शिमला गुड़िया प्रकरण : अब दोषी की सजा पर सुनवाई 15 जून को होगी

शिमला: रुमित सहित अन्य दो 5 दिन के पुलिस रिमांड पर

हिमाचल: प्रदेश के शिमला जिले में धारा-144 लागू होने के बाद प्रदर्शन करने पर पुलिस ने देव भूमि क्षत्रिय संगठन के अध्यक्ष रुमित ठाकुर समेत 3 पदाधिकारियों को गिरफ्तार कर लिया है। इन पर घातक हथियारों के साथ उपद्रव मचाने, सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और हत्या का प्रयास जैसी धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। मिली सूचना के अनुसार शिमला पुलिस ने बीती रात एक बजे राजधानी से लगते शोघी के एक होटल में ठहरे रुमित ठाकुर को गिरफ्तार किया गया है। दरअसल शिमला-कालका हाईवे पर तारा देवी में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया था, जिसमें एएसपी (ASP) समेत कई जवान चोटिल हुए।

इस पर बालूगंज पुलिस ने धारा 147, 148, 149, 341, 353, 332, 307 और 147, 148, 149, 341, 188 आईपीसी और 3 के तहत 2 मामले दर्ज किए हैं। प्रदर्शनकारियों के खिलाफ सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला भी बनाया गया है। धारा-144 लागू होने के बावजूद शहर में प्रदर्शन के दौरान 5 घंटे अराजकता जैसा माहौल रहा, जिसके चलते क्षत्रिय संगठन के लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

रुमित ठाकुर सहित गिरफ्तार तीनों नेताओं को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने चक्कर कोर्ट नम्बर- 3 जज प्रतीभा नेगी की अदालत में पेश किया गया जहां से उन्हें 5 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

सम्बंधित समाचार

Comments are closed