महाविद्यालय के पुस्तकालय को 50% क्षमता से जल्द से जल्द खोला जाए: अभाविप

शिमला: कोरोना महामारी के कारण विकट परिस्थितियों के चलते महाविद्यालय परिसर भी लम्बे समय के बाद परीक्षाओं के लिए खोले गए हैं। उसी कड़ी में आज विद्यार्थी परिषद संजौली इकाई के कार्यकर्ताओं ने शिक्षा के क्षेत्र से जुड़ी छात्रों की विभिन्न माँगों को लेकर प्राचार्य से मिले। जिसमें महाविद्यालय के पुस्तकालय को खोलने लेकर भी मांग की गई। अंतिम वर्ष की परीक्षाएं पिछले कल से शुरू हो चुकी है। विद्यार्थी को कॉलेज आने के बाद पढ़ाई करने के लिए महाविद्यालय परिसर में बैठना पड़ रहा है। इकाई उपाध्यक्ष अमित ने जानकारी देते हुए बताया की महाविद्यालय के पुस्तकालय को जल्द से जल्द खोला जाए ताकि महाविद्यालय आने वाले विद्यार्थियों को किसी तरह की समस्याओं का सामना ना करना पड़े।

अमित ने कहा कि कुछ विद्यार्थी दूरदराज के क्षेत्रों से आते हैं तो वह परीक्षाओं से 1 घंटे पूर्व महाविद्यालय पहुँच जाते हैं तो पुस्तकालय के खुलने से वे वहां बैठकर पढ़ाई कर सकते हैं। अमित ने बताया कि महाविद्यालय के प्रधानाचार्य ने आश्वासन जताते हुए बताया है कि किसी कारण वश हम पुस्तकालय को खोलने में असफल हैं, लेकिन हम परीक्षाओं को ध्यान में रखते हुए विद्यार्थियों के लिए कुछ उचित व्यवस्था करेंगे। विद्यार्थी परिषद ने सुझाव दिया कि विद्यार्थियों के लिए अन्य स्थान पर यह सुविधा प्रदान की जाए और वहां उचित वातावरण तैयार किया जाए ताकि विद्यार्थियों को पढ़ने में सुविधा हो, यदि 2 दिन के अंदर पुस्तकालयों के लिए कोई व्यवस्था नहीं की जाती है तो विद्यार्थी परिषद आने वाले समय में आन्दोलन करेंगे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

29  +    =  31