मुख्यमंत्री ने दिए सुरक्षा एजेन्सियों को सीमावर्ती क्षेत्रों में आवश्यक सुरक्षा प्रबन्ध करने निर्देश

मुख्यमंत्री ने दिए सुरक्षा एजेन्सियों को सीमावर्ती क्षेत्रों में आवश्यक सुरक्षा प्रबन्ध करने के निर्देश

  • मुख्यमंत्री ने की राज्य में सुरक्षा प्रबन्धों की समीक्षा

 

शिमला: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने राज्य सुरक्षा एवं सतर्कता एजेन्सियों को राज्य में किसी भी प्रकार के आंतकी हमले की संभावना से निपटने, विशेषकर सीमावर्ती क्षेत्रों में सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं।

वीरभद्र सिंह ने पठानकोट में हाल ही के आंतकी हमले के मद्देनजर आज यहां राज्य पुलिस, सुरक्षा, सतर्कता और गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ राज्य में सुरक्षा प्रबन्धों का जायजा लेने के लिये बैठक की। मुख्यमंत्री ने कहा हालांकि राज्य पुलिस ने पहले ही सभी जिलों में आवश्यक सुरक्षा प्रबन्ध करने के निर्देश जारी किए हैं, लेकिन सुरक्षा व्यवस्था में किसी प्रकार की कमी न रह, इसके लिये पुनः पुलिस अधिकारियों को समुचित सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित बनाने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थापित चौकियों में अतिरिक्त पुलिस बलों की तैनाती की गई है। सीमावर्ती इलाकों में आवश्यकतानुसार आधुनिक अस्त-शस्त्रों के साथ प्रशिक्षित कमान्डों को तैनात किया गया है और यदि आवश्यकता पड़ी तो अतिरिक्त कमान्डों की तैनाती की जाएगी।

वीरभद्र सिंह ने कहा कि प्रदेश में हालांकि सुरक्षा की स्थिति सामान्य है, परन्तु किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिये कड़ी निगरानी रखी जा रही है। राज्य पुलिस एवं सतर्कता एजेन्सियों को सीमावर्ती क्षेत्रों में चौकन्ना रहने के निर्देश दिए गए हैं। संदिग्ध व्यक्तियों की आवाजाही पर कड़ी नजर रखने तथा राज्य की समस्त जनता, धार्मिक एवं महत्वपूर्ण स्थलों पर सुरक्षा प्रबन्ध सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वरिष्ठ पुलिस एवं सुरक्षा अधिकारियों को सम्बन्धित क्षेत्रों में उपयुक्त सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित बनाने तथा पड़ौसी राज्यों के सुरक्षा बलों के साथ तालमेल स्थापित करने के निर्देश जारी किये गए हैं ताकि स्थिति के अनुरूप तैयारियां की जा सके।

वीरभद्र सिंह ने कहा कि जब कभी भी ऐसे हालात उत्पन्न हुए हिमाचल प्रदेश पुलिस ने हमेशा ही पंजाब और जम्मू-कश्मीर में आंतकवाद का मुकाबला करने में मदद की है और भविष्य में भी प्रदेश पड़ौसी राज्यों के साथ समुचित तालमेल कायम रखने के लिये प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों को सतर्क रहने का आग्रह करते हुए कहा कि यदि कोई संदिग्ध विशेषकर पुलिस अथवा सेना की बर्दी में दिखाई दे, तो तत्काल से इसकी सूचना सुरक्षा ऐजेन्सियों को दी जानी चाहिए। पुलिस महानिदेशक संजय कुमार ने राज्य में आंतकी हमले की किसी भी संभावना से निपटने के लिये की गई तैयारियों एवं प्रबन्धों का ब्यौरा दिया। बैठक में राज्य पुलिस, सुरक्षा एवं सतर्कता ऐजेन्सियों और गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *