शिमला: 5 साल के बच्चे को घर के आंगन से उठा ले गया तेंदुआ…!

शिमला: शिमला शहर के राम नगर एमसी वार्ड के डाउनडेल क्षेत्र से दिवाली की रात घर के पास खेल रहे करीब पांच साल के मासूम को  तेंदुआ उठाकर ले गया है। बच्चे को खोजने के लिए पुलिस व वन विभाग के वन्य प्राणी विंग की टीम साथ लगते जंगल में सर्च अभियान चला रही है। 

शिमला: 5 साल के बच्चे को घर के आंगन से उठा ले गया तेंदुआ

 जानकारी के अनुसार दिवाली की रात दो बच्चे डाउनडेल में स्थित कोड़ी मोहल्ला में दिवाली की रात 10.30 बजे घर के पास दो बच्चे खेल रहे थे। इसी बीच पटाखों के शोर के बीच तेंदुआ एक बच्चे को उठा ले गया। दूसरे बच्चे की चीख-पुकार सुनकर परिजन और मोहल्ले के अन्य लोग भी मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचित किया गया। शहर के तीन थानों की पुलिस और वन्य प्राणी विभाग की टीमें तेंदुए और लापता बच्चे की तलाश में जुटी है। 

काफी ढूंढने के बाद भी बच्चे का अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है। इस घटना से लोगों में दहशत का माहौल है।बच्चे के पिता केदारनाथ शिमला में टैक्सी चलाने का काम करते हैंये सोलन जिला के दाड़लाघाट के स्थानीय निवासी हैं और काफी समय से डाउन डेल के काैड़ी माेहल्ला में रहते हैं। शहर में तेंदुए द्वारा बच्चे पर हमले की यह दूसरी घटना है। इससे पहले इसी साल चार अगस्त को भी तेंदुआ शिमला से कनलोग इलाके में बने एक ढारे से एक बच्ची को उठा ले गया था।

वन्य प्राणी विंग के डीएफओ एन रविशंकर ने बताया है कि पुलिस से इसकी जानकारी मिलते ही टीमें रवाना कर दी थी। वन अधिकारी व कर्मचारी मौके पर पहुंच कर रात से बच्चे को तलाश रहे हैं। फिलहाल वन विभाग व पुलिस की अलग-अलग टीमें बच्चे की तलाश कर रही हैं, लेकिन अभी तक न तो किसी जानवर के होने के प्रमाण मिले हैं और न ही बच्चे का कोई सुराग लगा है।

 एसपी शिमला डॉ. मोनिका ने कहा कि इस मामले में जांच चल रही है। सर्च टीमें काम कम रही हैं। बच्चे को साथ खेल रहे दूसरे बच्चे ने जानवर के उठाने की बात कही है। पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है। टीमें भी बच्चे को तलाशने में लगी है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1  +  4  =