मुख्यमत्री ने कुटलेहर विधानसभा क्षेत्र को 150 करोड़ रुपये की सौगात

मुख्यमत्री ने दी कुटलेहर विधानसभा क्षेत्र को 150 करोड़ रुपये की सौगात

  • मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज ऊना जिला के कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र में 150 करोड़ से अधिक की विकासात्मक परियोजनाओं के शिलान्यास व लोकार्पण किए।

शिमला: मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कुटलैहड़ विधानसभा के थानाखास में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा गत एक वर्ष के दौरान की गई सभी घोषणाएं पूरी की है जिससे प्रदेश के विकास को नई गति व दिशा मिली है।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार के सहयोग से प्रदेश प्रगति व समृद्धि के पथ पर अग्रसर है। प्रदेश सरकार ने गृहिणी सुविधा योजना के अंतर्गत अभी तक 65 हजार निशुल्क गैस कुनेक्शन महिला लाभार्थियों को उपलब्ध करवाए हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को आगामी तीन माह के भीतर धुआं मुक्त बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश के लोगों के कल्याण के लिए बजट में अनेक योजनाओं को आरंभ करने की घोषणा की गई है। प्रदेश सरकार ने बेसहारा पशुओं के लिए गौ सदन व गाय अभियारण स्थापित करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि शराब की प्रत्येक बोतल पर एक रुपये उपकर वसूला जा रहा है जिसे गौ सदनों के रखरखाव व निर्माण पर खर्च किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने बंगाणा में उप रोजगार केन्द्र तथा क्षेत्र में 15 ट्यूब वैल स्थापित करने की घोषण की। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की 17 पंचायतों को बेहतर पेयजल आपूर्ति उपलब्ध करवाने के लिए 21 करोड़ रुपये की पेयजल योजना पर कार्य शीघ्र आरंभ कर दिया जाएगा। उन्होंने हरोट तथा दिड़ में स्वास्थ्य उप केन्द्र खोलने तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र चमैरी को क्रियाशील करने की भी घोषणा की।

उन्होंने तीन वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं में विज्ञान कक्षाएं आरंभ करने तथा क्षेत्र की तीन अन्य वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं में वाणिज्य कक्षाएं आरंभ करने की घोषणा की। उन्होंने बंगाणा में दम्कल उप केन्द्र स्थापित करने तथा औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान बंगाणा में तीन नए ट्रैड आरंभ करने कीघोषणा की। उन्होंने अटल बिहारी बाजपयी राजकीय महाविद्यालय बंगाणा में अंग्रेजी, हिन्दी व वाणिज्य विषय में स्नातकोत्तर कक्षाएं आरंभ करने की घोषणा की। उन्होंने राजकीय उच्च पाठशाला करीयां को वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने तथा क्षेत्र की तीन प्राथमिक पाठशालाओं को माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणा की।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने थानाखास में लगभग 10 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले गोकुल ग्राम की आधारशिला रखी। यह ग्राम रेड सिंधी, सहिवाल, थरपारकर, घीर आदि मवेशियों की नस्लों के संरक्षण में सहायक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि इस ग्राम को विभिन्न गतिविधियों जैसे दूध उत्पादन, जैविक खाद, बायोगैस ऊर्जा उत्पादन इत्यादि कार्यों से जोड़कर आरंभ कर आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास किए जाएंगे।

उन्होंने 16.3 करोड़ रुपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत स्तरोन्नत की जानी वाली ऊना धमांद्री, 10.83 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत होने वाली ऊना से देहरा सड़क, 9.51 करोड़ रुपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत स्तरोन्नत होने वाली ककराना से हरोट सड़क, 5.48 करोड़ रुपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत स्तरोन्नत की जानी वाली हटली से खरोल सड़क की आधारशिला रखी। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 2.41 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत की जाने वाली ऊना-अगाहर-मण्ड़ी सड़क, 1.48 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत होने वाली ऊना-घण्डवाला से खलोला सड़क के स्तरोन्यन, 6.16 करोड़ रुपये की लागत से खन्नाकलां में निर्मित होने वाले सामुदायिक स्वास्थ्य भवन, 2 करोड़ रुपये की लागत से बंगाणा में निर्मित होने वाले संयुक्त कार्यालय भवन, 2.81 करोड़ रुपये की लागत से भलोला खड्ड पर निर्मित होने वाले दो पुलों, 1.6 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बसाल के भवन तथा उप स्वास्थ्य केन्द्र भवन तियूरी व उप स्वास्थ्य केन्द्र छरोली के भवन की आधारशिला रखी।

मुख्यमंत्री ने नाबार्ड, आरआईडीएफ-एक्सएक्सआई के तहत लंकखारी खड्ड-2 पर 3.36 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित बंगाणा, थथुन, टमलेट सड़क तथा नागरिक अस्पताल बंगाणा का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने नं. 46 नंगल सलंगरी, नं. 32 दजांडा, नं. 55 कुरिला, नं.  65 सैंजहोट, नं. 66 तथा नं. 2 नारी में 2.61 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित होने वाले ट्यूबवेल की आधारशिला रखी। उन्होंने 1.46 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ सिंचाई योजना बढ़साला तथा 1.08 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ पेयजल योजना बडौली, ताउंदी की भी आधारशिला रखी। उन्होंने चपलाह खड्ड के देरांण में 5.39 करोड़ रुपये तथा 74.39 लाख रुपये की लागत से जल आपूर्ति संवर्द्धन योजना बडौली की भी आधारशिला रखी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *