प्रदेश कांग्रेस की चुनाव रणनीति पर बैठक 27 को कसौली में

वीरभद्र सिंह के सशक्त नेतृत्व के साथ पूरी प्रदेश सरकार व कांग्रेस पार्टी एकजुट : कांग्रेस

शिमला: राज्य वित्तयोग आयोग के अध्यक्ष कुलदीप कुमार, हिमाचल प्रदेश योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष गंगू राम मुसाफिर तथा मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार रंगीला राम राव ने केन्द्र की भाजपा नेतृत्व वाली एनडीए सरकार पर प्रदेश के कुछ भाजपा नेताओं के इशारे पर राज्य में लोकतांत्रिक ढंग से मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में चुनी गई कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने की साजिश करने का आरोप लगाया है।

आज यहां जारी एक संयुक्त वक्तव्य में इन नेताओं ने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में राज्य में हो रहे विकास कार्यों के कारण भाजपा नेता घबरा गए हैं और मुख्यमंत्री की छवि को धूमिल करने के लिए मनघडंत व तथ्यहीन आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश भाजपा नेता समाचार पत्रों के माध्यम से अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने के लिए न्यायालयों में लम्बित व विचाराधीन मामलों पर अनापशनाप बयानबाजी कर लोगों का ध्यान आकर्षित करने का प्रयास कर रहे हैं, जबकि प्रदेश की जनता भलीभांति जानती है कि उनका सच्चा हितैषी कौन है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का हमेशा ही विकास में विश्वास रहा है और भाजपा के ये नेता श्री वीरभद्र सिंह की सरकार के विकास रथ को नहीं रोक सकते।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के भाजपा नेता वीरभद्र सिंह की लोकप्रियता से घबरा गए हैं और जिस दिन से मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने सत्ता संभाली है, उसी दिन से उनके विरूद्ध, मनघडंत व बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता वीरभद्र सिंह के लगभग छः दशकों के बेदाग राजनीतिक जीवन पर छींटाकशी कर ओच्छी राजनीति कर रहे हैं। प्रदेश में जब भी भाजपा सरकार सत्ता में आई तो वीरभद्र सिंह के विरूद्ध अनेक झूठे मामले बनाए गए, जिसमें वे हमेशा ही माननीय न्यायालयों से पाक साफ निकले और इस बार भी मुख्यमंत्री बेदाग होकर निकलेंगे।

कुलदीप कुमार, गंगू राम मुसाफिर तथा रंगीला राम राव ने कहा कि प्रदेश सरकार को अस्थिर करने के लिए भाजपा द्वारा अनेक षड़यंत्र रचे गए, पर उनका कोई भी षड़यंत्र न तो पहले सफल हुआ और न ही आगे सफल होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों ने कांग्रेस सरकार को पूर्ण बहुमत देकर पांच वर्ष के लिए चुना है और लोगों के आशीर्वाद से वीरभद्र सिंह छठी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री बने हैं।

उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह के सशक्त नेतृत्व के साथ पूरी प्रदेश सरकार व कांग्रेस पार्टी एकजुट होकर खड़ी है। उन्होंने भाजपा नेताओं को सलाह दी कि वे वीरभद्र सिंह के खिलाफ बेबुनियाद आरोप लगाने व षड़यंत्र रचने के बजाए प्रदेश में हो रहे विकास कार्यों में अपना सहयोग दें, अन्यथा प्रदेश की जनता भाजपा नेताओं को कभी माफ नहीं करेगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *