राज्य जैव विविधता बोर्ड द्वारा आज विकास खण्ड भरमौर में प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित

राज्य जैव विविधता बोर्ड द्वारा आज विकास खण्ड भरमौर में प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित

  • जिला मजिस्ट्रेट भरमौर पृथ्वी पाल सिंह रहे मुख्य अतिथि

शिमला : हिमाचल प्रदेश राज्य जैव विविधता बोर्ड (एच.पी.एस.बी.बी) द्वारा जिला चंबा में आज (12 जून) को मिनी सचिवालय भरमौर, भरमौर ब्लॉक में एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। जैवविविधता के महत्व और संबंधित मुद्दों के बारे में जैव विविधता प्रबंधन समितियों (बी.एम.सी) की भूमिका और जागरूकता बढ़ाने के लिए इस एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (ए.डी.एम) भरमौर पृथ्वी पाल सिंह बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित हुए। इसके अतिरिक्त वन मंडल अधिकारी भरमौर (डी.एफ.ओ) सनी वर्मा भी मौजूद रहे।

जैव विविधता अधिनियम, 2002 और नियमों, 2004 के कार्यान्वयन से संबंधित गतिविधियों पर इस एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन हुआ जिसमें जैव विविधता और इसके संरक्षण से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर गहन विचार विमर्श भी हुआ।

इस कार्यशाला में विकास खण्ड भरमौर के जिला परिषद के सदस्यों, पंचायत समिति के सदस्यों, पंचायत प्रधान और सम्बंधित विभाग के अधिकारी मुख्य रूप से वन, कृषि, बागवानी, पशुपालन, आयुर्वेद आदि के प्रतिनिधि और संबंधित हितधारकों ने भाग लिया। राज्य में जैव-संसाधनों के संरक्षण और स्थायी उपयोग के बारे में भी जानकारी प्रदान की गई।

प्रशिक्षण कार्यशाला के दौरान भरमौर विकास खण्ड के वन मंडल अधिकारी, भरमौर ब्लाक के 29 पंचायतों से आये पंचायत प्रधान, जैव विविधता प्रबंधन समितियों के चेयरमैन एवं मेम्बर और स्थानीय हितधारकों को जैव विविधता, जैव विविधता अधिनियम, 2002 और नियमों 2004 के प्रावधानों को साझा कर संवेदित किया गया। स्थानीय स्तर पर जैव विविधता प्रबंधन समितियों (बी.एम.सी) के गठन की प्रक्रिया, जैव विविधता प्रबंधन समितियों की भूमिका, जन जैव विविधता रजिस्टर (पी.बी.आर) की तैयारी और जिला चम्बा के जैव संसाधनों का लाभ साझाकरण (ए.बी.एस) प्रक्रिया को भी इस कार्यशाला में संबोधित किया गया।

कार्यशाला का आयोजन हिमाचल प्रदेश राज्य जैव विविधता बोर्ड के सदस्य सचिव कुणाल सत्यार्थी की देखरेख में किया गया। हिमाचल प्रदेश राज्य जैव विविधता बोर्ड के अधिकारियों ने भी इस प्रशिक्षण कार्यशाला में भाग लिया। इस कार्यक्रम में जिला परिषद सदस्य, पंचायत समिति के सदस्य, विकास खण्ड भरमौर के पंचायतों के प्रधान सहित जिला प्रशासन और सम्बंधित विभागों के अधिकारियों और हित धारकों ने भी शिरकत की।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *