स्वाइन फ्लू का कहर, प्रदेश में चौथी मौत

आईजीएमसी में मरीजों और तीमारदारों को मिलेगा निःशुल्क भोजन, स्पेशल वार्ड की दरों में वृद्धि

शिमला: रोगी कल्याण समिति की 9वीं शासकीय समिति की बैठक आज आईजीएमसी शिमला मे स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री विपिन सिंह परमार की अध्यक्षता मे संपन्न हुई। उन्होंने बताया कि वर्ष 2018-19 में रोगी कल्याण समिति की आय 56 करोड़ 30 लाख जबकि खर्चा 60 करोड़ 67 लाख रूपये अनुमानित आंका गया है जिसे आज बैठक में अनुमोदित कर दिया गया।  उन्होने बताया कि रोगी कल्याण समिति के तहत कार्यरत कर्मचारियों का डीए 119 प्रतिशत से बढा कर 140 प्रतिशत किया गया है। उन्होनें बताया कि बैठक में स्पेशल वार्ड के दाम बढ़ाए गए है जिसमे वीआईपी  कमरा 1500 से बढाकर 2250रू., सिंगल कमरा 1000 से बढ़ाकर 2000 तथा शेयरिग कमरा 500 रूपये से बढाकर 750 रूपये किया गया है।

उन्होने बताया कि रोगी कल्याण समिति के तहत वर्ष 2014 से 2017 तक की आडिट को भी स्वीकृति प्रदान की गई है। उन्होने बताया कि इंदिरा गांधी आर्युविज्ञान संस्थान एवं अस्पताल शिमला में अटल अन्नपूर्णा भोजन योजना के तहत रोगियों व परिजनों को निःशुल्क एक समय का भोजन देने पर विचार किया जा रहा है जिसे जल्द शुरू किया जाएगा। अस्पताल में दीन दयाल सराय के सुदृढ़ीकरण की बात भी बैठक में प्रमुखता से की गई। उन्होने बताया कि अस्पताल में 300 बिस्तरों को सेमीफाउलर बैड में बदला जाएगा जबकि कमला नेहरू अस्पताल में बांझपन के ईलाज ‘आईबीएफ’ को शुरू करने पर विचार किया जाएगा।

आईजीएमसी अस्पताल परिसर में चल रही तीन दुकानों का किराया तीन प्रतिशत बढ़ाया गया है। तीन नई ईसीजी मशीने खरीदने की भी स्वीकृति प्रदान की गई। अस्पताल में मरीजों के साथ तीमारदारों की बढ़ती भीड़ को न्यूनतम करने के लिए अस्पताल प्रबंधन और सुरक्षा कर्मी को संयुक्त नीति बनाकर क्रियान्वन करने को कहा गया।

उन्होंने आईजीएमसी की नई बन रही ओपीडी इमारत के जल्द निर्माण के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होने आज स्टेट पैरामैडिकल काऊंसिल के तहत विभिन्न कोर्सों के लिए पंजीकरण हेतु पैरामैडिकल काऊंसिल वैबसाइट का शुभारंभ किया तथा ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा भी आरंभ की।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *