यातायात की समस्या का समाधान न होने पर कुल्लू में दो घंटे चक्‍का जाम

यातायात की समस्या का समाधान न होने पर कुल्लू में दो घंटे चक्‍का जाम

  • कुल्लू जिला में बसों की कमी होने के कारण लोगों को हो रही असुविधा

कुल्लू : प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर के गृह जिला में स्कूली छात्र सड़क पर चक्का जाम कर रहे हैं। बसों में न बिठाने और बसों की कमी केचलते  छात्र लगातार रोजाना धरने देते हैं। भुंतर के साथ लगती शिलीहार पंचायत के नरोगी, त्रेहण, मासू, कलयाणी, बरशौगी गांव के करीब 50 स्कूल, कॉलेज के छात्रों को त्रेहण नरोगी सड़क यातायात की सुविधा नहीं मिल रही है। आज भी कुल्लू बस स्टैंड में स्कूल, कॉलेज छात्रों व आम जनता ने करीब 2 घंटे धरना-प्रदर्शन किया और प्रदेश सरकार, परिवहन मंत्री व जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने अपने-अपने क्षेत्र जाने के लिए बसें नहीं मिलने के कारण चक्का जाम कर दिया।

दोनों ओर सड़क में कई किलोमीटर तक सैकड़ों वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई हैं। बसें पर्याप्त नहीं हैं और ऊपर से बंजार हादसे के बाद ओवरलोडिंग बंद कर दी जिसके चलते अब उनके पास घर तक जाने के लिए कोई रास्ता नहीं बचा है। ऐसे में उन्हें अब बस अड्डे में बसों का इंतजार करना पड़ रहा है लेकिन उसके बावजूद भी बसें नहीं मिल पा रही है। आरटीओ कुल्लू भुवन शर्मा मौके पर प्रदर्शनकारियों ने उनकी बात नहीं माने और उसके बाद एसडीएम अनुराग चंद्र शर्मा ने मौके पर पहुंचे। सभी स्कूल कॉलेज के छात्रों व आमजनता को अतिरिक्त बस चलाने का आश्वासन दिया जिसके बाद छात्रों की समस्या का अस्थाई समाधान किया।

एसडीएम कुल्लू अनुराग चंद्र शर्मा ने बताया कि बंजार हादसे के बाद सरकार की तरफ से सख्त ऑर्डर आए हैं कि बसों में ओवरलोडिंग ना हो। उन्होंने कहा कि कुल्लू जिला में बसों की कमी होने के कारण लोगों को थोड़ी असुविधा हो रही है। कुल्लू जिला में 8 एडिशिनल रूट्स पर बसों विभिन्न क्षेत्रों में भेजी जा रही है। 3 जुलाई को शिमला में चीफ स्क्रेटरी के साथ सभी जिला के डीसी की नए मामले को लेकर बैठक हैं और उसमें सरकार इस मामले में अन्य निर्णय लेगी जिससे जनता की समस्या के समाधान करेगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *