“शिक्षक दिवस” सेंटर ऑफ एक्सीलेंस संजौली कॉलेज में होगा आयोजित, प्रदेश के 13 शिक्षक होंगे सम्मानित

राज्य सरकार ने आरम्भ किए पर्यावरण लीडरशिप अवार्ड

  • ट्रॉफी सहित प्रथम पुरस्कार 50 हजार रुपये तथा द्वितीय पुरस्कार 25 हजार रुपये का होगा

शिमला : राज्य सरकार ने ‘हिमाचल प्रदेश पर्यावरण लीडरशिप अवार्ड’ आरम्भ किए हैं। ये पुरस्कार सफल पहल कर पर्यावरण संरक्षण एवं सतत विकास के प्रोत्साहन में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले राज्य के संस्थानों/व्यक्तिगत तौर पर विभिन्न श्रेणियों में प्रत्येक वर्ष प्रदान किए जाएंगे। इन पुरस्कारों की घोषणा प्रत्येक श्रेणी के लिए विशेषज्ञों के पैनल द्वारा प्रस्तावों/आवेदनों/संस्तुतियों की सूक्ष्म जांच पड़ताल के उपरान्त की जाएगी। चिन्हित श्रेणियों में एक अथवा एक से अधिक पुरस्कार की अनुशंसा का निर्णय स्क्रीनिंग/चयन समिति द्वारा लिया जाएगा। प्रशस्ति पत्र के साथ ट्रॉफी सहित प्रथम पुरस्कार 50 हजार रुपये तथा द्वितीय पुरस्कार 25 हजार रुपये का होगा।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि इस पुरस्कार के शुरू होने से विभिन्न क्रियाशील क्षेत्रों में एक जिम्मेवार बदलाव सुनिश्चित होगा। इससे हिमाचल प्रदेश में पर्यावरण के रूप में सत्त संस्थागत व्यवस्था के विकास में मद्द मिलेगी। वार्षिक हि.प्र. पर्यावरण लीडरशिप पुरस्कार नगर ठोस कचरा प्रबन्धन में स्थानीय शहरी निकाय की दक्षता, जैव चिकित्सा कचरा प्रबन्धन में अस्पताल, होटल/रिजार्ट, पाठशालाओं के अलावा अन्य शैक्षणिक संस्थान, पाठशालाएं, कार्यालय परिसर, उद्योग, पंचायत, आवासीय कल्याण समिति/आवास, रेस्तरां, बस अड्डा तथा रेलवे स्टेशन/हवाई अड्डा जैसी 10 श्रेणियों के लिए प्रदान किए जाएंगे। आवेदकों को संलग्कों तथा सहायक सामग्री सहित आवेदन पत्र सीडी अथवा पैन ड्राईव में एक साॅफ्ट प्रति तथा अंग्रेजी में ए-4 आकार के पेपर पर टाईप कर एक स्पायरल बांड प्रति को निदेशक पर्यावरण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पर्यावरण भवन, समीप यूएस क्लब, शिमला-171001 को प्रेषित करना होगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6  +  4  =