ब्लॉग

शिमला: 21 जून को नवबहार और आस-पास के क्षेत्र की बिजली रहेगी बंद

शिमला: 21 जून को नवबहार और आस-पास के क्षेत्र की बिजली रहेगी बंद

शिमला: हिमाचल प्रदेश राज्य बिजली बोर्ड लिमिटेड के संयुक्त निदेशक (लोक सम्पर्क) अनुराग पराशर ने जानकारी दी है कि 11 केवी एचटी फलावरडेल फीडर के आवश्यक मुरम्मत कार्य के कारण 21 जून  को प्रातः 10.00 बजे से सांय 5.00 बजे तक बागवानी कार्यालय नवबहार और आस-पास क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति प्रभावित रहेगी। बोर्ड लिमिटेड ने उपभोक्ताओं से सहयोग की अपील की है।

कृषि विभाग का चालू खरीफ में 9.17 लाख टन खाद्यान्न उत्पादन का लक्ष्य

कृषि विभाग का चालू खरीफ में 9.17 लाख टन खाद्यान्न उत्पादन का लक्ष्य

शिमला: कृषि उत्पादन कार्यक्रम के अन्तर्गत कृषि विभाग ने चालू खरीफ मौसम में 9.17 लाख टन खाद्यान्न उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया है, जिसमें मक्की 7.60 लाख टन व धान 1.34 लाख टन उत्पादन का लक्ष्य है। इसके अतिरिक्त तिलहन 4.25 हजार टन, आलू 1.57 लाख टन, अदरक 34.0 हजार टन व सब्जी 9.94 लाख टन का उत्पादन लक्ष्य निर्धारित किया गया हैं। यह जानकारी कृषि निदेशक डॉ. राजेन्द्र कुमार वर्मा ने दी।

डॉ.  राजेन्द्र कुमार वर्मा ने बताया कि निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने के लिए कृषि सामग्री के समुचित व व्यापक प्रबन्ध किए गये हैं, जिनके अन्तर्गत 25,600 क्विंटल उन्नत बीज, 21,000 टन खादें {तत्वों के रूप में}, 100 क्विंटल जीवाणु खादें, 70 टन दवाईयां व 80,000 सुधरे औजार किसानों को उपलब्ध करवाये जा रहे हैं। इसके साथ किसानों को खाद्यान्न, दलहन, तिलहन व सब्जी के बीज व कीटनाषक दवाईयों, पौध संरक्षण उपकरणों पर उपदान दिया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि राज्य के किसानों को उच्च गुणवत्ता की कृषि सामग्री उपलब्ध करवाने के उद्देष्य से चालू खरीफ में 1000 खाद के नमूने, 150 कीटनाषकों के नमूने व 350 बीज के नमूने लिए जायेंगे व उनकी जांच की जायेगी। इसके अतिरिक्त किसानों को मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड वितरित करने हेतु एक नवीन योजना आरम्भ की है जिसके अन्तर्गत के आधार पर किसानों के खेतों से मिट्टी के नमूने लिए जाएंगे तथा उनका परीक्षण सभी पोषक तत्वों के लिए विभाग की मिट्टी परीक्षण प्रयोगशालाओं में किया जायेगा।   

 डॉ. राजेन्द्र कुमार वर्मा ने कहा कि प्रदेश की बढ़ती हुई जनसंख्या को भोजन उपलब्ध करवाने के लिये यह आवश्यक है कि अधिक से अधिक खाद्यान्न उत्पादन किया जाए। प्रदेश में अधिकतर किसान लघु एवं सीमान्त है इसके लिए विभाग द्वारा इन्हें बे-मौसमी सब्जी उत्पादन के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है ताकि पर्याप्त आय अर्जित करके परिवार का सही ढंग से पालन पोषण कर सकें। विभाग द्वारा निर्धारित उत्पादन सम्बन्धी लक्ष्यों को पूरा करने के प्रयास किये जा रहे हैं।

 डॉ. राजेन्द्र कुमार वर्मा ने कहा कि खरीफ फसलों का उत्पादन मानसून पर निर्भर करता है, जिसके कारण वर्ष दर वर्ष उत्पादन में उतार चढ़ाव आता रहता है। खरीफ फसलों  में खरपतवार, कीट एवं रोग का प्रकोप भी अधिक रहता है। उचित फसल प्रबन्धन से खरीफ फसलों का अधिक उत्पादन लिया जा सकता है। इसके लिए खेत की तैयारी से लेकर फसल की कटाई तक विषेष सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। फसलों एवं किस्मों का चुनाव, क्षेत्र विषेष की जलवायु, मृदा की दषा, पानी की उपलब्धता आदि पर ध्यान रखते हुये किया जाना चाहिये। अच्छी उत्पादकता प्राप्त करने के लिये अच्छी गुणवत्ता का बीज अत्यन्त आवष्यक है। फसलों का प्रमाणित बीज विष्वसनीय सरकारी संस्था या अन्य से खरीदना चाहिए। बीजों को बुवाई से पूर्व उपचारित करने से अधिक उपज प्राप्त होती है तथा बीमारियों से भी बचाव होता है।

उन्होंने किसानों का आह्वान किया कि वे कृषि सम्बन्धी जानकारी व सरकार द्वारा चलाई जा रही कृषि योजनाओं का विभाग के माध्यम से अधिक से अधिक लाभ लें।

पावंटा: तिब्बती मार्केट में भड़की आग, कई दुकानें स्वाह

पावंटा: तिब्बती मार्केट में भड़की आग, कई दुकानें स्वाह

डॉ. प्रखर गुप्ता/पावंटा साहिब: पांवटा साहिब के तिब्बती मार्केट मे आग लगने की घटना सामने आई है। जानकारी अनुसार मुताबिक दोपहर लगभग 1 बजे अचानक तिब्बती मार्केट में आग फैल गयी। इसकी चपेट में आधा दर्जन के करीब दुकानें आ गई। अपनी जान की परवाह न करते हुए हेमकुंड यात्रा पर जा रहे सिख समुदाय के कुछ लोगों ने आग पर काबू पाने के लिए मदद की।  सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंच गई और आग पर थोड़ी देर में काबू पा लिया। किसी भी प्रकार के जान माल का नुकसान नहीं हुआ है।

इस बारे में दुकान मालिक फांगचू ने बताया कि तिब्बती मार्किट में पी डब्ल्यू डी के विश्राम गृह में पीछे के किसी कर्मचारी ने कचरे में आग लगाई थी धीरे-धीरे यह आग भड़क गई और उनकी चार दुकानों में भी फैल गयी।  उन्होंने कहा कि PWD अधिकारियों को शिकायत की जाएगी। वहीं इस बारे में फायर ब्रिगेड, के इंचार्ज उपेन्द्र सिंह ने बताया कि आग पर काबू पा लिया गया है एव कारण की जांच की जा रही है।

हिमाचल: प्रदेश के कुछ स्थानों में कल मौसम बिगड़ने के आसार

हिमाचल: कुछ स्थानों में कल मौसम बिगड़ने के आसार

शिमला: मौसम विभाग के अनुसार 19 जून को प्रदेश के ऊंचे क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में बारिश हो सकती है। वहीं मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के पूर्वानुमान के अनुसार मंगलवार को ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा, मंडी, शिमला और सोलन में गरज के साथ बारिश, ओलावृष्टि और अंधड़ चलने की संभावना है। विभाग ने इसको लेकर यलो वार्निंग जारी की है।

ऊना: आतंकियों से मुठभेड़ में हिमाचल के जवान राईफलमैन अनिल जसवाल शहीद

ऊना: आतंकियों से मुठभेड़ में हिमाचल का जवान राईफलमैन अनिल जसवाल शहीद

  • मुख्यमंत्री ने राईफलमैन अनिल जसवाल की शहादत पर जताया शोक

ऊना: आतंकियों के खिलाफ एक ऑपरेशन में हिमाचल का बेटा सरहद पर कुर्बान हो गया। ऊना जिले के बंगाणा उपमंडल का सरोह निवासी 26 वर्षीय जवान अनिल कुमार जसवाल जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में शहीद हो गए। दो दिन पहले ही शहीद का जन्मदिन था। आतंकियों के खिलाफ एक ऑपरेशन में अनिल कुमार जसवाल भी शामिल थे। इस दौरान वह बुरी तरह से जख्मी हो गए थे। मंगलवार सुबह उसने जम्मू कश्मीर के सेना अस्पताल में दम तोड़ दिया। अनिल जेक रायफल में सिपाही पद पर तैनात थे। शहीद की शादी दो साल पहले ही हुई थी और बीते जनवरी महीने में बेटे का जन्म हुआ। शहीद अनिल जसवाल छह साल पहले ही फौज में भर्ती हुए थे। बताया जा रहा है शहीद दो सप्ताह पहले ही छुट्टी काटकर ड्यूटी पर लौटा था। उनकी शहादत के बाद क्षेत्र में शोक का माहौल है।  जानकारी के अनुसार सोमवार को दक्षिण कश्मीर के बडूरा (अनंतनाग) में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच करीब 12 घंटे चली मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया।

इस दौरान एक मेजर समेत दो फौजी जवान शहीद हुए हैं। अनिल इस हमले में घायल हो गया था। उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था, जहां उनका निधन हो गया।

मुख्यमंत्री ने राईफलमैन अनिल जसवाल की शहादत पर जताया शोक

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने भारतीय सेना में राईफलमैन अनिल कुमार जसवाल की शहादत पर शोक व्यक्त किया है। अनिल कुमार जिला ऊना की बंगाणा तहसील के गांव सरोह के रहने वाले थे, जो सोमवार को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में एक आतंकी हमले में शहीद हुए। मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त करते हुए कहा कि अनिल कुमार जसवाल ने आतंकियों से लड़ते हुए देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया है। उन्होंने परमात्मा से दिवंगत आत्मा की शांति एवं परिवारजनों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार शहीद जवान के परिवार की हर संभव सहायता प्रदान करेगी।

नड्डा को कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किए जाने से हिमाचल का गौरव बढ़ा: जयराम

नड्डा को कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किए जाने से हिमाचल का गौरव बढ़ा: जयराम

  • जे.पी. नड्डा को भाजपा का राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने से हिमाचल प्रदेश के लोगों को बड़ा सम्मान मिला

शिमला: भाजपा के हाल ही में नियुक्त कार्यकारी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा के कुशल नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी देश के लोगों का विश्वास जीतने के साथ-साथ सशक्त एवं विकसित राष्ट्र के निर्माण के लिए अपना योगदान देती रहेगी। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां भाजपा मुख्यालय ‘दीप कमल’ में पार्टी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए यह बात कही

मुख्यमंत्री ने कहा कि जे.पी. नड्डा को भाजपा का राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने से हिमाचल प्रदेश के लोगों को बड़ा सम्मान मिला है। यह लगभग 70 लाख की आबादी वाले छोटे से राज्य के लिए गौरव की बात है कि नड्डा को दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया है। उन्होंने कहा कि नड्डा बहुत अनुभवी हैं जिन्होंने पार्टी और सरकार में विभिन्न स्तरों पर अपनी सेवाएं दी हैं। वह आरम्भ में विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्यक्ष रहे और बाद में प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तथा उसके उपरान्त वन, पर्यावरण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री बने। उन्होंने केन्द्र सरकार में स्वास्थ्य मंत्री के तौर पर भी अपनी सराहनीय सेवाएं दी और भाजपा संसदीय बोर्ड के सदस्य भी हैं, जो पार्टी की सर्वाच्च समिति है।

उन्होंने कहा कि एक ओर नड्डा को यह बड़ा उत्तरदायित्व सौंपा गया है तो दूसरी ओर प्रदेश के सांसद अनुराग ठाकुर को केन्द्रीय मंत्रिमण्डल में राज्य मंत्री बनाया गया है। इससे आने वाले समय में प्रदेश को बहुत लाभ होगा। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती के साथ टेलीविजन के माध्यम से भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा का शपथ ग्रहण समारोह भी देखा।

सतपाल सिंह सत्ती का कहना था कि यह प्रदेश के लोगों के लिए गरिमापूर्ण बात है कि एक पार्टी कार्यकर्ता से जे.पी. नड्डा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद तक पहुंचे हैं।

आइसक्रीम लेने गई 6 वर्षीय बच्ची ट्रैक्टर की चपेट में आई, मौत

आइसक्रीम लेने गई 6 वर्षीय बच्ची ट्रैक्टर की चपेट में आई, मौत

डॉ. प्रखर गुप्ता / पांवटा साहिब:  पांवटा साहिब के सूरजपुर में एक दर्दनाक हादसा सामने आया है जिसमें ट्रैक्टर के नीचे आने से 6 वर्षीय बच्ची की दर्दनाक मौत हो गई। जानकारी मुताबिक सूरजपुर मालवा कॉटन के समीप बच्ची आइसक्रीम लेने के लिए निकली थी, तभी वह एक ट्रैक्टर की चपेट में गई आ गई। बच्ची को गंभीर हालत में सिविल अस्पताल पांवटा साहिब लाया गया। जहां डाक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया। जानकारी के अनुसार बच्ची के पिता बंगाल के रहने वाले हैं और इस वक्त लेबर लेने के लिए बंगाल गए हुए हैं फिलहाल उन्हें सूचना दे दी गयी है। वह वहां से वापिस चल पड़े हैं।  सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

15 दिनों में नालियों, चैनलों व नालों की सफाई करने के निर्देश

15 दिनों में नालियों, चैनलों व नालों की सफाई करने के निर्देश

  • अतिरिक्त मुख्य सचिव ने की मानसून से सम्बन्धित तैयारियों की समीक्षा बैठक
  • डी. सी. राणा ने मानसून के दौरान किसी भी घटना से निपटने के बावत करवाया अवगत

शिमला: वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी ने आज यहां से सभी जिला उपायुक्तों और अन्य विभागों के साथ मानसून से सम्बन्धित तैयारियों की समीक्षा बैठक की। वहीं विशेष सचिव (राजस्व और आपदा प्रबंधन) डी. सी. राणा ने मानसून के दौरान किसी भी घटना से निपटने के लिए उठाए गए कदमों से अवगत करवाया।

अतिरिक्त मुख्य सचिव लोक निर्माण विभाग, नगर निगमों और पंचायती राज संस्थाओं को 15 दिनों में नालियों, चैनलों, नालों की सफाई का काम करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश एक आपदा संभावित राज्य है, इसलिए मौसम संबंधी सलाह को प्रसारित करने और राज्य में चेतावनी प्रणाली स्थापित करने के लिए विशेष ध्यान देना आवश्यक है। इन प्रणालियों को स्थापित करने के लिए कुल्लू और डलहौजी में स्थानों की पहले ही पहचान कर ली गई है, जबकि रामपुर और मंडी में एनडीआरएफ के राहत एवं बचाव बेस स्थापित किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि बिजली अधिकारियों को अचानक पानी के प्रवाह से होने वाले नुकसान से बचने के लिए एवं जनता को सतर्क करने के लिए उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए ताकि जान-माल की हानि से बचा जा सके। यह चेतावनी प्रणाली असुरक्षित क्षेत्रों के लोगों को स्थानांतरित करने और खाली करने में मदद करेगी और इस बैठक में केंद्रीय जल आयोग को नियमित रूप से इसकी निगरानी करने के भी निर्देश दिए गए।

उन्होंने कहा कि राहत और बचाव के बारे में जानकारी नियमित रूप से एफएम केन्द्रों, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से जनता को उपलब्ध कराई जाएगी और उपग्रह की उपलब्धता के बारे में जानकारी भी सभी संवेदनशील क्षेत्रों में उपलब्ध करवाई जाएगी। सभी जिला मुख्यालयों को पहले से ही सैटेलाइट फोन उपलब्ध करवा दिए गए हैं और आवश्यकता के अनुसार और अधिक प्रदान किए जाएंगे।

डॉ. बाल्दी ने कहा कि क्षेत्रीय प्रतिक्रिया केंद्रों (आईटीबीपी की स्थानीय इकाइयों), भारतीय सेना और स्थानीय स्वयंसेवकों के सहयोग से राज्य के विभिन्न हिस्सों में तैनात एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की राहत और बचाव टीमों को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि यह आवश्यक है कि खराब मौसम की स्थिति में ट्रेकिंग और अन्य यात्राओं को प्रतिबंधित किया जाए तथा ट्रैकर्स की सुरक्षा के लिए एक जीपीएस उपकरण होना अनिवार्य किया जाए ताकि किसी भी आपात स्थिति में उन्हें हर संभव सहायता प्रदान की जा सके।

कार्यकारी अध्यक्ष बनना नड्डा के लिए व्यक्तिगत उपलब्धि, व पूरे हिमाचल के लिए गौरव की बात: प्रो. धूमल

कार्यकारी अध्यक्ष बनना नड्डा के लिए व्यक्तिगत उपलब्धि, व पूरे हिमाचल के लिए गौरव की बात: प्रो. धूमल

हमीरपुर: वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने जेपी नड्डा को भाजपा का राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बनने पर बधाई एवं शुभकामनाएं व्यक्त की है। मंगलवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति में पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष को बधाई देते हुए कहा कि दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी का अध्यक्ष बनना जेपी नड्डा के लिए व्यक्तिगत उपलब्धि और सम्मान की बात है। साथ साथ ही यह पूरे हिमाचल प्रदेश के लिए गौरव एवं सम्मान की बात है। प्रोफेसर धूमल ने कहा कि पहले केंद्रीय संसदीय बोर्ड के सचिव बनने वाले वह पहले हिमाचली थे और अब पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष बनकर उन्होंने एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। 

प्रोफेसर धूमल ने विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि संगठन के काम के लंबे अनुभव एवं अपनी परिपक्वता के कारण जेपी नड्डा बहुत सफल रहेंगे और पार्टी को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाएंगे एवं व्यक्तिगत जीवन में भी सफलता के नए कीर्तिमान स्थापित करेंगे।

मोदी सरकार ने CBIC के 15 वरिष्ठ अधिकारियों को जबरन रिटायर किया

मोदी सरकार ने CBIC के 15 वरिष्ठ अधिकारियों को किया रिटायर

नई दिल्ली: वित्त मंत्रालय के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार ने केन्द्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (CBIC) के 15 वरिष्ठ अधिकारियों को जबरन रिटायर किया है। ये अधिकारी सीबीआईसी के प्रधान आयुक्त, आयुक्त, और उपायुक्त के रैंक के हैं। इन अधिकारियों को अर्टिकल 56 के तहत  रिटायरमेंट दिया गया है। इससे पहले 10 जून को वित्त मंत्रालय ने भ्रष्टाचार के आरोप में लिप्त 12 वरिष्ठ अफसरों को अनिवार्य तौर पर रिटायर कर दिया है। इन अफसरों में आयकर विभाग के चीफ कमिश्नर के साथ-साथ प्रिंसिपल कमिश्नर जैसे पदों पर तैनात रहे अधिकारी भी शामिल हैं।

सूत्रों के मुताबिक, अधिकारियों को नियम 56 जे के तहत रिटायर किया गया था। इनमें 1985 बैच के आईआरएस अशोक अग्रवाल का नाम सबसे ऊपर है। आयकर विभाग में ज्वाइंट कमिश्नर रैंक के अफसर अग्रवाल ईडी के संयुक्त निदेशक रहे हैं और भ्रष्टाचार के आरोप में 1999 से 2014 के बीच निलंबित रहे हैं। इन पर कारोबारियों से वसूलीव तांत्रिक चंद्रास्वामी की मदद का आरोप रहा है। 1985 बैच के आईआरएस अधिकारी होमी राजवंश को सेवानिवृत्ति दी गई है। उन पर पद का गलत इस्तेमाल करते हुए संपत्ति अर्जित करने का केस चला और सीबीआई ने उन्हें गिरफ्तार किया। तभी से वो निलंबित हैं।

यौन शोषण का आरोप: नोएडा के कमिश्नर (अपील) रहे 1989 बैच के आईआरएस एसके श्रीवास्तव को भी सेवानिवृत्त किया गया है। इन पर कमिश्नर रैंक की दो महिला आईआरएस के साथ यौन शोषण करने का आरोप है।

भ्रष्टाचार में कार्रवाई: अन्य अफसरों में बी बी राजेंद्र प्रसाद, बी अरुलप्पा, अशोक मित्रा, चंदर सैनी भारती,अंदासु र्रंवदर, श्वेताभ सुमन, विवेक बत्रा व राम कुमार भार्गव शामिल हैं। सभी महत्वपूर्ण पदों पर कार्यरत थे जिन पर भ्रष्टाचार के आरोप रहे हैं।