शूलिनी विवि में इन-विट्रो परीक्षण के लिए लैब का उद्घाटन

  • प्रयोगशाला का उद्घाटन कुलाधिपति प्रो. पीके खोसला व कुलपति प्रो. अतुल खोसला ने किया 

  • योगशाला विभिन्न कैंसर सेल लाइनों जैसे BT549, MCF7, SF295 HT29 ACHN K562, और PC3 पर यौगिकों के इन-विट्रो परीक्षण पर आधारित

सोलन: स्कूल ऑफ फार्मास्युटिकल साइंसेज, शूलिनी विश्वविद्यालय ने मनुष्यों में कई प्रकार के कैंसर की समस्या का समाधान करने के लिए इन-विट्रो परीक्षण सुविधा विकसित की है।
प्रयोगशाला का उद्घाटन आज परिसर में एक समारोह में कुलाधिपति प्रो. पीके खोसला और कुलपति प्रो. अतुल खोसला द्वारा किया गया।

प्रयोगशाला का उद्घाटन कुलाधिपति प्रो. पीके खोसला व कुलपति प्रो. अतुल खोसला ने किया

यह सुविधा डीन, स्कूल ऑफ फार्मास्युटिकल साइंसेज, डॉ. दीपक कपूर और एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. गुरजोत कौर के मार्गदर्शन में स्थापित की गई है। इस अवसर पर डीन, फैकल्टी, रिसर्च स्कॉलर और स्टाफ सदस्य भी  उपस्थित थे।

डॉ. कौर ने कहा कि यह प्रयोगशाला विभिन्न कैंसर सेल लाइनों जैसे BT549, MCF7, SF295 HT29 ACHN K562, और PC3 पर यौगिकों के इन-विट्रो परीक्षण पर आधारित है और यह सुविधा फार्मास्युटिकल साइंसेज, बायोटेक्नोलॉजी, विज्ञान, रसायन विज्ञान, रासायनिक यौगिकों की साइटोटोक्सिसिटी प्रोफ़ाइल और कैंसर विरोधी क्षमता की पहचान करने के लिए सहायक होगी। इस अवसर पर कुलाधिपति और कुलपति ने डीन और फैकल्टी सदस्यों को बधाई दी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

46  +    =  53