प्रापर्टी टैक्स की दरों में पांच से दस फीसद तक की बढ़ोतरी

प्रापर्टी टैक्स की दरों में पांच से दस फीसदी तक की बढ़ोतरी

शिमला: नगर निगम ने प्रापर्टी टैक्स की दरों में बढ़ोतरी कर दी है। सौ वर्ग मीटर से अधिक क्षेत्र के लिए प्रापर्टी टैक्स की दरें बढ़ाई गई हैं। नगर निगम की एफसीपीसी की बैठक में यह निर्णय लिया गया।  अब नगर निगम के मासिक सदन में यह मामला जाएगा। नगर निगम वित वर्ष 2016-17 में टैक्स की वसूली करेगा। शहर के करीब 25 हजार प्रापर्टी टैक्स अदा करने वाले लोगों को अप्रैल के बिल जारी किए जाएंगे।

नगर निगम ने 100 वर्ग मीटर से अधिक क्षेत्र के लिए जोन ए और जोन बी में प्रापर्टी टैक्स की दरों से बढ़ोतरी की है। गैर अवासीय और किराये पर दी गई संपत्तियों पर प्रापर्टी टैक्स की दरों में पांच से दस फीसद तक की बढ़ोतरी हुई है। इस श्रेणी के तहत न्यू मर्ज एरिया में नगर निगम ने प्रापर्टी टैक्स की दरें दोगुनी कर दी है। निगम को पहले शहर के करीब 12 हजार लोगों से प्रापर्टी टैक्स के रूप में करीब नौ करोड़ की आय होती थी। शहर के 24 करोड़ लोगों से निगम को दो साल के प्रापर्टी टैक्स के रूम में 20 करोड़ मिल है। नई दरें लागू होने के बाद निगम की आय में दो से तीन करोड़ का इजाफा होने की उम्मीद है। बीते माह एफसीसीसी की बैठक में टैक्स बढ़ोतरी की प्रस्ताव लाया गया था लेकिन इस अस्वीकार कर दिया। इस बार निगम प्रशासन ने निगम की आमदनी बढ़ोतरी करने के लिए एफसीपीसी में फैसला किया है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

93  −  90  =  

http://www.ktlrproject.nl/index.php/porn-sweet/black-girl-has-anal-sex-outside-xx-asian-sex/