शिमला: 10वां जनमंच शिमला शहरी क्षेत्र में 3 फरवरी को

विभागों से संबंधित समस्याओं को निपटाने के लिए प्रशासन जनता के द्वार कार्यक्रम पुनः आरंभ

शिमला: जिला में ग्रामीण स्तर पर राजस्व संबंधी मामलों के समाधान तथा अन्य विभागों से संबंधित समस्याओं को घरद्वार पर निपटाने के लिए प्रशासन जनता के द्वार कार्यक्रम को पुनः आरंभ कर दिया गया है। यह जानकारी उपायुक्त शिमला अमित कश्यप ने आज यहां दी।

उन्होंने बताया कि जिला के दूरदराज व दुर्गम ग्रामीण क्षेत्रों के पंचायतों के निवासियों के लिए यह कार्यक्रम आरंभ किया गया है, जिसके सार्थक परिणाम सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि गत माह लगभग 30 पंचायतों के लोग लाभान्वित हुए। इस कार्यक्रम में लोगों की राजस्व सम्बन्धी विभिन्न समस्याओं का निपटारा घर द्वार पर किया गया। जिला में गत माह लगभग 900 राजस्व मामलों का निपटारा किया गया तथा प्रमाण-पत्र जारी किए गए।

उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न विभागों के अधिकारी ग्रामीण लोगों की समस्याओं को उनके घरद्वार पर निपटाते हैं। उन्होंने जिला के सभी उपमंडलाधिकारियों को अपने कार्यक्षेत्र की दो पंचायतों में हर महीने इस तरह के कैम्पों का आयोजन सुनिश्चित करने को कहा । ऐसे आयोजनों से ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों को व्यक्तिगत कार्यो के लिए उपमंडल व खंड स्तरीय कार्यालयों में जाने की आवश्यकता नहीं होगी, जिससे उनकेे समय व धन की बचत होगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *