हिमाचल रेजीमेंट के गठन पर भाजपा गंभीर : जयराम ठाकुर

हिमाचल रेजीमेंट के गठन पर भाजपा गंभीर : जयराम ठाकुर

शिमला: प्रदेश मुख्यमंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता जयराम ठाकुर ने राज्य की जनता को विश्वास दिलाया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में नई सरकार बनने पर वह सेना की हिमाचल रेजीमेंट के गठन के संकल्प को पूरा कराने का प्रयास करेंगे। भाजपा ने राज्य विधानसभा में इस सबंधं में एक संकल्प पारित किया था। इसमें मांग की गई थी कि केंद्र सरकार मातृभूमि की रक्षा में हिमाचल के सैनिकों की कुर्बानियों के मद्देनज़र रखते हुए हिमाचल रेजीमेंट अथवा हिमालयन रेजीमेंट का गठन किया जाए। भाजपा सैनिकों के हितों के प्रति बेहद संवेदनशील है और “वन रैंक वन पेंशन” को मोदी सरकार द्वारा लागू करना इसका बड़ा उदाहरण है।

जयराम ठाकुर ने कहा कि देश हिमाचल प्रदेश के वीर जवानों का ऋणी है जिन्होंने चाहे शांतिकाल हो या युद्धकाल, हमेशा अपना सर्वस्व न्योछावर किया। उनकी कुबार्नियों का नतीजा है कि हम रात को चैन की नींद सोते हैं। हिमाचल के युवक हमेशा देश सेवा के लिए सेना में भर्ती होने को तत्पर रहते हैं क्योंकि देश सेवा का जज्बा उनमें कूट-कूट कर भरा है। पाकिस्तान ने जब 1947 में कश्मीर पर हमला किया तो हिमाचल के मेज़र सोमनाथ शर्मा ने महान शहादत दी थी। देश ने उसका सम्मान करते हुए उन्हें मरणोपरान्त पहला परमवीर चक्र प्रदान किया था। उसके बाद 1962 में चीन और 1965 और 1971 में पाकिस्तान के साथ हुए युद्ध में हिमाचल के सैनिकों से अनेक बलिदान दिए। कारगिल युद्ध में भी अद्भुत शौर्य के लिए हिमाचल के दो सैनिकों को परमवीर चक्र से सम्मानित किया गया था।

 उन्होंने कहा कि भाजपा शुरू से ही सैनिकां के बलिदानों का बहुत सम्मान करती है। प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने देश के इतिहास में पहली बार कारगिल के मोर्चे पर शहीद हुए सैनिकों को पूरे सम्मान के साथ अंतिम संस्कार के लिए उनके घर तक भिजवाने का प्रबंध किया था। उससे पहले कांग्रेस सरकारों के दौरान शहीद सैनिक की टोपी और बेल्ट ही उनके परिवार के पास भेजी जाती थी। शहीद सैनिकों के परिवारों को उनके अंतिम दर्शन से भी वंचित रखा जाता था।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज़ादी के बाद से सैनिक एक “वन रैंक-वन पेंशन” की मांग कर रहे थे। पिछले लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा ने पूर्व सैनिकों को से वादा किया था कि केंद्र में सरकार बनने के बाद उनकी मांग पूरी की जाएगी। मोदी सरकार ने अपना वादा पूरा कर दिखाया। अब जीतने के बाद हिमाचल के भाजपा सांसद केंद्र के साथ हिमाचल रेजिमेंट की मांग को पूरा कराने के लिए पुरजोर प्रयास करेंगे।  इससे हिमाचल के नौजवानों को सेना में भर्ती होने के ज्यादा मौके मिलेंगे। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा, हमीरपुर, बिलासपुर आदि जिलों के हजारों परिवार ऐसे हैं जिनका कोई न कोई सदस्य सेना में रहकर देश की सेवा कर रहा है। यहां पूर्व सैनिकों की संख्या भी बहुत अधिक है। उनके हितों के प्रति भी भाजपा संवेदनशील है।वर्तमान भाजपा प्रदेश का समान व संतुलित विकास सुनिश्चित कर  रही है और बिना किसी भेदभाव के विकास कार्यों को पूरा किया जा रहा है।  यह बात मुख्यमंत्री  जय राम ठाकुर ने आज मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत रामपुर विधानसभा क्षेत्र के ननखड़ी में आयोजित एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कही।

जयराम ठाकुर ने कहा कि भाजपा सरकार प्रदेश के चहुंमुखी विकास करवाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अपने एक वर्ष के कार्यकाल के दौरान प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों के लिए करोड़ों रूपये की सौगातें दी, बावजूद इसके प्रदेश कांग्रेस पार्टी के नेताओं को विकास दिखाई नहीं दे रहा है और वे अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि मंडी संसदीय क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी रामस्वरूप शर्मा ने बतौर सांसद क्षेत्र के लिए सराहनीय कार्य किए हैं। रामस्वरूप शर्मा ऐसे नेता हैं जो सादगी से जनता की सेवा करते हैं। मुख्यमंत्री ने स्थानीय जनता से आग्रह किया कि इस बार रामपुर क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रामस्वरूप शर्मा को ऐतिहासिक बढ़त दिलाएं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11  −  1  =