छुट्टी पर जब घर आए थे लांस नायक विवेक कुमार तो बोले थे:-बेटे का पहला जन्मदिन धूमधाम से मनाऊंगा

कांगड़ा: तमिलनाडु के किन्नूर में आर्मी हेलीकॉप्टर हादसे में हिमाचल प्रदेश के लांस नायक विवेक कुमार भी शहीद हो गये हैं। लांस नायक विवेक कुमार भी उन 13 लोगों में शामिल थे, जिनकी इस हादसे में मौत हो गई है। विवेक सीडीएस बिपिन रावत  के पीएसओ थे। उनके निधन पर मुख्यमंत्री  जयराम ठाकुर ने भी शोक जताया है।

विवेक कुमार, कांगड़ा जिले के जयसिंहपुर स्थित कोसरी क्षेत्र के ठेहडू गांव के रहने वाले थे।जानकारी अनुसार बुधवार करीब शाम 4 बजे फोन कॉल के जरिये सेना ने लांस नायक विवेक कुमार के पारिवारिक सदस्यों ब्यौरा पूछा था। इसके अलावा, कोई जानकारी नहीं दी गई थी।उन्होंने बताया कि विवेक कुमार के घर में बुजुर्ग माता-पिता, उनकी धर्मपत्नी और एक बेटा है। दो साल पहले ही शादी हुई थी।

विवेक कुमार के पिता खेतीबाड़ी करते हैं। ससुराल कोसरी गांव में ही हैं। बारहवीं की शिक्षा प्राप्त करने के बाद वह जैक राइफल में भर्ती हुए थे।

तमिलनाडु में हेलिकॉप्टर क्रैश होने से हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र के रहने वाले विवेक कुमार की अपने बेटे का पहला जन्मदिन मनाने की तमन्ना अधूरी रह गई।  चचेरे भाई सुरजीत कुमार ने बताया कि विवेक कुमार चार माह पहले करीब डेढ़ महीने की छुट्टी लेकर अपने पैतृक गांव आए थे।

विवेक कुमार अपने बेटे के जन्म के दौरान छुट्टी लेकर घर आए थे। इस दौरान बेटे के जन्म पर वह कोई बड़ा कार्यक्रम नहीं कर पाए थे। उन्होंने अपने परिवार से कहा था कि जब उनका बेटा एक साल का हो जाएगा तो उसका पहला जन्मदिन वह धूमधाम से मनाएंगे। बेटे के पहले जन्मदिन पर बड़ा कार्यक्रम करेंगे, लेकिन विवेक की यह तमन्ना अधूरी रह गई।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

21  −  15  =