पार्टी की ओर से दिये गये सम्मान से पूरी तरह से संतुष्ट, भ्रामक बातें न फैलाएं : प्रो. धूमल

‘‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’’ शुरू होने से देश में अब किसानों में आत्म हत्या प्रवृति की घटनाएं होंगी कम : धूमल

 

शिमला: पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने बाढ़, तुफान, सुखा व अन्य प्राकृतिक आपदाओं की मार झेल रहे किसानों की सहायता के लिए ऐतिहासिक व अभूतपूर्व ‘‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’’ शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बधाई व धन्यवाद दिया है और कहा कि इस योजना के शुरू होने से देश में अब कृषि करना सुरक्षित होने से किसानों में आत्म हत्या की प्रवृति की घटनाएं कम होगी। वहीं किसानों में सम्पन्नता बड़ने से देश के विकास को नई ऊॅंचाईयां देने में कामयाब होगा।

प्रो. धूमल ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा आरम्भ की गई इस योजना का महत्व एवं उपयोगिता इस बात से समझी जा सकती है कि पूर्व सरकारों की फसल बीमा योजनाओं में जहां प्रिमियम 15 प्रतिशत तक था वहीं इस योजना में यह प्रिमियम मात्र ढेड़ से दो प्रतिशत है। उससे भी महत्वपूर्ण है कि पूर्व में फसलों के नुकसान के दावों से निपटने में वर्षों बीत जाते थे वहीं अब प्राकृतिक आपदा से किसी भी फसल का नुकसान होने पर दावे की 25 प्रतिशत राशि तुरन्त व शेष राशि 90 दिनों के भीतर मिल जाएगी।

प्रो. धूमल ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं की सबसे ज्यादा मार झेलने वाले हिमाचल प्रदेश के किसानों व बागवानों के लिए यह योजना दोहरी खुशी लेकर आई है। हिमाचली किसान जहां खरीप फसलों के लिए प्रिमियम अधिकतम 2 प्रतिशत व रवी फसलों के लिए अधिकतम ढेड़ प्रतिशत के प्रिमीयम पर अपनी फसलों का बीमा करवा पाएंगे। वहीं बागवान मात्र 5 प्रतिशत के प्रिमीयम पर अपनी फसलों का बीमा करवा सकेंगे। ओलावृष्टि, आन्धी तुफान व भारी वर्षा से निश्चिन्त होकर हिमाचली किसान, बागवान अब प्रदेश के विकास की नई इवारत लिखने में कामयाब होगें।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *