मुख्यमंत्री ने किया श्री राम जन्मभूमि मामले पर सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत

मुख्यमंत्री के सभी उपायुक्तों को स्थिति पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश, राज्य को बारिश से करीब 490 करोड़ रुपये का नुकसान

  • सभी उपायुक्तों को उनके जिलों के सभी शैक्षणिक संस्थानों को स्थिति के अनुसार समय पर बंद करवाने के निर्देश

शिमला : पिछले 24 घण्टों में भारी वर्षा के कारण राज्य के विभिन्न भागों में 18 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। राज्य में पिछले दो दिनों से भारी वर्षा होने के कारण जगह-जगह पर भूस्खलन, फ्लैश फ्लड और पेड़ों के गिरने की सूचना मिली है। यह बात मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां पत्रकारों से बात करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि अकेले शिमला जिले में ही 8 लोगों की मृत्यु की सूचना मिली है। उन्होंने कहा कि चम्बा, कुल्लू, सिरमौर और सोलन जिले में दो-दो व्यक्तियों ने अपनी जान गंवाई है। इसके अतिरिक्त बिलासपुर तथा लाहौल-स्पीति जिले में पिछले 24 घण्टों से हो रही भारी वर्षा के कारण एक-एक व्यक्ति ने अपनी जान गवाई है।

जय राम ठाकुर ने राज्य के सभी जिलों के उपायुक्तों को स्थिति पर कड़ी निगरानी रखने तथा स्थानीय व पर्यटकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने पर्यटकों से नदियों से दूर रहने का आग्रह किया क्योंकि फ्लैश फ्लड और भारी वर्षा के कारण पानी का स्तर बढ़ने की आशंका रहती है। उन्होंने कहा कि इस वर्षा ऋतु के दौरान राज्य को लगभग 490 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

जय राम ठाकुर ने सभी उपायुक्तों को उनके जिलों के सभी शैक्षणिक संस्थानों को स्थिति के अनुसार समय पर बंद करवाने के निर्देश दिए, जिससे विद्यार्थियों को किसी असुविधा का सामना न करना पड़े। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि गत दिवस और आज सुबह असामयिक बर्फबारी के कारण जिला लाहौल-स्पीति में फसलों को भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में सभी महत्वपूर्ण सड़कों को समयबद्ध तरीके से मुरम्मत करवाना सुनिश्चित करेगी ताकि प्रदेश के लोगों विशेषकर बागवानों को उनकी फसलों को बाजार तक पहुंचाने में असुविधा न हो।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *