सिरमौर जिला के लिए 73 करोड़ की 19 सड़क परियोजनाएं स्वीकृत

शिमला: सिरमौर जिला के लिए सरकार द्वारा 73 करोड़ की 19 सड़क परियोजनाऐं स्वीकृत की गई है जिनमें से 60 करोड़ की राशि 12 सड़कों के निर्माण और 13 करोड़ की राशि सात पुलों के निर्माण पर व्यय की जाएगी।

यह जानकारी मुख्य संसदीय सचिव लोक निर्माण विनय कुमार ने आज शिमला सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में सिरमौर जिला के लोक निर्माण अधिकारियों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। उन्होंने कहा कि सिरमौर जिला कीं 228 पंचायतों में से 226 पंचायतों के 731 गांव को सड़क सुविधा से जोड़ा दिया गया है, और शेष दो पंचायतें नावणी और पलहोड़ी को आगामी छः मास के भीतर जोड़ दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सिरमौर जिला में वर्तमान सरकार के कार्यकाल में सड़कों का जाल बिछाने को प्राथमिकता दी गई जिसके फलस्वरूप जहां लोगों को आवागमन की सुविधा मिली है वहीं पर विशेषकर किसानों को अपने उत्पाद मण्डियों पहुँचाने की सुविधा उपलब्ध हुई है ।

उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत सिरमौर जिला के लिए 239 करोड़ की 159 सड़क परियोजनाऐं स्वीकृत की गई है, जिनमें से 136 सड़क परियोजनाओं का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है जिस पर अभी तक 65 करोड़ की राशि व्यय की जा चुकी है। इसके अतिरिक्त नाबार्ड के तहत 227 करोड़ की 85 सड़क परियोजनाऐं स्वीकृत की गई है जिनमें से 56 सड़क परियोजनाओं का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है जिस पर अब तक 113 करोड़ की राशि व्यय की गई है। उन्होंने बताया कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में नाबार्ड के तहत 80 करोड़ की 19 सड़क परियोजनाऐं स्वीकृत हुई है।

विनय कुमार ने जानकारी दी कि गत तीन वर्षो के दौरान 113 किमी नई सड़को का निर्माण करके 11 गांव को सड़क सुविधा से जोड़ा गया। इसके अतिरिक्त 180 किमी लंबी सड़कों को पक्का, 242 किमी सड़कों में क्रॉस ड्रेनेज, 236 किमी लंबी सड़क में पुनः तारकोल बिछाया गया। इसके अतिरिक्त सात पुल और 75 सरकारी भवनो का निर्माण पूरा किया गया ।

सीपीएस ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि नई स्वीकृत की गई सड़क परियोजनाओं की टैंडर प्रक्रिया पूर्ण करके सड़कों का निर्माण कार्य आरंभ किया जाए, ताकि सिरमौर का कोई भी गांव सड़क सुविधा से वंचित न रहे । उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिला की सड़कों की मुरम्मत का कार्य युद्ध स्तर पर समयबद्ध किया जाए, ताकि लोगों को बेहतर सड़क सुविधा उपलब्ध हो सके।

इस अवसर पर मुख्य अभियंता लोक निर्माण, अधीक्षण अभियंता सिरमौर एनके विशिष्ट, अधीशाशी अभियंता अजय वर्मा, आरएस चंदेल पांवटा, अजय शर्मा राजगढ़, केएल चौधरी संगड़ाह और संदीप अधीशाशी अभियंता शिलाई सहित अन्य जिला के अधिकारियों ने भाग लिया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  +  77  =  86