सर्वविख्यात धार्मिक पर्यटन स्थल की नगरी "चंबा"

सर्वविख्यात धार्मिक पर्यटन स्थल की नगरी “चंबा”

  • रानी चंपावती के नाम पर बसा चंबा
  • प्राचीन संस्कृति और विरासत को संजोए चंबा
रानी चंपावती के नाम पर बसा चंबा

रानी चंपावती के नाम पर बसा चंबा

चंबा भारत के हिमाचल प्रदेश प्रान्त का एक नगर है। हिमाचल प्रदेश का चंबा अपने रमणीय मंदिरों और हैंडीक्राफ्ट के लिए सर्वविख्यात है। रावी नदी के किनारे 996 मीटर की ऊंचाई पर स्थित चंबा पहाड़ी राजाओं की प्राचीन राजधानी थी। चंबा को राजा साहिल वर्मन ने 920 ई. में स्थापित किया था। इस नगर का नाम उन्होंने अपनी प्रिय पुत्री चंपावती के नाम पर रखा। चारों ओर से ऊंची पहाड़ियों से घिरे चंबा ने प्राचीन संस्कृति और विरासत को संजो कर रखा है। प्राचीन काल की अनेक निशानियां चंबा में देखी जा सकती हैं।

खजियार से 22 कि.मी. दूर एक अन्य दर्शनीय जगह है चंबा शहर। यहां से आप अपनी पसंद की हर चीज खरीद सकते हैं। इस बाजार से चंबा रुमाल, चंबा की चप्पल और यहां की अन्य ठेठ पारंपरिक चीजें काफी मशूहर हैं।

हिमाचल प्रदेश का जिला चंबा का एक बेहद खूबसूरत स्थल है:- खजियार समुद्रतल से 2000 मीटर की ऊंचाई लिए यह स्थल पश्चिम हिमाचल की धौलाधार पर्वत श्रृंखला के धरातल में बसा है। खजियार का नाम यहां स्थित ‘खजी नाग” के मंदिर के कारण पड़ा माना जाता है। इस स्थल की भौगोलिक सरंचना के कारण इसे ‘भारत का मिनी स्विट्रजरलैंड भी कहा जाता है। एक ही स्थान पर झील, चरागाह और वन इन तीनों पारिस्थितिक तंत्र का होना एक दुर्लभ संयोग की तरह है जो इसकी सुंदरता में और भी निखार लाता है।

हिमाचल प्रदेश का जिला चंबा का एक बेहद खूबसूरत स्थल है:- खजियार

हिमाचल प्रदेश का जिला चंबा का एक बेहद खूबसूरत स्थल है:- खजियार

खजियार तथा इसके आस-पास बहुत-सी सुंदर जगहें और भी हैं जिन्हें घूमे बगैर आपकी यात्रा अधूरी-सी मानी जाएगी। तो आइए चलते हैं सबको बारी-बारी से निहारने।

मुख्य आकर्षण स्थल- खजियार झील: यह खजियार का मुख्य आकर्षण स्थल है। चारों ओर से घने देवदार के जंगल और हरे मैदान के बीचों-बीच स्थित इस झील और झील के बीच में तैरते छोटे-छोटे भूखंड इसकी खूबसूरती में चार चांद लगाते हैं।

खाजीनाग मंदिर: 12वीं शताब्दी में बना खाजीनाग का यह मंदिर लोगों की धार्मिक आस्था और श्रृद्धा का प्रतीक है। नाग को समर्पित इस मंदिर में नाग की मूर्तियों के अलावा मंडप में पांडवों द्वारा कौरवों पर हुई जीत की छवियों को छत की लकड़ी पर देखा जा सकता है जो इसकी ऐतिहासिकता को और समृद्ध करती है।

Pages: 1 2 3

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *