भाजपा नेताओं को कांग्रेस की नहीं अपनी पार्टी की चिंता करनी चाहिए : राठौर

शिमला: सोमवार को पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर ने कहा कि पूर्व सांसद शांता कुमार टिकट कटने से सदमे में हैं। अपनी खीज मिटाने को वीरभद्र और सुखराम की मुलाकात को नाटक बता रहे हैं। राठौर ने शांता कुमार के बयान पर पलटवार किया। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं को कांग्रेस की नहीं अपनी पार्टी की चिंता करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि  वह उन्हें याद दिलाना चाहते हैं कि साल 2017 में जब पंडित सुखराम अपने परिवार सहित भाजपा में शामिल हुए थे, तब क्या वे आरोपमुक्त थे। कांग्रेस में कोई आए तो वह दोषी हो जाता है और भाजपा में जाएं तो निर्दोष बन जाता है।

कहा कि प्रदेश में कांग्रेस मजबूती के साथ एकजुट होकर चुनाव मैदान में उतर रही है। भाजपा तो चुनाव से पूर्व अपने वर्तमान सांसदों को चुनाव मैदान में उतारने की बात करती थी। अब इसने कांगड़ा और शिमला में अपने प्रत्याशी बदल दिए हैं। कहा कि राहुल गांधी के दो संसदीय क्षेत्रों से चुनाव लड़ने पर सवाल उठाने वाले भाजपा नेताओं को अपने नेताओं के इतिहास पर भी नजर दौड़ानी चाहिए। राहुल गांधी का दो जगहों से चुनाव लड़ना उन लोगों की भावनाओं का आदर और सम्मान करना है, जो चाहते थे कि राहुल दक्षिण भारत से भी चुनाव लड़ें।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

82  −    =  77