प्रदेशभर में धूमधाम के साथ मनाया गया 67वां गणतंत्र दिवस

  • शिमला में राज्यपाल ने राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया राष्ट्रीय ध्वज

शिमला: 67वां गणतंत्र दिवस समूचे प्रदेश में धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर राज्य, ज़िला तथा उपमंडल स्तर पर समारोह आयोजित किए गए, जिनमें ध्वजारोहण, भव्य मार्च-पास्ट और सांस्कृतिक प्रस्तुतियां आकर्षण का केन्द्र रहीं। राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने ऐतिहासिक रिज़ मैदान शिमला में आयोजित राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और मार्च-पास्ट की सलामी ली।

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और उनकी धर्मपत्नी एवं पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह, विधायक मोहन लाल बराक्टा, योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष गंगू राम मुसाफिर, हिमाचल प्रदेश वूल फेडरेशन के अध्यक्ष रघुवीर ठाकुर, हि.प्र. वन विकास निगम के उपाध्यक्ष केवल सिंह पठानिया, शिमला नगर निगम के महापौर संजय चौहान, उप-महापौर टिकेन्द्र पंवर, मुख्य सचिव पी. मित्रा, पुलिस महानिदेशक संजय कुमार, सेना और राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी तथा शहर के गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे। इस अवसर पर सेना, पुलिस, भारत तिब्बत सीमा पुलिस, एस.एस.बी. गृह रक्षक, एनसीसी, एनएसएस और पूर्व सैनिकों ने शानदार मार्च-पास्ट प्रस्तुत किया। डोगरा रेजिमेंट के कैप्टन गौरव कुमार ने परेड का नेतृत्व किया।

राज्य सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा इस मौके पर प्रदेश के चहूंमुखी विकास को प्रदर्शित करती झांकियां और पड़ौसी राज्यों व प्रदेश के विभिन्न जिलों के नोक नृत्य दलों द्वारा प्रस्तुत रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम के मुख्य आकर्षणों में रहे।

  •  ज़िला सिरमौर में हिमाचल प्रदेश विधानसभा ने की अध्यक्ष समारोह की अध्यक्षता

हिमाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष बृज बिहारी लाल बुटेल ने नाहन में आयोजित जिला स्तरीय गणतन्त्र दिवस समारोह की अध्यक्षता की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश अन्तर्राट्रीय मानचित्र पर पहाडी राज्यों के लिये विकास का आदर्श बनकर उभरा है। वर्तमान प्रदेश सरकार ने गत तीन वर्षों के दौरान सभी वायदे पूरे किये हैं और इस दौरान विकास के अनेक आयाम स्थापित किए हैं।

उन्होंने कहा कि सिरमौर जिले में गत तीन वर्षों के दौरान अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने जिला प्रशासन को डिजीटल इण्डिया वीक के अन्तर्गत उत्कृष्ट कार्यों के लिये प्रथम पुरस्कार प्राप्त करने पर बधाई देते हुए कहा कि जिले के लिये भारतीय प्रबन्धन संस्थान स्वीकृत किया गया है और जिला मुख्यालय में मेडिकल कालेज आरम्भ किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने शिलाई में एसडीएम कार्यालय खोला है और जिले के लोगों की सुविधा के लिये नई तहसीलों एवं उप-तहसीलों का सृजन किया है। बुटेल ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया इससे पूर्व, उन्होंने शहीद स्मारक पर शहीदों को श्रद्धाजंलि अर्पित की। विधायक किरणेश जंग, राज्य रोजगार एवं संसाधन सृजन बोर्ड के अध्यक्ष हर्षबर्धन चौहान, राज्य सामाजिक कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष सत्या परमार, पूर्व विधायक कुश परमार, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय सोलंकी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

