एसजेवीएन लिमिटेड द्वारा मनाया गया “सतर्कता जागरूकता सप्ताह”

“एसजेवीएन” स्कूल व कॉलेज स्तर पर बच्चों को प्रोत्साहित व जागरूक करने के लिए करता है कई कार्यक्रमों का आयोजन

  • प्रतियोगिता का मुख्य उदेश्य बच्चों व युवाओं को भ्रष्टाचार रोकने के प्रति जागरूक करना व सामाजिक जीवन के मूल्यों को बढ़ावा देना : नन्द लाल शर्मा
  • एसजेवीएन ने मनाया “सतर्कता जागरूकता सप्ताह”
  • सतर्कता जागरूकता का मूल विषय “सुशासन के एक साधन के रूप में भ्रष्टाचार निवारण”
  • एसजेवीएन के निदेशक नन्द लाल शर्मा ने भ्रष्टाचार के विरूद्ध युवाओं की भूमिका तथा सुशासन में पारदर्शिता के महत्व पर दिया बल
एसजेवीएन द्वारा 26 से 31 अक्तूबर तक मनाया गया सतर्कता जागरूकता सप्ताह

एसजेवीएन द्वारा 26 से 31 अक्तूबर तक मनाया गया सतर्कता जागरूकता सप्ताह

अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक रमेश नारायण मिश्र ने नई दिल्ली कार्यालय में शपथ दिलाईए

अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक रमेश नारायण मिश्र ने नई दिल्ली कार्यालय में शपथ दिलाई

  • शिमला: एसजेवीएन लिमिटेड द्वारा 26 से 31 अक्तूबर तक सतर्कता जागरूकता सप्ताह मनाया गया। इस वर्ष सतर्कता जागरूकता का मूल विषय था “सुशासन के एक साधन के रूप में भ्रष्टाचार निवारण”। सतर्कता जागरूकता सप्ताह प्रति वर्ष मनाया जाता है और इस दिन सरदार वल्लभ भाई पटेल का जन्म दिवस (31 अक्तूबर) भी होता है जिन्हें पूर्ण सत्यनिष्ठ व्यक्ति के रूप में जाना जाता है।
एसजेवीएन के निदेशक (कार्मिक) तथा इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नन्द लाल शर्मा ने बताया कि समारोह का आगाज एसजेवीएन के कर्मचारियों द्वारा शपथ लेने के साथ हुआ

एसजेवीएन के निदेशक (कार्मिक) तथा इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नन्द लाल शर्मा ने बताया कि समारोह का आगाज एसजेवीएन के कर्मचारियों द्वारा शपथ लेने के साथ हुआ

एसजेवीएन के निदेशक (कार्मिक) तथा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नन्द लाल शर्मा ने बताया कि समारोह का आरंभ एसजेवीएन के कर्मचारियों द्वारा शपथ लेने के साथ हुआ। कर्मचारियों ने शपथ ली कि वे अपने सरकारी कर्तव्यों का निर्वाह करते हुए भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं होंगे। प्रतियोगिता का मुख्य उदेश्य बच्चों व युवाओं को भ्रष्टाचार रोकने के प्रति जागरूक करना व सामाजिक जीवन के मूल्यों आदि को बढ़ावा देना है। अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक रमेश नारायण मिश्र ने नई दिल्ली कार्यालय में शपथ दिलाई जबकि निदेशक (वित्त) ए.एस. बिन्द्रा द्वारा कारपोरेट कार्यालय शिमला में शपथ दिलाई गई।

उन्होंने आगे बताया कि इस आशय के बैनर एवं पोस्टर लगाने तथा कर्मचारियों के बीच प्रतियोगिताएं कराने की नियमित गतिविधियों के अतिरिक्त एसजेवीएन इस वर्ष बड़े पैमाने पर कालेज एवं स्कूल के विद्यार्थियों तक पहुंचा है। इस संबंध में हमारे प्रचालन क्षेत्रों जैसे हिमाचल प्रदेश में रामपुर, परवाणु, झाकड़ी नाथपा, सुन्नी, नीरथ, हमीरपुर तथा शिमला तथा उत्तराखण्ड राज्य में देहरादून मोरी एवं थराली तथा नैटवाड़ मोरी के आस-पास स्थित विभिन्न स्कूलों तथा कॉलेजों में भाषण प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। इसके अतिरिक्त महाराष्ट्र के खिरवीरे में तथा बिहार के पटना और बक्सर में भी इसी प्रकार की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है। प्रतियोगिता आयोजन का उद्देश्य नैतिकता मूल्यों, ईमानदारी और निष्ठा सदाचरण शासन में पारदर्शिता के महत्व तथा युवाओं को भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में भाग ले सकने के लिए शिक्षित करना था।

