ऊना: आतंकियों से मुठभेड़ में हिमाचल के जवान राईफलमैन अनिल जसवाल शहीद

ऊना: आतंकियों से मुठभेड़ में हिमाचल का जवान राईफलमैन अनिल जसवाल शहीद

  • मुख्यमंत्री ने राईफलमैन अनिल जसवाल की शहादत पर जताया शोक

ऊना: आतंकियों के खिलाफ एक ऑपरेशन में हिमाचल का बेटा सरहद पर कुर्बान हो गया। ऊना जिले के बंगाणा उपमंडल का सरोह निवासी 26 वर्षीय जवान अनिल कुमार जसवाल जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में शहीद हो गए। दो दिन पहले ही शहीद का जन्मदिन था। आतंकियों के खिलाफ एक ऑपरेशन में अनिल कुमार जसवाल भी शामिल थे। इस दौरान वह बुरी तरह से जख्मी हो गए थे। मंगलवार सुबह उसने जम्मू कश्मीर के सेना अस्पताल में दम तोड़ दिया। अनिल जेक रायफल में सिपाही पद पर तैनात थे। शहीद की शादी दो साल पहले ही हुई थी और बीते जनवरी महीने में बेटे का जन्म हुआ। शहीद अनिल जसवाल छह साल पहले ही फौज में भर्ती हुए थे। बताया जा रहा है शहीद दो सप्ताह पहले ही छुट्टी काटकर ड्यूटी पर लौटा था। उनकी शहादत के बाद क्षेत्र में शोक का माहौल है।  जानकारी के अनुसार सोमवार को दक्षिण कश्मीर के बडूरा (अनंतनाग) में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच करीब 12 घंटे चली मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया।

इस दौरान एक मेजर समेत दो फौजी जवान शहीद हुए हैं। अनिल इस हमले में घायल हो गया था। उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था, जहां उनका निधन हो गया।

मुख्यमंत्री ने राईफलमैन अनिल जसवाल की शहादत पर जताया शोक

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने भारतीय सेना में राईफलमैन अनिल कुमार जसवाल की शहादत पर शोक व्यक्त किया है। अनिल कुमार जिला ऊना की बंगाणा तहसील के गांव सरोह के रहने वाले थे, जो सोमवार को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में एक आतंकी हमले में शहीद हुए। मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त करते हुए कहा कि अनिल कुमार जसवाल ने आतंकियों से लड़ते हुए देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया है। उन्होंने परमात्मा से दिवंगत आत्मा की शांति एवं परिवारजनों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार शहीद जवान के परिवार की हर संभव सहायता प्रदान करेगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *