1 से 19 वर्ष के सभी स्कूली बच्चों को दी जाएगी एल्बेंडाजोल की खुराक

1 से 19 वर्ष के सभी स्कूली बच्चों को दी जाएगी एल्बेंडाजोल की खुराक

  • एक मई को सभी बच्चों को दी जाएगी एल्बेंडाजोल : डा. मित्तल
  • खून की कमी दूर करने के लिए एल्बेंडाजोल लेना करें सुनिश्चित : डा. नीरज मित्तल 

शिमला : मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. नीरज मित्तल ने आज यहां बताया कि 1मई, 2018 को राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर एक से उन्नीस वर्ष तक की आयु के सभी स्कूली बच्चों, किशोर व किशोरियों को कृमि मुक्ति करने के लिए एल्बेंडाजोल की खुराक दी जाएगी। इस दवा के सेवन से बच्चों में खून की कमी को दूर किया जा सकेगा।

उन्होंने बताया कि जिला के सभी आंगनबाड़ी केंद्रो तथा सरकारी व निजी स्कूलों के 2 लाख,17 हजार 962 बच्चों को यह दवा प्रशिक्षित शिक्षकों, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं तथा आशा वर्करों की निगरानी में दी जाएगी। एक से दो साल के बच्चों को इस दवा की आधी गोली तथा दो से 19 वर्ष तक के बच्चों को पूरी गोली दी जाएगी। गोली को पानी या किसी अन्य तरल पदार्थ  के बिना ही चबाकर खाना होगा। उन्होंने कहा कि देश में अनीमिया यानि खून की कमी से अधिकांश बच्चे ग्रसित है, जिसका मुख्य कारण बच्चों में पनपने वाले कृमि हैं। ये रोग बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास को बाधित करने के साथ उनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता को प्रभावित करता है।

डा. मित्तल ने सभी अभिभावकों से अनुरोध किया है कि वे एक मई को अपने बच्चों को एल्बेंडाजोल की खुराक दिलवाना सुनिश्चित करें ताकि बच्चों के पेट में कीड़े होने से उत्पन्न अनिमिया रोग से निजात दिलवाई जा सके।कृमि मुक्ति के लिए दी जाने वाली यह दवाई पूर्णतः सुरक्षित व कारगर है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *