Independence Day 2021: कर्मचारियों व पैंशनधारकों 1 जुलाई से मिलेगा 6 प्रतिशत मंहगाई भत्ता, मुख्यमंत्री ने सेरी मंच से की घोषणा

  • हिमाचल प्रदेश में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया 75वां स्वतंत्रता दिवस समारोह

  • प्रदेश के दो वीर जवानों को अनुकरणीय पराक्रम के लिए अशोक चक्र और 1096 शौर्य पुरस्कारों से नवाजा गया

  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग, हिमाचल प्रदेश ग्रामीण आजीविका मिशन और खण्ड विकास अधिकारी गोहर निशांत शर्मा को हिमाचल प्रदेश सिविल सर्विसिज पुरस्कार से किया सम्मानित

  • डाॅ. आर.के परूथी और सतपाल को प्रेरणा स्रोत पुरस्कार जबकि सूबेदार संजय कुमार, सूबेदार मेजर बलवंत सिहं, करतार सिंह व राहुल रैना को हिमाचल गौरव पुरस्कार से  किया गया सम्मानित 

  • बीपीएल परिवारों के लिए खाद्य तेल पर आगामी चार महीनों के लिए अनुदान राशि 10 रुपए प्रति लीटर से बढ़ाकर 30 रुपए प्रति लीटर करने और एपीएल परिवारों के लिए 5 रुपए से 10 रुपए प्रति लीटर करने की घोषणा 

  • मुख्यमंत्री ने मण्डी नगर निगम के लिए 15 करोड़ रुपए देने की भी घोषणा

हिमाचल:  प्रदेश में 75वां स्वतंत्रता दिवस समारोह अमृत महोत्सव के रूप में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जिला और उप-मण्डल स्तर पर भी समारोह आयोजित किए गए। ध्वजारोहण के साथ-साथ पुलिस, गृह रक्षक, एसएसबी, आइटीबीपी के जवानों द्वारा प्रस्तुत मार्च पास्ट समारोह के मुख्य आकर्षण रहे। राज्य स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह मण्डी के ऐतिहासिक सेरी मंच पर आयोजित किया गया, जिसकी अध्यक्षता मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने की।

मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और पुलिस बल, गृह रक्षक, एसएसबी और आइटीबीपी के जवानों द्वारा प्रस्तुत मार्च पास्ट की सलामी ली। प्रणब चौहान ने परेड की अगुवाई की।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर अपने संबोधन में राज्य सरकार के कर्मचारियों और पैंशनधारकों के लिए पहली जुलाई, 2021 से 6 प्रतिशत मंहगाई भत्ता देने की घोषणा की। इस निर्णय से कर्मचारियों और पैंशनरों को 450 करोड़ रुपए का वित्तीय लाभ होगा।

उन्होंने बीपीएल परिवारों के लिए खाद्य तेल पर आगामी चार महीनों के लिए अनुदान राशि 10 रुपए प्रति लीटर से बढ़ाकर 30 रुपए प्रति लीटर करने और एपीएल परिवारों के लिए 5 रुपए से 10 रुपए प्रति लीटर करने की घोषणा की। इस निर्णय से राज्य के 18.71 लाख कार्डधारक लाभान्वित होंगे। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने मण्डी नगर निगम के लिए 15 करोड़ रुपए देने की भी घोषणा की ताकि निगम विकासात्मक कार्यांका सुचारू रूप से क्रियान्वयन कर सके।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर राष्ट्र के गौरव और सम्मान के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धाजंलि दी। उन्होंने उन शहीद योद्धाओं को भी श्रद्धाजंलि दी जिन्होंने देश की सम्प्रभुता के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि यह गर्व की बात है कि धरती पुत्र मेजर सोमनाथ शर्मा को देश का पहला परमवीर चक्र मिला। इसके अलावा कर्नल डीएस थापा, विक्रम बतरा और राइफल मैन संजय कुमार को भी अतुलनीय वीरता के लिए सर्वोच्च सम्मान से सम्मानित किया गया। प्रदेश के दो वीर जवानों को अनुकरणीय पराक्रम के लिए अशोक चक्र और 1096 शौर्य पुरस्कारों से नवाजा गया है। प्रदेश के वीर जवानों द्वारा हासिल किए गए सम्मान आने वाली पीढि़यों के लिए प्रेरणा स्रोत रहेंगे।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न योजनाएं शुरू की हैं। नई राहें-नई मंजिलें योजना के अंतर्गत 200 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। कांगड़ा के बीड़ बिलिंग को पैराग्लाइडिंग, शिमला की चांशल घाटी को स्की और मण्डी के जंजैहली को इको-पर्यटन गंतव्य के रूप में विकसित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य में सड़कों का निर्माण प्रदेश सरकार की उच्च प्राथमिकताओं में एक है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत राज्य में 2700 करोड़ रुपए के व्यय से 780 कार्य पूर्ण किए गए हैं। राज्य के सभी गांवों और बस्तियों में लोगों को स्वच्छ पेयजल सुनिश्चित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। जल जीवन मिशन के अंतर्गत राज्य में लगभग 6 लाख परिवारों को पेयजल सुविधा प्रदान की गई है।

मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग, हिमाचल प्रदेश ग्रामीण आजीविका मिशन और खण्ड विकास अधिकारी गोहर निशांत शर्मा को हिमाचल प्रदेश सिविल सर्विसिज पुरस्कार से सम्मानित किया। डाॅ. आर.के परूथी और सतपाल को पे्ररणा स्रोत पुरस्कार जबकि सूबेदार संजय कुमार, सूबेदार मेजर बलवंत सिहं, करतार सिंह व राहुल रैना को हिमाचल गौरव पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

उन्होंने आशीष कुमार, प्रियंका नेगी, ऋतु नेगी, कविता ठाकुर, अजय ठाकुर, खिला देवी, दीक्षा ठाकुर, प्रियंका ठाकुर, ज्योतिका दत्ता, विकास ठाकुर और कोच नरेश कुमार को खेल के क्षेत्र में उत्कृष्ट एवं प्रशंसनीय योगदान के लिए नकद पुरस्कार प्रदान किए।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर पुलिस विभाग को 34 लाईट मोटर वाहन प्रदान किए।

विभिन्न विभागों की झांकियां इस आयोजन का मुख्य आकर्षण रहीं। इस अवसर पर रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने शहीद स्मारक में स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों को पुष्पाजंलि अर्पित की।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

22  +    =  32