एक सप्ताह तक चले इस आयोजन के एक भाग के रूप में एसजेवीएन ने 30 अक्तूबर को होटल होली डे होम

होटल होली डे होम शिमला में सतर्कता जागरूकता पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया

होटल होली डे होम शिमला में सतर्कता जागरूकता पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया

शिमला में सतर्कता जागरूकता पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया। यह भाषण प्रतियोगिता विभिन्न स्कूलों/ कालेजों के स्तर पर विजेताओं के बीच ग्रैंड फिनाले के रूप में थी।

एसजेवीएन के निदेशक (कार्मिकद्) नन्द लाल शर्मा इस अवसर के मुख्य अतिथि थे तथा एसजेवीएन के मुख्य सतर्कता अधिकारी, आईपीएस बीएनएस नेगी विशिष्ट अतिथि थे। आज की प्रतियोगिता के विषय शासन में पारदर्शिता, भ्रष्टाचार के खिलाफ युवाओं की भागीदारी, भ्रष्टाचार एवं इसके प्रभाव थे। भाषण प्रतियोगिता के दौरान विभिन्न स्कूलों तथा कालेजों के युवा प्रतिभावान छात्रों ने अपनी प्रभावी कौशल प्रस्तुति से सभी को प्रभावित किया।

एसजेवीएन के निदेशक (कार्मिक), नन्द लाल शर्मा ने इस अवसर पर भ्रष्टाचार के विरूद्ध युवाओं की भूमिका तथा सुशासन में पारदर्शिता के महत्व पर बल दिया। एसजेवीएन के मुख्य सतर्कता अधिकारी बीएनएस नेगी आईपीएस ने बताया कि सतर्कता जागरूकता सप्ताह मनाने का मुख्य उद्देश्य प्रत्येक क्षेत्र में भ्रष्टाचार के उन्मूलन के लिए लगातार काम करते हुए ईमानदारी, निष्पक्षता तथा पारदर्शिता लाने और इसे बनाये रखने के बारे में कर्मचारियों को जागरूक करना है। इसके अतिरिक्त एक अन्य उद्देश्य भ्रष्टाचार व इसके बुरे प्रभावों के बारे में जनता को शिक्षित करना है।

  • स्कूल स्तर की भाषण प्रतियोगिता में 10,000 रूपए का प्रथम पुरस्कार
एसजेवीएन द्वारा समय-समय पर स्कूल व कॉलेज स्तर पर बच्चों को प्रोत्साहित करने के किये अक्सर कई कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं

एसजेवीएन द्वारा समय-समय पर स्कूल व कॉलेज स्तर पर बच्चों को प्रोत्साहित करने के किये अक्सर कई कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं

एसजेवीएन द्वारा समय-समय पर स्कूल व कॉलेज स्तर पर बच्चों को प्रोत्साहित करने के किये अक्सर कई कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं

एसजेवीएन द्वारा समय-समय पर स्कूल व कॉलेज स्तर पर बच्चों को प्रोत्साहित करने के किये अक्सर कई कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं

स्कूल स्तर की भाषण प्रतियोगिता में 10,000 रूपए का प्रथम पुरस्कार सीनियर सेकेण्डरी स्कूल फार गर्ल्स, पोर्टमोर की 12वीं कक्षा की छात्रा अंकिता खागटा 8,000 रूपए का द्वितीय पुरस्कार एसडी सीनियर सेकेण्डरी स्कूल गंज बाजार की 12वीं कक्षा की छात्रा इत्तिका ठाकुर, 6000 रूपए का तृतीय पुरस्कार सरस्वती पैराडाइज इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल संजौली की 11वीं कक्षा की छात्रा तान्या वर्मा तथा 3000 रूपए के सांत्वना पुरस्कार को गवर्नमेंट सीनियर सेकेण्डरी स्कूल टूटीकंडी के 10वीं कक्षा के छात्र नीरज ने प्राप्त किया।

  • कालेज स्तर की प्रतियोगिता में 10,000 रूपए का प्रथम पुरस्कार

कालेज स्तर की प्रतियोगिता में 10,000 रूपए का प्रथम पुरस्कार आरकेएमवी कालेज लांगवुड की छात्रा ज्योति ठाकुर, 8,000 रूपए का द्वितीय पुरस्कार आरकेएमवी कालेज लांगवुड की छात्रा पूनम नेगी, तृतीय पुरस्कार राजीव गांधी डिग्री कालेज चौड़ा मैदान के छात्र सौरभ दीप तथा 3000 रूपए के सांत्वना पुरस्कार को यूआईआईटी हिमाचल विश्व विद्यालय की बीटेक की छात्रा नेहा ने प्राप्त किया।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *