ताज़ा समाचार

बर्फबारी से निपटने को शिमला 5 सेक्टर में बंटा

शिमला में खिली धूप, सड़कों पर बर्फ जमने की वजह से फिसलन बढ़ी

वाहनों की आवाजाही भी अभी तक शुरू नहीं हो पाई है हालांकि जिला प्रशासन शुक्रवार रात से ही सड़कों पर से बर्फ हटाने के कार्य में लगा हुआ

शिमला: राजधानी शिमला में शनिवार को मौसम पूरी तरह से साफ है। लेकिन राजधानी शिमला में पिछले दो दिनों से बर्फबारी के कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सड़कों पर बर्फ जमने की वजह से फिसलन बढ़ गई है। वाहनों की आवाजाही भी अभी तक शुरू नहीं हो पाई है।हालांकि जिला प्रशासन शुक्रवार रात से ही सड़कों पर से बर्फ हटाने के कार्य में लगा हुआ है। नगर निगम शिमला की ओर से  सड़कों और रास्तों से बर्फ हटाने का कार्य किया जा रहा है। नगर निगम ने  100 से अधिक मजदूरों को शहर में बर्फ हटाने के लिए तैनात किया है। निगम के आयुक्त आशीष कोहली ने कहा कि शनिवार सुबह से ही सड़कों को खोलने का कार्य जारी है, लेकिन सड़कों पर फिसलन होने से अभी फिलहाल वाहनों की आवाजाही नहीं हो रही है।

वहीं, प्रदेश में अभी 3 एनएच सहित 754 सड़कें बंद हैं और 2442 ट्रांसफार्मर ठप पड़े हैं। सबसे ज्यादा सड़कें राजधानी शिमला में बंद पड़े हैं। यहां 303 सड़कें यातयात के लिए ठप हो गई है। सिरमौर में 12, सोलन में 10, मंडी में 100, लाहौल में 110, कुल्लू में 96, किन्नौर 26, चंबा में 88 सड़कें बंद पड़ी है। बर्फबारी का दौर थमते ही लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़कों को बहाल करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। विभाग की ओर से शनिवार सुबह से ही सड़कों से बर्फ हटाने के लिए मशीनें लगाई गई हैं। शिमला में बर्फ के कारण सड़कों पर फिसलन बढ़ गई, जिससे मशीनों को बर्फ हटाने में काफी मुश्किलें आ रही है।

सम्बंधित समाचार

Comments are closed