Himachal Cabinet Decisions

हिमाचल कैबिनेट निर्णय….

हिमाचल: प्रदेश मंत्रिमंडल की महत्वपूर्ण बैठक मंगलवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में विधानसभा परिसर में संपन्न हुई। बैठक में कई अहम निर्णय लिए गए।  बैठक में प्रदेश की सीमाएं सभी के लिए खोलने का निर्णय  लिया गया। अब हिमाचल में आने या जाने के लिए किसी भी तरह के रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। प्रदेश का पर्यटन विभाग पहले ही यहां आने वाले पर्यटकों के लिए एसओपी जार कर चुका है जबकि लंबे समय बाद अपने प्रदेश लौट रहे हिमाचल के लोगों को क्वांरटाइन नियमों का पालन करना होगा।
वहीं सीमाएं खोल देने के बावजूद अभी प्रदेश से बाहरी राज्यों के लिए बसों के संचालन के लिए कोई फैसला नहीं लिया गया है। फिलहाल बाहरी राज्यों के लिए चलने वाली बस सर्विस अभी बंद रहेंगी।
कैबिनेट में फिलहाल स्कूल-कालेज खोलने को लेकर कोई चर्चा नहीं की गई है। आज हुई कैबिनेट में इको-टूरिज्म पालिसी व नर्सिंग स्कूल पालिसी को भी स्वीकृति प्रदान की गई है। इको-टूरिज्म पालिसी के तहत लोगों को इनसेंटिव व नए अवसर प्रदान किए जाएंगे।
इसके अलावा बोर्डर खोलने के साथ ही संस्थागत क्वांरटाइन व  बॉर्डर पर होने वाला क्वारंटाइन 90 प्रतिशत तक कम कर दिया गया है। अब लंबे समय के बाद बाहर से आने वाले व्यक्ति को  होम क्वांरटाइन होना होगा। इसके अलावा कैबिनेट में आईसीएमआर की ओर से कोरोना पॉजिटिव मरीजों को लेकर जारी नई गाइडलाइन्स को भी लागू करने का फैसला लिया गया है। अब कोविड मरीजों को दस दिन इलाज के बाद बिना टेस्ट करवाए घर भेजा जा सकेगा। साथ ही जिन मरीजों में लक्षण नहीं होंगे, उन्हें होम आईसोलेशन में रखा जाएगा। दस दिन बाद अगर ऐसे मरीजों को को घर भेजा गया तो उन्हें दस दिन तक होम आईसोलशन में रहना अनिवार्य होगा।

इसके अलावा प्रदेश के हर सौ बिस्तर वाले अस्पताल में नर्सिंग कालेज खोलने का भी सरकार ने निर्णय लिया है। सौ बेड से कम वाले अस्पताल में फिलहाल नर्सिग कालेज नहीं खोले जाएंगे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *