जिला मण्डी के सऊदी अरब में फंसे कोरोना पॉजिटिव युवक की सहायता के लिए अनुराग ठाकुर ने भारतीय दूतावास को किया सूचित

पीएम मोदी के नेतृत्व में देश ने अंतरिक्ष में हासिल की महत्वपूर्ण उपलब्धि : अनुराग ठाकुर

हमीरपुर : सांसद अनुराग ठाकुर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में डीआरडीओ वैज्ञानिकों द्वारा अंतरिक्ष में मिशन शक्ति को सफलतापूर्वक पूरा किए जाने पर इसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान अभियान क्षेत्र में एक गौरवशाली उपलब्धि बताते हुए इसके लिए देशवासियों और वैज्ञानिकों को बधाई दी है।

अनुराग ठाकुर ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश निरंतर प्रगति पथ पर अग्रसर है। आज जल, थल, नभ हर जगह भारत का डंका बज रहा है। अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में हमारे वैज्ञानिकों ने मिशन शक्ति को सफलतापूर्वक पूरा कर देश की सुरक्षा और प्रगति को सुनिश्चित किया है। हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किमी दूर लो अर्थ आर्बिट में एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया है। ये लाइव सैटेसाइट जो कि एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था, उसे एंटी सैटेलाइट मिसाइल (A-SAT) द्वारा मार गिराया गया। मिशन शक्ति की सफलता ने रूस, अमेरिका और चीन के बाद भारत को भी स्पेस पावर के रूप में दर्ज करा दिया है। मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व और देश के वैज्ञानिकों पर गर्व है और इस ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए सभी देशवासियों को बधाई देता हूँ।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि साल 1998 में भारत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के नेतृत्व में ऑपरेशन शक्ति के अंतर्गत परमाणुशक्ति संपन्न राष्ट्र बना था। आज 21 साल बाद मिशन शक्ति के तहत भारत ने दुनिया को अंतरिक्ष में अपनी ताक़त का एहसास करवाया है। पिछले पाँच वर्षों में मोदी सरकार ने टेक्नोलॉजी के मामले में भारत को शिखर पर पहुंचाया है। भारत के स्पेस प्रोग्राम की आज पूरी दुनिया में धाक है। पहले ही प्रयास में मंगल ग्रह तक पहुंचने में कामयाब रहने वाला भारत पहला देश है। एक साथ 100 से अधिक सैटेलाइट लॉन्च कर इसरो अपना लोहा मनवा चुका है। आगे भी इसरो कई और बड़े प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है। इसीलिए मोदी सरकार ने भारतीय स्पेस प्रोग्राम को नई ताकत देते हुए इसके लिए 10,911 करोड़ रुपये का बजट मंजूर किया है। भारत ने अंतरिक्ष क्षेत्र में जो काम किया है, उसका मूल उद्देश्य भारत की सुरक्षा, भारत का आर्थिक विकास और भारत की तकनीकी प्रगति है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *