शिमला: एसजेवीएन द्वारा सतर्कता जागरूकता सप्ताह 2021 के दौरान स्कूल-कॉलेजों में नारा लेखन प्रतियोगिता” आयोजित

शिमला: एसजेवीएन द्वारा सतर्कता सप्‍ताह-2021 के अवसर पर शिमला स्थित स्‍कूलों और कॉलेजों में आयोजित किए जा रहे विभिन्‍न कार्यक्रमों की कड़ी में एसजेवीएन द्वारा सरस्‍वती विद्या मंदिर, विकासनगर, शिमला में ‘’स्‍वतंत्र भारत @75: सत्‍यनिष्‍ठा से आत्‍मनिर्भरता’ विषय पर अंग्रेजी तथा हिंदी में भाषण प्रतियोगि‍ता का आयोजन किया गया

 इस कार्यक्रम में मुख्‍य अतिथि के रूप में मृदुला श्रीवास्‍तव, उप महाप्रबंधक, एसजेवीएन सहित सरस्‍वती विद्या मंदिर, विकासनगर, शिमला के प्रिंसिपल,  लेखराज ठाकुर सहित एसजेवीएन लिमिटेड के सतर्कता विभाग की ओर से सहायक प्रबंधक अर्जुन नेगी, सहायक प्रबंधक(सतर्कता) तथा राजभाषा विभाग से अशोक तनवर, अधिकारी(राजभाषा) भी उपस्थित थेI  कार्यक्रम की अध्‍यक्षता करते हुए मुख्‍य अतिथि  मृदुला श्रीवास्‍तव ने एसजेवीएन के ऊर्जा उत्‍पादन के लक्ष्‍यों को स्‍पष्‍ट करने के साथ-साथ अपने निगम के सामाजिक दायित्‍वों पर भी प्रकाश डाला

उन्‍होंने कहा कि सत्‍यनिष्‍ठा और आत्‍मविश्‍वास से सराबोर विद्यार्थी ही आत्‍मनिर्भर भारत का निर्माण कर सकते हैं।   श्रीवास्‍तव ने आत्‍मनिर्भर होने के लिए विद्यार्थियों में कौशल विकास और अपने व्‍यक्तित्‍व में निहित क्षमताओं का विकास करने के गुण को भी आवश्‍यक बताया। कोविड-19 की संकटकालीन परिस्थितियों में विद्यार्थियों ने ऑन लाईन अध्‍ययन को जारी रख साबित किया कि वे भी कोविड-19 के वॉरियर्स हैं।  उन्‍होंने इस अर्थ में इस विद्यालय के सभी अध्‍ययनरत विद्यर्थियों को बधाई दी और प्रधानाचार्य का विशेष धन्‍यवाद भी किया

उक्‍त प्रतियोगिता में  श्रीवास्‍तव  के कर कमलों से क्रमशः सुश्री इशिता बंसल को दो हजार पांच सौ रूपए का प्रथम पुरस्कार,  सुश्री कुसुम शर्मा को दो हजार रूपए का द्वितीय पुरस्‍कार, सुश्री तनुजा ठाकुर को पंद्रह सौ रुपए के तृतीय पुरस्‍कार सहित एक-एक हजार रुपए के पांच सांत्‍वना पुरस्‍कार क्रमश:  रितिक,  निखिल भारद्वाज, सौम्‍य चौहान, निखिल जोशी को प्रदान किए गए।  इसके अतिरिक्‍त प्रतियोगिता में प्रतिभागिता पुरस्‍कार के रूप में प्रत्‍येक विद्यार्थी को 200/- रुपए के तीस पुरस्‍कार प्रदान किए गए।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  −  3  =  4