शिमला शहर में यातायात प्रबंधन सुचारू बनाने को उपायुक्त शिमला के निर्देश....

शिमला शहर में यातायात प्रबंधन सुचारू बनाने को उपायुक्त शिमला के निर्देश….

अंबिका/शिमला: अमित कश्यप ने पुलिस अधीक्षक शिमला को दिए निर्देश; यातायात पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ाई जाए

  • शिमला शहर में वाहनों की संख्या में बढ़ोतरी होने तथा यातायात प्रबंधन को लेकर उपायुक्त शिमला ने की बैठक
  • सभी मार्गों पर विभिन्न निर्माण कार्यों के लिए रखी सामग्री तुरंत हटाएं

पर्यटन सीज़न में शिमला शहर में वाहनों की संख्या में चार से छः गुना बढ़ोतरी होने और इसके दृष्टिगत यातायात प्रबंधन को लेकर आज यहां उपायुक्त शिमला अमित कश्यप की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। अमित कश्यप ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि शिमला शहर में विशेषकर पर्यटन सीजन के दौरान यातायात को सुव्यवस्थित करना अत्यन्त आवश्यक है। उन्होंने कहा कि शिमला शहर में लगातार वाहनों की बढ़ती संख्या के कारण अनेक समस्याएं खड़ी हो रही हैं। पर्यटन सीजन में परिस्थिति और विकट हो जाती है, क्योंकि उस समय शहर में वाहनों की संख्या में लगभग चार से छः गुणा की बढ़ोतरी हो जाती है। इसके दृष्टिगत यह आवश्यक है कि जहां एक ओर यातायात को सुव्यवस्थित किया जाए, वहीं स्थानीय निवासियों एवं पर्यटकों को जागरूक किया जाए।

अमित कश्यप ने पुलिस अधीक्षक शिमला को निर्देश दिए कि पर्यटन सीजन को देखते हुए यातायात पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ाई जाए। उन्होंने कहा कि शोघी से लेकर ढली तक सभी प्रमुख मार्गों एवं स्थानों पर यातायात पुलिस कर्मी समुचित संख्या में तैनात किए जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि विक्ट्री टनल से टुटीकंडी बाईपास पर स्थित पार्किंग तक नियमित रूप से पुलिस के राईडर तैनात रहें। उन्होंने प्रातः और सांय स्कूल के समय में न्यू शिमला तक भी राईडर तैनात करने के निर्देश दिए।

उपायुक्त ने लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिए कि शोघी से लेकर ढली तक के सभी मार्गों पर विभिन्न निर्माण कार्यों के लिए रखी गई सामग्री को तुरंत हटाया जाए। उन्होंने कहा कि निर्माण सामग्री के कारण विभिन्न मार्गों पर यातायात प्रभावित हो रहा है। उन्होंने निर्देश दिए कि विभिन्न स्थानों पर सड़कों को चौड़ा करने के कार्य में तेजी लाई जाए। उन्होंने विभाग को निर्देश दिए कि विभिन्न मार्गों पर खड्डों को शीघ्र भरा जाए।

अमित कश्यप ने परिवहन विभाग एवं प्रदेश पथ परिवहन निगम को निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित बनाया जाए कि सभी निजी एवं सरकारी बसें निर्धारित बस ठहराव पर ही खड़ी हों। उन्होंने कहा कि ऐसा न करने वाले चालकों के विरूद्ध उचित कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने सभी बसों के नियमित मैकेनिकल जांच के निर्देश भी दिए।

उपायुक्त ने कहा कि चंडीगढ़ की ओर से ऊपरी शिमला की ओर जाने वाले सभी पर्यटक वाहनों को शोघी बाईपास से भेजा जाएगा। इसी प्रकार ढली की ओर से चंडीगढ़ सहित विभिन्न मैदानी क्षेत्रों की ओर जाने वाले वाहनों को ढली बाईपास से भेजा जाएगा। इस संबंध में उचित निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि सप्ताहांत शिमला शहर में पर्यटकों की संख्या में काफी बढ़ोतरी होती है। उन्होंने निर्देश दिए कि सप्ताहांत में पर्यटक वाहनों के लिए टुटीकंडी पार्किंग उपलब्ध रहेगी। पुलिस कर्मी इन वाहनों को टुटीकंडी पार्किंग में भेजना सुनिश्चित बनाएंगे। यहां से नियमित आधार में शिमला शहर के लिए परिवहन निगम की टैक्सी सेवा उपलब्ध रहेगी। उन्होंने कहा कि यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए विभिन्न मार्गों पर सड़क किनारे वाहनों को न खड़ा होने दिया जाए। वाहन केवल इस कार्य के लिए अधिसूचित मार्गों पर ही खड़े किये जा सकेंगे।

अमित कश्यप ने निर्देश दिए कि शिमला शहर में स्थित विभिन्न पार्किंग स्थानों की दरें प्रमुखता से दर्शाई जानी चाहिए, ताकि पर्यटकों को पार्किंग स्थान में जगह एवं दर की जानकारी मिल सके। उन्होंने कहा कि जानबूझकर पार्किंग फुल दर्शाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि शोघी-ढली सहित प्रमुख स्थानों पर बड़े आकार के दिशा सूचक एवं सूचनापट स्थापित किए जा रहे हैं, ताकि पर्यटकों को आसानी से जानकारी प्राप्त हो सके।

अमित कश्यप ने कहा कि शिमला शहर में यातायात प्रबंधन सुचारू बनाए रखने के लिए सतत प्रयास किए जा रहे हैं और विभिन्न विभागों के सहयोग से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि पर्यटकों एवं स्थानीय नागरिकों को किसी परेशानी का सामना न करना पड़े।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *