीय देवताओं के पौराणिक मन्दिर में सिमटा “कोटखाई”

सेबों के बागीचों से लबालब व स्थानीय देवताओं के पौराणिक मन्दिरों में सिमटा “कोटखाई”

आकृति सतान/ कोटखाई   ऐतिहासिक धरोहर कोटखाई पैलेस शिमला का छोटा सा खुबसूरत शहर “कोटखाई” कोटखाई : बागीचों में काम करते लोग, सिर पर पहाड़ी टोपी पहने पुरुष व ढाट्टू ओढ़े महिलाएं यहाँ के लोगों का...

मनाली के देवदार जंगलों में बसा पैगोडा शैली का कलात्मक मंदिर "हिडिम्बा"

मनाली के देवदार जंगलों में बसा पैगोडा शैली का कलात्मक मंदिर “हिडिम्बा”

हिडिम्बा को कहा जाता है ढूंगरी देवी हिडिम्बा को राजपरिवार मानता है अपनी दादी हिडिम्बा मंदिर के बारे में हमने बहुत कुछ पढ़ा व सुना है। वास्तव में खुद वहां जाकर एक अद्भुत् अनुभूति  का जो अनुभव...

धर्मशाला में होगा बॉलीवुड के सितारों व सांसदों के बीच क्रिकेट मैच

धर्म-आस्था व कला का बेजोड़ संगम : कांगड़ा

कांगड़ा प्रकृति और संस्कृति की अद्भुत विविधता  हिमाचल प्रदेश के सुंदर-सुंदर जिले और उनकी खूबसूरती। प्रकृति के अदभूत नज़ारे, ऐतिहासिक धरोहरें, धर्म, आस्था, लोक संस्कृति, रीति-रिवाज़ तथा इन...

kasauli himachal pradesh

कसौली – औपनिवेशिक आकर्षण का एक हिल स्टेशन

कसौली हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में स्थित एक लोकप्रिय हिल स्टेशन है। समुद्र सतह से लगभग 1800 मीटर की ऊँचाई पर स्थित इस स्थान का वर्णन भारतीय महाकाव्य रामायण में किया गया है। पौराणिक कथाओं के...