बच्चों के आधार कार्ड बनाने के लिए स्थापित किए 53 केंद्र

बैंक व डाकघरों द्वारा बचत खातों के माध्यम से दी जाएगी सामाजिक सुरक्षा पेंशन

शिमला : सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तहत लाभार्थियों को बैंक व डाकघरों के माध्यम से पेंशन सुविधा उपलब्ध करवाने बारे आज यहां बैठक का आयोजन किया गया। अतिरिक्त उपायुक्त डी. के. रतन ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए अधिकारियों से कहा कि वह सरकार के निर्देशानुसार जिला के लगभग 42 हजार पेंशन धारकों को बैंक व पोस्ट ऑफिस के माध्यम से प्रत्यक्ष बैंक हस्तांतरण व आरटीजीएस सुविधा के द्वारा पेंशन प्रदान करने की संभावनाओं पर गंभीरता से कार्य करें।

उन्होंने कहा कि बैंक व डाकघर सभी पेंशनर्ज के खाते खुलवाने में अपना सहयोग दें। उन्होंने कहा कि पेंशनर्ज की अगली पेंशन खातों के माध्यम से लाभार्थियों को मिले, इसके लिए बैंक व डाकघर त्वरित कार्यवाही करें। उन्होंने तहसील कल्याण अधिकारियों को इस संदर्भ में अपने-अपने क्षेत्रों में बैंक व डाकघरों के सहयोग से जागरूकता शिविरों का आयोजन कर पेंशन धारकों को जागरूकता प्रदान करने व खाते खुलवाने व आधारकार्ड बनवाने के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिए।

डाक विभाग के अधिकारी योगेंद्र कंवर ने बताया कि विभाग के कर्मचारियों द्वारा विकलांग, वृद्ध व अन्य पेंशन धारकों के अधिकतर खाते खुलवाने के लिए घरद्वार पर जाकर सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि जिला कल्याण अधिकारी व तहसील कल्याण अधिकारी को पेंशन धारकों की नवीनतम स्थिति से भी अवगत करवाया जा रहा है। बैठक में जिला कल्याण अधिकारी ओंकार चंद के अतिरिक्त समस्त तहसील कल्याण अधिकारी व विभिन्न बैंकों से संबंधित अधिकारियों ने भाग लिया।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *