सड़कों व पुलों के स्तरोन्नत कार्यों को स्वीकृति, मुख्य सचिव बोले: कार्य प्राथमिकता के आधार पर हों पूरे

रोहतांग टनल व सिस्सू में खुलेंगे पर्यटक सुविधा केंद्र: डॉ. बाल्दी

रीना ठाकुर/शिमला: हिमाचल प्रदेश के महत्वपूर्ण पर्यटन परियोजनाओं की प्रगति की मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी ने आज यहां समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि पर्यटन परियोजनाएं राज्य सरकार की उच्च प्राथमिकताएं हैं, जिन्हें निर्धारित समय सीमा के भीतर पूरा किया जाए। संबंधित अधिकारियों ने राज्य में चल रही विभिन्न पर्यटन परियोजनाओं की प्रगति बारे मुख्य सचिव को अवगत करवाया।

डॉ. बाल्दी ने कहा कि राज्य सरकार ने जंजैहली क्षेत्र के विकास के लिए 18.18 करोड़ रुपये के विकास कार्य स्वीकृत किए हैं और नई राहें-नई मंजिलें योजना के तहत पौंग क्षेत्र के लिए  4.69 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की है। उन्होंने कहा कि सरकार ने गत वित्त वर्ष के दौरान लारजी जलाशय तथा जलक्रीडा गतिविधियों के लिए 3.72 करोड़ रुपये जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने पौंग क्षेत्र के विकास के लिए 6.59 करोड़ रुपये की परियोजनाएं स्वीकृत की हैं, जिसमें से जैटिज और हाऊस बोट की खरीद के लिए 55 लाख रुपये तथा पौंग डैम में इन्टरपटेशन केन्द्र के निर्माण के लिए 1.35 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं।

मुख्य सचिव ने कहा कि हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम द्वारा 100 करोड़ रुपये की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट अध्यात्मिक परिधि के लिए तैयार की गई है, जिसके लिए उन्होंने संबंधित अधिकारियों को भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय की जरूरत के अनुसार तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने बैठक में शिमला में बैंटनी कैसल के प्रगति कार्यों की समीक्षा भी की। उन्होंने रोहतांग टनल और सिसु में पर्यटन सुविधा केन्द्र के निर्माण के लिए उचित स्थान शीघ्र उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए।

डॉ. बाल्दी ने अधिकारियों से विविध एडवेंचर गतिविधि नियम के तहत ट्रैकिंग के लिए जाने वाले पर्यटकों का पंजीकरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए और अधिकृत एजेंसी द्वारा ट्रैंकिंग पर जाने वाले पर्यटकों की निगरानी के लिए प्राधिकृत एजेंसी को जीपीएस बैंड उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने विभिन्न रज्जू मार्गों के प्रगति कार्यों की भी समीक्षा की और संबंधित अधिकारियों को कार्य में गति लाने के निर्देश दिए।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *