ब्लॉग

नगर पंचायत चुनाव : आनी में 79.7 और निरमंड में 77.1 फीसदी हुआ मतदान

MCD Election Results 2022: दिल्ली MCD की सत्ता का फैसला कल…

नई दिल्ली: दिल्ली एमसीडी चुनाव के वोटों की गिनती बुधवार की सुबह होगी। इसे लेकर तमाम प्रशासनिक तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। राज्य चुनाव आयोग की तरफ से इसके लिए पूरी दिल्ली में कुल 42 काउंटिंग सेंटर्स बनाए गए हैं। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरु की जाएगी। निगम भवन, कश्मीरी गेट स्थित राज्य चुनाव आयोग के दफ्तर में काउंटिंग के लाइव स्ट्रीमिंग के लिए मीडिया सेंटर में बड़े स्क्रीन की व्यवस्था की गई है। दिल्ली राज्य चुनाव आयोग के मोबाइल ऐप पर भी काउंटिंग अपडेट लाइव देखा जा सकेगा।

नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी, बीजेपी और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। दिल्ली नगर निगम में 250 वार्ड हैं और इस चुनाव में 1,349 उम्मीदवार मैदान में हैं। दिल्ली में चार दिसंबर को इसके लिए हुए चुनाव में 50.48 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था।

सभी केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की 20 कंपनियां, 10,000 से अधिक पुलिस कर्मियों को केंद्रों पर तैनात किया गया है।

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने की केन्द्रीय बजट की सराहना

एग्जिट पोल में जो दिखाया, परिणाम उससे कहीं बेहतर आएंगे : जयराम ठाकुर

हिमाचल: विधानसभा चुनाव में एग्जिट पोल आने के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि एग्जिट पोल से साफ है कि हिमाचल में एक बार फिर बीजेपी की सरकार बनने जा रही है। शिमला में मीडिया से अनौपचारिक बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बिना टक्कर के चुनाव भी कहां हैं। इस टक्कर में भाजपा आगे निकलेगी और पहले से ज्यादा सीटें जीतकर हिमाचल में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एग्जिट पोल में जो दिखाया जा रहा है, परिणाम उससे कहीं बेहतर आएंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस चुनाव हार रही है और एग्जिट पोल पर जो मर्जी बोले, लेकिन एग्जिट पोल का कोई न कोई आधार होता है।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि इन 5 सालों में केंद्र ने हिमाचल की खुलकर मदद की है। प्रदेश के विकास के लिए अभी भी कई प्रयास किए जाने बाकी हैं।

धर्मपुर: आग लगने से जिंदा जला PWD का कर्मी

धर्मपुर: लोक निर्माण विभाग मंडल धर्मपुर के तहत सिद्धपुर में सोमवार रात को ड्यूटी पर तैनात चौकीदार की आग लगने से मौत हो गई। जानकारी के अनुसार 54 वर्षीय बालम रोजाना की तरह सोमवार को ड्यूटी पर तैनात था। इस दौरान आंख लगने के बाद बिस्तर पर आग लग गई।  प्राप्त जानकारी के अनुसार जब दूसरा चौकीदार अपनी ड्यूटी पर आया तो उसने जैसे दरवाजा खोला तो अंदर का मंजर देखकर वह घबरा गया और इसकी सूचना अफसरों और पुलिस थाना धर्मपुर को दी। पुलिस ने सूचना मिलते ही शव को अपने कब्जे में लेकर वहां पर उपस्थित चौकीदार व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के ब्यान दर्ज कर शव पोस्टमार्टम के लिए सरकाघाट भेज दिया है। आग लगने के कारणों की  पुलिस जांच कर रही है।

टूटीकंडी: तेज रफ्तार बस ने मारी टक्कर, राहगीर की मौत…

शिमला : शिमला के टूटीकंडी शिव मंदिर के पास तेज रफ्तार बस ने व्यक्ति को टक्कर मारी थी। मृतक की पहचान पंकज बैंस निवासी धर्मशाला जिला कांगड़ा के रूप में हुई है। हादसे की वजह बस चालक की लापरवाही बताई जा रही है।

बालूगंज पुलिस मामले की जांच कर रही है। शिमला के बैम्लोई निवासी विकास कुमार ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है कि वह सोमवार रात को पिकअप से घर लौट रहा था, तब टूटीकंडी शिव मंदिर के पास तेज रफ्तार PRTC बस (PB02EG -2396) ने एक राहगीर को टक्कर मारी।

शिमला के ASP सुनील नेगी ने बताया कि हादसे में बुरी तरह घायल राहगीर की मौत हो गई है। शव का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। आरोपी बस चालक को हिरासत में लिया गया है। IPC की धारा 279304A के तहत मामला दर्ज करके कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

रामपुर बुशहर: पैर फिसलने से खड्ड में गिरे दो नेपाली मजदूरों की मौत

शिमला: रामपुर बुशहर में पुलिस थाना झाकड़ी की बधाल पंचायत में सोमवार देर रात दो मजदूर सड़क से नीचे गहरी खाई में जा गिरे। हादसे में दोनों की मौके पर ही मौत हो गई है। सूचना मिलते ही पुलिस का दल मौके पर पहुंचा और छानबीन शुरू कर दी है। 

सोमवार शाम को दोनों मजदूर अपने कमरे से सामान खरीदने बाजार गए। देर रात तक घूमने के बाद दोनों जब वापस अपने कमरे की ओर रवाना हुए तो NH-5 के साथ बने पुल के पास दोनों मजदूर पैर फिसलने के कारण सड़क से करीब 60 फीट नीचे खड्ड किनारे जा गिरे। हादसे की सूचना सोमवार दोपहर करीब 12 बजे तब लगी, जब खड्ड के पास काम कर रहे मजदूरों ने खड्ड किनारे उनके शव पड़े देखे। उन्होंने स्थानीय लोगों को इसकी जानकारी दी और पुलिस चौकी ज्यूरी को भी सूचित किया। सूचना मिलते ही पुलिस चौकी ज्यूरी से टीम मौके पर आई।

IO मनोज कुमार ने बताया कि बधाल खड्ड में पैर फिसलने से गिरने से नेपाली मजदूरों की मौत हुई है। पुलिस ने PHC ज्यूरी में दोनों का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिए हैं।

HPU में एसएफआई-एबीवीपी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प..

हिमाचल: प्रदेश विश्वविद्यालय (एचपीयू) के नए शैक्षणिक सत्र की शुरुआत में ही छात्र संगठन एसएफआई और एबीवीपी कार्यकर्ताओं के बीच मंगलवार को हिंसक झड़प हो गई। इससे दोनों संगठनों के आधा दर्जन कार्यकर्ता घायल हो गए। परिसर में जमकर पत्थरबाजी भी हुई। इससे पुलिस और सुरक्षा कर्मी भी चोटिल हो गए। घायलों का प्राथमिक उपचार करवाया गया। 

बताया जा रहा है कि मंगलवार को समरहिल चौक पर किसी बात को लेकर दोनों छात्र गुटों में पहले बहसबाजी हुई। उसके बाद मामला हाथापाई और पथराव तक पहुंच गया। देखते ही देखते परिसर में दोनों गुटों के कार्यकर्ताओं की भीड़ जमा हो गई। हिंसा की घटना के बाद एचपीयू परिसर में अतिरिक्त पुलिस और एचपीयू के सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं। 

निजी बस आपरेटर जारी रखेंगे हड़ताल...

शिमला : ऊपरी क्षेत्र के लिए अब लक्कड़ बाजार बस अड्डे से नही मिलेगी बसें…

शिमला: शिमला शहर के लक्कड़ बाजार बस अड्डा आज से आईजीएमसी नाला स्थित नगर निगम की पार्किंग से संचालित किया जा रहा है। ऊपरी शिमला, किन्नौर, सुन्नी, बसंतपुर और करसोग रूट पर चलने वाली एचआरटीसी और निजी बसें अब यहीं से चलेंगी।

शिमला: हाईकोर्ट ने मेधावी दिव्यांग छात्रा निकिता की उम्मीदें जगाईं, PGI में बनेगा दिव्यांगता प्रमाण पत्र 

शिमला: हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट ने दिव्यांग मेधावी छात्रा निकिता के डॉक्टर बनने के सपने को पूरा करने की उम्मीदें जगा दी हैं। नीट की कठिन परीक्षा पास करने वाली छात्रा की याचिका पर हाईकोर्ट की न्यायमूर्ति सबीना और न्यायमूर्ति सुशील कुकरेजा की खंडपीठ ने चंडीगढ़ के पीजीआई के निदेशक को निर्देश दिया है कि वह उसकी दिव्यांगता का आकलन करें और 9 दिसंबर तक अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। अब हाई कोर्ट में सुनवाई की अगली तारीख 12 दिसंबर है। 

हिमाचल प्रदेश राज्य विकलांगता सलाहकार बोर्ड के विशेषज्ञ सदस्य और उमंग फाउंडेशन के अध्यक्ष प्रो अजय श्रीवास्तव ने बताया कि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनाने के लिए अधिकृत किए गए चंडीगढ़ के राजकीय मेडिकल कॉलेज ने इससे पूर्व उसे 78% दिव्यांगता का प्रमाण पत्र दिया था। 

मंडी की अटल मेडिकल यूनिवर्सिटी ने कांगड़ा के बाबा बड़ोह की निवासी व्हीलचेयर का इस्तेमाल करने वाली निकिता चौधरी को टांडा मेडिकल कॉलेज आवंटित किया था। लेकिन मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने अपने नियम का हवाला देकर उसका दोबारा मेडिकल कराया और उसकी दिव्यांगता 78% से बढ़ाकर 90% कर दी।

 मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के नियमों के मुताबिक 80% तक दिव्यांगता वाले विद्यार्थी एमबीबीएस में प्रवेश के पात्र हैं। टांडा मेडिकल कॉलेज ने उसे दाखिले की दौड़ से बाहर कर दिया।

लेकिन व्हीलचेयर यूजर निकिता ने हार नहीं मानी और हाईकोर्ट में याचिका दायर की। उसकी ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता संजीव भूषण की दलीलें सुनकर 5 दिसंबर को हाईकोर्ट ने कहा कि दो विरोधाभासी विकलांगता प्रमाण पत्र उसके समक्ष हैं। इसलिए उसका दिव्यांगता का प्रमाण पत्र पीजीआई से बनवाया जाए। अब यदि पीजीआई उसकी दिव्यांगता 80% से कम प्रमाणित कर देता है तो टांडा मेडिकल कॉलेज में उसे एमबीबीएस की पढ़ाई करके डॉक्टर बनने का मौका मिल जाएगा।
प्रो. अजय श्रीवास्तव ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट कई मामलों में व्हीलचेयर यूजर और दृष्टिबाधित विद्यार्थियों को भी एमबीबीएस में प्रवेश की अनुमति दे चुका है। ऐसे में टांडा मेडिकल कॉलेज का फैसला हैरान करने वाला है। विकलांगजन अधिनियम, 2016 में स्पष्ट प्रावधान है कि सभी सार्वजनिक स्थान बाधारहित होने चाहिए ताकि दिव्यांगजन को कोई मुश्किल ना हो। इसमें मेडिकल कॉलेज भी शामिल हैं। ऐसे में टांडा मेडिकल कॉलेज प्रशासन का उसको दाखिले से इनकार करना अन्यायपूर्ण लग रहा है। 

सीबीएफसी की नवनियुक्त सदस्य ने राज्यपाल से भेंट की

 शिमला की भारती कुठियाला बनी केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड की सदस्य

शिमला: राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर से आज राजभवन में केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) की नवनियुक्त सदस्य भारती कुठियाला ने भेंट की।
राज्यपाल ने भारती कुठियाला को केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के सदस्य के रूप में नियुक्त होने पर बधाई दी। उन्होंने भारती कुठियाला और हिम सिने सोसाइटी को भविष्य में फिल्म से जुड़े विषयों पर और अधिक लगन और प्रभावी ढंग से कार्य करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के इतिहास में पहली बार किसी महिला को केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के लिए मनोनीत किया गया है जो गौरव का विषय है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय स्तर पर रंगमंच के लिए अलग विभाग बनाने के मुद्दे पर विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय लोक कलाओं को बढ़ावा देने से निश्चित रूप से स्थानीय कलाकारों को उचित मंच प्राप्त होगा।
इस अवसर पर भारती कुठियाला ने राज्यपाल को ‘हिम सिने सोसाइटी एक सोच’ संस्था की गतिविधियों से अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि संस्था का उद्देश्य सिनेमा के माध्यम से भारतीय संस्कृति, कलात्मक और नैतिक मूल्यों को फिर से स्थापित करना, हिमाचलियों के सार्वजनिक जीवन के साथ-साथ सामाजिक हित एवं भारतीय संस्कृति को बढ़ावा देना है। उन्होंने कहा कि संस्था का उद्देश्य कला और सिनेमा में रुचि रखने वाले व्यक्तियों और फिल्म निर्माण में इच्छुक युवाओं को प्रोत्साहित करना है।
इस अवसर पर उन्होंने राज्यपाल को स्वः लिखित पुस्तकों का एक सेट भी भेंट किया।
इस अवसर पर हिम सिने सोसाइटी के कोषाध्यक्ष अनुज पंत और सदस्य कपिल शर्मा भी उपस्थित थे।

प्रदेश में भाजपा की उल्टी गिनती शुरू : रजनीश किमटा

शिमला:  प्रदेश कांग्रेस सगंठन महामंत्री रजनीश किमटा ने प्रदेश में जनमत कांग्रेस के पक्ष में आने का दावा करते हुए कहा है कि प्रदेश में पूर्ण बहुमत से कांग्रेस की सरकार बनेगी। उन्होंने एग्जिट पोल में कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर बताने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि 8 दिसम्बर को चुनाव परिणाम पूर्ण बहुमत से कांग्रेस के पक्ष में निकलेंगे। उन्होंने कहा है कि प्रदेश में धनबल की करारी हार, जनबल की जीत हो रही है।

किमटा ने  कहा कि लोगों ने प्रदेश में भाजपा की नीतियों को पूरी तरह नकार दिया है। चार उप चुनावों में कांग्रेस को मिली एकतरफा जीत से पहले  ही साफ  हो गया था कि प्रदेश में भाजपा की उल्टी गिनती शुरू हो गई है । उप चुनावों में प्रदेश के लोगों ने बढ़ती मंहगाई, बेरोजगारी व भ्र्ष्टाचार के खिलाफ अपना जनमत दिया था। सत्ता के भारी दबाव के बाबजूद लोगों ने कांग्रेस के पक्ष में भारी मतदान कर भाजपा को पूरी तरह नकार दिया हैं।

किमटा ने कहा है कि प्रदेश विधानसभा चुनावों में भी लोगों ने कांग्रेस के पक्ष में भारी मतदान किया है। उन्होंने कहा है कि भाजपा ने इन चुनाव परिणामों को अपने पक्ष में प्रभावित करने के लिये भारी मात्रा में धनबल का प्रयोग किया, अधिकारियों और कर्मचारियों पर दबाव बना कर उन्हें डराने का पूरा प्रयास किया है,बावजूद इसके लोकतंत्र में अपने मताधिकार का प्रयोग लोगों ने कांग्रेस के पक्ष में किया है।

किमटा ने कहा है कि कांग्रेस चुनावों में किये अपने सभी वादों को पूरा करेगी। सरकार बनते ही पहली कैबनेट में कर्मचारियों की ओल्ड पेंशन बहाल की जाएगी। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस भाजपा के सभी जन विरोधी निर्णयों को तुरंत प्रभाव से निरस्त करेगी। 

उन्होंने कहा है कि भाजपा के भ्रष्टाचार और सरकारी धन के दुरुपयोग की भी जांच की जाएगी।