पंजाब के पूर्व डीजीपी ने बिना पास की हिमाचल में प्रवेश की कोशिश, एसपी बिलासपुर ने भेजा वापस

पंजाब के पूर्व डीजीपी ने बिना पास की हिमाचल में प्रवेश की कोशिश, एसपी बिलासपुर ने भेजा वापस

हिमाचल: पंजाब के पूर्व पुलिस महानिदेशक सुमेध सिंह सैनी अपने कुछ साथियों को लेकर बगैर किसी पास परमिट के हिमाचल की सीमा में आने की कोशिश कर रहे रहे थे। यहाँ तक की उनके द्वारा खुद के पूर्व पुलिस महानिदेशक होने का हवाला देकर पहले नाके पर तैनात पुलिस कर्मियों को भीतर जाने के लिए दबाव बनाया। लेकिन जब पुलिसकर्मी नहीं माने तो सुमेध सिंह सैनी ने बिलासपुर के पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा को भी फोन कर दिया। उन्होंने एसपी ने कहा कि उन्हें मंडी जिले के करसोग क्षेत्र में जाना है और उन्हें जाने दिया जाए।

लेकिन एसपी बिलासपुर दिवाकर शर्मा ने उन्हें नियमों का हवाला देकर स्पष्ट इनकार कर दिया कि उन्हें हिमाचल की सीमा में प्रवेश नहीं दिया जा सकता है। सैनी अपने साथियों के साथ सुबह 4:00 बजे के करीब पंजाब और हिमाचल की सीमा पर स्थित स्वारघाट क्षेत्र में पुलिस नाके पर पहुंचे थे। वे करीब दो घंटे तक भीतर जाने के लिए अपने तमाम रुतबे और तालुकात का हवाला देकर करसोग जाने के लिए कहते रहे। लेकिन एसपी ने उन्हें किसी भी सूरत में हिमाचल की सीमा में प्रवेश से मना कर दिया। इसके बाद सुमेध सिंह सैनी अपने मित्रों के साथ ही वापस पंजाब की ओर लौट गए।

एसपी दिवाकर शर्मा ने कहा वह हिमाचल को कोरोना वायरस से बचाने के लिए तय किए गए नियमों के अनुरूप अतिक्रमण की किसी को भी इजाजत नहीं देंगे। स्वारघाट बैरियर पर अगर जरा सी चूक हो जाए तो कोरोना महामारी से न सिर्फ बिलासपुर बल्कि नेशनल हाईवे चंडीगढ़-मनाली पर पड़ने वाले तमाम जिलों में संक्रमण बुरी तरह से असर दिखा सकता है। ऐसे में उन्होंने शुरू से ही इस मामले में किसी भी पद और ओहदे को दरकिनार कर नियमों का कड़ाई से पालन करवाने के निर्देश दे रखे हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *