वीरभद्र सरकार प्रो. धूमल के विरूद्ध झूठे केस घड़ने में करती रही सारा समय बर्बाद : गणेश दत

 हिमाचल प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के उपाध्यक्ष गणेश दत

हिमाचल प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के उपाध्यक्ष गणेश दत

शिमला: हिमाचल प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के उपाध्यक्ष गणेश दत ने प्रदेश की वीरभद्र सरकार पर आरोप लगाया कि उसका ध्यान विकास पर शून्य और अपने विपक्षी नेताओं के विरूद्ध षड़यंत्र करने का अधिक है। भाजपा उपाध्यक्ष ने कहा कि वीरभद्र सरकार पूरे 50 महीने अपने विरोधी खासकर पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल के विरूद्ध झूठे केस घड़ने में सारा समय बर्बाद करती रही। अब कुछ हाथ नहीं लगा तो पंजाब के मुख्यमंत्री को विजिलैंस के माध्यम से पूर्व मुख्यमंत्री की सम्पति की जानकारी देने को कहा है।

पार्टी उपाध्यक्ष ने कहा कि 2003 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अमरेन्द्र सिंह ने प्रो. धूमल के विरूद्ध झूठे आरोप लगाये थे तथा बाद में उन्हें न्यायालय में समझौता कर उनसे माफी मांगनी पड़ी थी। यहीं नहीं प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने प्रदेश सरकार की कीचड़ उछालो राजनीति से तंग आकर प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर सारे देश में उनकी सम्पति की जांच करने की मांग कर डाली थी।

प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष ने कहा कि वास्तव में कांग्रेस सरकार के पास कोई मुद्दा नहीं है तथा कांग्रेसी नेताओं को पता है कि विधान सभा चुनाव में उनकी नैया डूबने वाली है और सारे प्रदेश में कांग्रेस का सूपड़ा साफ होने वाला है। इसलिए अब कांग्रेस सरकार भाजपा नेताओं पर मनघडंत आरोप लगाकर जनता में एक गलत संदेश देने का प्रयास कर रही है। भाजपा उपाध्यक्ष ने कहा कि अच्छा होता प्रदेश की वीरभद्र सरकार जाते-2 कुछ अच्छा काम करती जिससे जनता में एक अच्छा संदेश जाता लेकिन मुख्यमंत्री व सरकार का रवैया बदले की भावना से काम करने का है।

भारतीय जनता पार्टी उपाध्यक्ष ने कहा कि इस समय प्रदेश में चारों ओर अराजकता का वातावरण फैला हुआ है। पता ही नहीं चल रहा है कि सरकार कौन चला रहा है । ईमानदार अधिकारी खुड्डे लाईन लगे हैं तथा भ्रष्ट एवं चमचागिरी करने वाले अधिकारी सरकार के खेवैया बने हुए हैं।  पार्टी ने कहा कि जिस प्रकार माफिया हटाओ प्रदेश बचाओ अभियान में जनसमर्थन मिल रहा है उससे कांग्रेस सरकार सकते में आ गयी है और सरकार के दिन अब गिनती के ही रह गये हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

54  +    =  59