  •  कौल सिंह ने जिला कांगड़ा में किया ध्वजारोहण

जिला स्तरीय गणतन्त्र दिवस समारोह पुलिस मैदान धर्मशाला में आयोजित किया गया जिसकी अध्यक्षता स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने की। ठाकुर ने अपने सम्बोधन में स्वतन्त्रता सेनानियों और वीर जवानों, जिन्होंने देश की आजादी के लिये सर्वोपरी बलिदान दिया, के अमूल्य योगदान का स्मरण किया। उन्होंने देश के संविधान निर्माताओं की सेवाओं को भी याद किया। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ कर रही है और शीघ्र की प्रदेश में तीन नये मेडिकल कालेज खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि पिछले तीन वर्षों के दौरान राज्य में 110 नये स्वास्थ्य संस्थान खोलने के साथ-साथ चिकित्सकों के 600 पद भरे गए हैं। आईजीएमसी शिमला में 90 करोड़ की राशि व्यय कर केंसर यूनिट का सुदृढ़ीकरण किया जा रहा है और केएनएच शिमला का नया भवन निर्माणाधीन है। उन्होंने कहा कि टाण्डा मेडिकल कालेज को सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल विकसित करने पर 150 करोड़ रूपये खर्च किये जा रहे हैं और मण्डी में एक अन्य मातृ-शिशु चिकित्सा अस्पताल स्थापित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले तीन वर्षों के दौरान राज्य में 22 नई उप तहसीलें और आठ नये उप मण्डल खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार स्वतन्त्रता सेनानियों एवं उनके आश्रितों के कल्याण के प्रति वचनबद्ध है, और स्वतन्त्रता सेनानियों के मानदेय में वृद्धि की गई है।

ठाकुर ने जिला रेड क्रॉस समिति की ओर से विशेष रूप से सक्षम व्यक्तियों को उपकरण वितरित किये। उन्होंने मार्च पास्ट में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली टुकड़ियों तथा पंचायती राज चुनावों में उत्कृष्ट कार्य के लिये अधिकारियों व कर्मचारियों को पुरस्कृत किया। उन्होंने पुलिस विभाग और 108 आपातकालीन सेवा के अन्तर्गत उत्कृष्ट कार्य के लिये कर्मचारियों को भी सम्मानित किया। मुख्य संसदीय सचिव नीरज भारती और जगजीवन पाल, विधायक अजय महाजन, निर्वासित तिब्बती सरकार के प्रधानमंत्री डा. लोबसंग सांगे, स्वास्थ्य मंत्री सारिंग वांगचुक तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

  •  सोलन में बाली ने की ज़िला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, परिवहन तथा तकनीकी शिक्षा मंत्री जी.एस. बाली ने ऐतिहासिक ठोडो मैदान में आयोजित ज़िला स्तरीय समारोह की अध्यक्षता की। उन्होंने राष्ट्रीय ध्वज फहराया तथा पुलिस, गृह रक्षा, एनसीसी एवं स्कूली छात्रों द्वारा आयोजित भव्य मार्च पास्ट की सलामी ली। पुलिस उप निरीक्षक दलीप कुमार ने परेड का नेतृत्व किया।

इस अवसर पर बाली ने कहा कि प्रदेश के 17 से अधिक बस अड्डों पर शीघ्र ही सीसीटीवी कैमरे स्थापित किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए 300 नई बसें खरीदी जाएगी। शीघ्र ही सोलन से नौणी और सोलन शहर के भीतर मुद्रिका बस सेवा आरंभ की जाएगी। उन्होंने सोलन शहर और क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में हिमाचल प्रदेश पथ परिवहन निगम की टैक्सी सेवा आरंभ करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के सभी राशन कार्ड धारकों को सस्ती दरों पर तीन दालें, खाद्य तेल व नमक उपलब्ध करवा रही है। उन्होंने कहा कि सोलन ज़िले के राशन कार्ड धारकों को 13.19 लाख क्विंटल खाद्य वस्तुएं अनुदान दरों पर उपलब्ध करवाई जा रही है। ज़िले के 3 लाख 9 हजार 678 लोग राजीव गांधी अन्न योजना के अंतर्गत लाभान्वित हो रहे हैं। उन्होंने पंचायत प्रधानों व अन्य लोगों को उत्कृष्ट सेवाओं के लिए सम्मानित किया। इससे पूर्व, उन्होंने चम्बाघाट स्थित शहीद स्मारक पर शहीदों को श्रद्धाजलि अर्पित की।

  •  सुजान सिंह पठानिया ने की चम्बा में ज़िला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह की अध्यक्षता

बहुउद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री सुजान सिंह पठानिया ने चम्बा में ज़िला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह की अध्यक्षता की। अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा कि राज्य के घरेलू उपभोक्ताओं को सस्ती दरों पर बिजली उपलब्ध करवाने पर सरकार 996 करोड़ रुपये का अनुदान प्रदान कर रही है। उन्होंने कहा कि सभी उपभोक्ताओं को सस्ती दरों पर एलईडी बल्ब प्रदान किये जा रहे हैं तथा यह योजना ऊर्जा संरक्षण में मद्दगार होगी। उन्होंने मार्च पास्ट प्रस्तुत करने वाली टुकड़ियों और कैडिटों, पुलिस जवानों तथा अच्छी सेवाएं प्रदान करने के लिए 108 ऐम्बूलैंस स्टाफ को पुरस्कार प्रदान किये। विधायक वी.के. चौहान, पूर्व विधायक सुरेन्द्र भारद्वाज भी अन्यों सहित इस अवसर पर उपस्थित थे।

  •  ठाकुर सिंह भरमौरी ने बिलासपुर में की ज़िला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह की अध्यक्षता

वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने बिलासपुर में ज़िला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह की अध्यक्षता की। भरमौरी ने इस अवसर पर देश के लिए अपने प्राणों को न्योच्छावर करने वाले वीर जवानों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने शिशु लिंग दर में सुधार के उद्देश्य से शुरू की गई योजना के लिए बिलासपुर ज़िला प्रशासन को बधाई देते हुए कहा कि यह एक बेहतरीन योजना है, जो लिंग अनुपात में सुधार लाने में मद्दगार होगी। उन्होंने कहा कि बिलासपुर ज़िले के लिए चालू वित्त वर्ष के दौरान 381.16 हेक्टेयर क्षेत्र में पौध रोपण करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए 5.5 करोड़ रुपये की लागत से लुहणू कहलूर परिसर में एक सिंथेटिक ट्रैक विकसित किया जा रहा है। भरमौरी ने बिलासपुर ज़िले की टीहरा सूरंग में फंसे दो मज़दूरों को बचाने वाली टीम के सदस्यों को सम्मानित किया।

  •  मुकेश अग्निहोत्री ने हमीरपुर में किया ध्वजारोहण

उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने हमीरपुर में ध्वजारोहण किया। उन्होंने पुलिस, होमगार्ड व विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत मार्च-पास्ट की सलामी ली। मंत्री ने इस अवसर पर स्वतंत्रता सेनानियों व राष्ट्र निर्माताओं को श्रद्धांजलि अर्पित की। अग्निहोत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह के कुशल नेतृत्व में राज्य के लोगों का सामाजिक-आर्थिक उत्थान सुनिश्चित हुआ है। उन्होंने कहा कि पात्र युवाओं को लाभान्वित करने के लिए कौशल विकास योजना आरंभ की गई है, जिसके तहत अब तक 1,07,887 युवा लाभान्वित हुए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक क्षेत्र को बढ़ावा देने के प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य सरकार ने स्टॉम्प डियूटी को कम किया है और भूमि उपयोग में बदलाव के लिए, लिए जाने वाले शुल्क को 50 प्रतिशत कम किया है ताकि और अधिक उद्यमी आकर्षित किये जा सकें।

अग्निहोत्री ने कहा कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में हमीरपुर ज़िला में तीन औद्योगिक क्षेत्र स्थापित किये गये तथा एक और औद्योगिक क्षेत्र खे लोखरियां में स्थापित किया जा रहा है। ज़िले में एक मेडिकल कॉलेज स्थापित किया जा रहा है और ज़िले के लोगों की सुविधा के लिए विभिन्न स्वास्थ्य संस्थान स्तरोन्नत किए गए हैं। मंत्री ने इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कार भी वितरित किये। मुख्य संसदीय सचिव आई.डी. लखनपाल, कांगड़ा केन्द्रीय सहकारी बैंक के उपाध्यक्ष कुलदीप पठानिया, एपीएमसी के अध्यक्ष प्रेम कौशल, पूर्व विधायक मनजीत सिंह डोगरा, ज़िला कांग्रेस अध्यक्ष नरेश ठाकुर व अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

  •  प्रकाश चौधरी ने ऊना में किया ध्वजारोहण

आबकारी एवं कराधान मंत्री प्रकाश चौधरी ने ऊना में ध्वजारोहण किया तथा मार्च पास्ट की सलामी ली। इस अवसर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कल्याणकारी नीतियों एवं कार्यक्रमों के माध्यम से समाज के प्रत्येक वर्ग को राहत दी है। उन्होंने कहा कि पिछले तीन वर्षों के दौरान ऊना ज़िले में स्वां नदी तटीकरण, आईआईआईटी का निमार्ण और नये औद्योगिक क्षेत्र के विकास सहित अनेक विकासात्मक परियोजनाएं कार्यान्वित की गई है। उन्होंने कहा कि 500 करोड़ रुपये की लागत से राज्य का पहला भारतीय तेल डिपो ऊना ज़िले के लिए स्वीकृत किया गया है तथा सलोह में केन्द्रीय विद्यालय खोला गया है। उन्होंने कहा कि ज़िले में कुल 731 गांवों में से 639 गांवों को सम्पर्क सड़कों से जोड़ा गया है, जबकि 234 पंचायतों को खुला शौच मुक्त घोषित किया गया है।

उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालों को सम्मानित किया। उन्होंने इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले दलों को भी सम्मानित किया।

  •  ज़िला किन्नौर में डॉ. शांडिल ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया

गणतंत्र दिवस समारोह ज़िला मुख्यालय रिकांगपिओ में बड़ी धूमधाम से मनाया गया, जहां बड़ी संख्या में पारम्परिक परिधानों में लोगों ने भाग लिया। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. कर्नल धनीराम शांडिल ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया तथा आईटीबीपी राज्य पुलिस और गृह रक्षक टुकड़ियों द्वारा प्रस्तुत शानदार मार्च-पास्ट की सलामी ली।

मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन 450 रुपये से बढ़ाकर 600 रुपये प्रति माह की है तथा 80 वर्ष की आयु से अधिक के लोगों से यह पेंशन 1100 रुपये प्रतिमाह प्रदान की जा रही है। किन्नौर ज़िले की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि ज़िले में 4364 व्यक्तियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान करने पर 6.51 करोड़ रुपये खर्च किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आवासीय अनुदान के अंतर्गत ग़रीब व्यक्तियों को नया घर बनाने के लिए 75,000 रुपये, जबकि मुरम्मत के लिए 25,000 रुपये की सहायता प्रदान की जा रही है।

डॉ. शांडिल ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने के लिए डाईट और आईटीआई रिकांगपिओं प्रत्येक को 10 हजार रुपये की राशि तथा आलमा कम्प्यूटर सेंटर रिकांगपिओ और आईसीडीएस ब्रेलंगी प्रत्येक को 5 हजार रुपये की राशि प्रदान करने की घोषणा की।

  •  अनिल शर्मा ने कुल्लू में तिरंगा फहराया

ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा ने कुल्लू में तिरंगा फहराया और भव्य परेड की सलामी ली। परेड में राज्य पुलिस, भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस, एसएसबी, महिला पुलिस, होमगार्ड, एनसीसी, एनएसएस, स्काऊट एवं गाईड की टुकड़ियों ने भाग लिया। शर्मा ने इस अवसर पर लोगों को बधाई देते हुए कहा कि गत तीन वर्षों के दौरान प्रदेश के सभी क्षेत्रों का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित हुआ है। उन्होंने कहा कि गत तीन वर्षों के दौरान प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में 994 स्कूल खोले व स्तरोन्नत किए गए हैं। इसके अतिरिक्त 25 से अधिक डिग्री कॉलेज भी खोले गये हैं।

मंत्री ने इस अवसर पर प्रतिभावान छात्रों व विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले लोगों को पुरस्कार वितरित किये। विधायक महेश्वर सिंह और रवि ठाकुर, पूर्व मंत्री सत्य प्रकाश ठाकुर व अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।

  •  ज़िला मंडी में कर्ण सिंह ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया

आयुर्वेद एवं सहकारिता मंत्री कर्ण सिंह ने मंडी के सेरी मंच में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस अवसर पर उन्होंने महिलाओं एवं युवाओं से सहकारी क्षेत्र जैसे हस्तशिल्प एवं हथकरघा इत्यादि में अपना योगदान देने के लिए आगे आने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि सरकार स्वरोज़गार आरंभ करने के लिए हर संभव सहायता उपलब्ध करवाएगी। उन्होंने कहा कि मंडी ज़िला में 581 सहकारी समितियां कार्यरत हैं, जिनमें 273 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है और इनके 2 लाख से अधिक लोग सदस्य हैं। उन्होंने कहा कि आयुर्वेदिक विभाग प्रदेश के लोगों को गुणात्मक स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवा रहा है और विभिन्न श्रेणियों के पदों को भरने को सर्वोंच्च प्राथमिकता प्रदान की जा रही है।

  •  लाहौल-स्पीति में हल्की बर्फबारी के बीच उपायुक्त ने फहराया राष्ट्रीय ध्वज

ज़िला लाहौल-स्पीति के मुख्यालय केलंग में गणतंत्र दिवस हल्की बर्फबारी के बीच धूमधाम से मनाया गया। उपायुक्त हंसराज चौहान ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और मार्च-पास्ट की सलामी ली। उन्होंने कहा कि ज़िले में इस वर्ष जनजातीय उप योजना के अंतर्गत विभिन्न विकासात्मक गतिविधियों पर 46 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि लाहौल मंडल में सड़कों, पुलों व भवनों के निर्माण पर 18.12 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *