ताज़ा समाचार

हिमाचल: प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र सोमवार से होगा शुरू; अब तक प्राप्त हुए 743 सवाल

शिमला:  हिमाचल प्रदेश विधानसभा  के मुख्य समिति कक्ष में  आयोजित एक प्रैस वार्ता को सम्बोधित करते हुए हिमाचल प्रदेश विधान सभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानियां ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की  चौदहवीं विधान सभा का तृतीय सत्र दिनाँक 18 सितम्बर से 25 सितम्बर तक आयोजित किया जाएगा। इस मानसून सत्र का शुभारम्भ 18 सितम्बर को अपराहृन 2:00 बजे होगा। उस दिन पूर्व विधायक स्वर्गीय खूब राम के प्रति शोकोदगार भी होंगे। इस सत्र में कुल 7 बैठकें आयोजित की जाएँगी । 23 सितम्बर को शनिवार के दिन भी सत्र आयोजित किया जाएगा। जबकि 21 सितम्बर, 2023  का दिन गैर-सरकारी सदस्य कार्य दिवस निर्धारित किया गया है।

 पठानिया ने कहा कि सत्र के आयोजन के लिए विधान सभा सचिवालय सजग है तथा पूर्णतय: तैयार है। मानसून सत्र  के दृष्टिगत सुरक्षा प्रबन्धों  हेतु हिमाचल प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक समीक्षा बैठक भी दिनाँक 5 सितम्बर, 2023 को आयोजित की गई जिसमें D.G.P. हिमाचल प्रदेश, A.D.G.P. कानून व्यवस्था, जिलाधीश व एस0 पी0 शिमला, आयुक्त नगर निगम  शिमला, निदेशक सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग तथा विभिन्न विभागों  के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। सत्र के दौरान सुरक्षा में कोई चूक न हो तथा सत्र में भाग लेने वाले माननीय मन्त्री परिषद के सदस्यों, माननीय विधायकों तथा प्रशासनिक अधिकारियों की गाड़ियों को सही पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित हो तथा मिडिया के साथियों को भी पूर्व की भांति गाड़ी पार्क करने की जगह सुनिश्चित हो तथा आगतुन्कों को कोई परेशानी न हो इसे सुनिश्चित करने हेतु अधिकारियों को उचित दिशा निर्देश दिए गए। लोक निर्माण विभाग, जल शक्ति विभाग तथा लोक निर्माण विभाग (विद्युत) के अधिकारियों को भी समय रहते कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए गए थे। विधान सभा सचिवालय में आन्तरिक तथा परिसर में चल रहे निर्माण कार्य को भी  समय पर पूर्ण करने की हिदायत दी गई थी। विधान सभा सचिवालय में पुस्तकालय कक्ष को भी नया स्वरूप दिया गया है तथा सत्र के दौरान दोपहर के भोजन हेतु डाईनिंग हॉल में भी Space में बढ़ोतरी की गई है ताकि किसी को असुविधा न हो।  इसके अतिरिक्त विधायकों  की मांग पर विधान सभा सचिवालय में और भी सुविधा विस्तार के कार्य किए गए हैं तथा कुछ प्रस्तावित हैं।

पठानिया ने कहा  कि जहाँ तक इस सत्र में सदस्यों द्वारा भेजी गई सूचनाओं का प्रश्न है अभी तक कुल  743 प्रश्नों की सूचनाएं प्राप्त हुई  हैं जिनमें तारांकित 547 प्रश्न (Online 451 व Offline 96),  अतारांकित प्रश्न 196 (Online 144 व Offline 52) की सूचनाएं प्राप्त हुई हैं । जिन्हें  नियमानुसार सरकार को आगामी कार्रवाई हेतु प्रेषित कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त माननीय सदस्यों से नियम 62 के तहत 1   सूचना, नियम 101 के तहत 2  सूचनाएं माननीय सदस्यों सर्व भवानी सिंह पठानिया , जीत राम कटवाल तथा पिछले सत्र  की 1 सूचना जो  इन्द्रदत लखनपाल सदस्य से प्राप्त हुई थी पर भी चर्चा की जाएगी।  नियम 130 के तहत 9 सूचनाएं, नियम102 के तहत 1 सूचना तथा नियम 324 के तहत 1 सूचना प्राप्त हुई हैं। उन्हें  भी  आगामी कार्रवाई हेतु सरकार को प्रेषित कर दिया गया है। पिछले बजट सत्र में  सदस्यों से 1215 सूचनाएं प्रश्नों के माध्यम से प्राप्त हुई थी तथा सत्र की कार्रवाई 75 घण्टे चली थी तथा उसकी उत्पादकता 94 प्रतिशत रही थी। उन्होने कहा कि वे इस सत्र में और भी बेहतर उत्पादकता की अपेक्षा कर रहे हैं।

पठानिया ने कहा कि प्रश्नों से सम्बन्धित जो सूचनाए सदस्यों से प्राप्त हुई हैं वह मुख्यत: प्रदेश में हाल ही में भारी वर्षा तथा प्राकृतिक आपदा से उत्पन्न हुई  स्थिति, सरकार द्वारा आपदा से निपटने हेतु किए गए प्रयास, सड़कों की दयनीय स्थिति, स्वीकृत सड़कों की DPR’s,  प्रदेश में महाविद्यालयों, स्कूलों, स्वास्थ्य संस्थानों इत्यादि का उन्नयन एवं विभिन्न विभागों में ‍रिक्त पदों की पदपूर्ति, पर्यटन, उद्यान, पेयजल की आपूर्ति, युचाओं में बढ़ते नशे के प्रयोग की रोकथाम, बढ़ते अपराधिक मामलों व सौर ऊर्जा तथा परिवहन व्यवस्था पर आधारित है। इसके अतिरिक्त माननीय सदस्यों ने प्रश्नों  के माध्यम से अपने- अपने निर्वाचन क्षेत्रों से सम्बन्धित मुख्य मुद्दों को भी उजागर किया है।

     मेरा सत्ता पक्ष तथा विपक्ष  के माननीय सदस्यों से अनुरोध रहेगा कि वे जनहित से जुड़े मुद्दों को ही सदन में उठायें तथा हिमाचल प्रदेश विधान सभा की परम्पराओं तथा गरिमा का सम्मान करते हुए नियमों की परिधि में रहकर जनहित से सम्बन्घित विषयों पर सदन में सार्थक चर्चा करें तथा सत्र के संचालन में अपना रचनात्मक सहयोग दें।  सत्र अविलम्ब चलता रहे इसके लिए मैंने कल अपराहृन 1:00 बजे सर्वदलीय बैठक बुलाई है जिसमें नेता प्रतिपक्ष  जय राम ठाकुर, माननीय संसदीय कार्य मंत्री  हर्षवर्धन चौहान तथा मुख्य संसदीय सचिव  मोहन लाल ब्राक्टा शामिल होंगे।

सम्बंधित समाचार

Comments are closed