सियासी हलचल : सुधीर पहुंचे धर्मशाला,कल बुलाई बूथ कमेटियों की मीटिंग

प्रो. धूमल झूठे दावों को सही ठहराने का कर रहे हैं प्रयास : सुधीर शर्मा

शिमला : शहरी विकास एवं आवास मंत्री सुधीर शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल द्वारा हाल ही में एक पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के विरूद्ध सी.डी. मामले के सन्दर्भ में लगाए गए आरोपों को झूठ का पुलिंदा करार दिया है। उन्होंने कहा कि धूमल प्रदेशवासियों के सामने सरासर झूठी कहानी परोस रहे हैं, जबकि हर व्यक्ति यह जानता है कि प्रेम कुमार धूमल के इशारे पर ही मीडिया को सी.डी. बांटी गई, क्योंकि इससे उन्हें लाभ मिल सकता था।

यह सही है कि ‘सी.डी.’ को वर्ष 2007 में धर्मशाला में एक पत्रकार वार्ता में विजय सिंह मनकोटिया द्वारा मीडिया के लिए जारी किया गया, लेकिन भाजपा नेताओं ने भाजपा सांसद सुरेश चन्देल के ‘कैश फॉर क्वैरी’ स्कैम में फसने के कारण निलम्बन से खाली हुई हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के हर पोलिंग बूथ पर यह सी.डी. बांटी गई।

उन्होंने आश्चर्य व्यक्त किया कि धूमल आज मनकोटिया पर मुख्यमंत्री के विरूद्ध सैशन ट्रायल आरम्भ करने का आरोप मढ़ रहे हैं, लेकिन सच यह है कि धूमल ने हमीरपुर में प्रेस वार्ता की और इसके 15 मिनट बाद ही हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के उप-चुनावों के मददेनजर भाजपा द्वारा सी.डी. हर पोलिंग बूथ पर बांटी तथा चलाई गई। धूमल कांग्रेस उम्मीदवार से कड़े मुकाबले से घबरा गए थे। शर्मा ने कहा कि अब झूठे दावों को सही ठहराने का प्रयास कर रहे हैं और हल्की राजनीति कर रहे हैं, जो उन्हें शोभा नहीं देता।

उन्होंने कहा कि प्रेम कुमार धूमल ने मुख्यमंत्री रहते हुए वीरभद्र सिंह के विरूद्ध झूठे मामले बनाए और सिंह ने दो बार सैशन ट्रायल का सामना किया और दोनों ही बार बेदाग साबित हुए। आज धूमल यह बयान दे रहे हैं कि उन्होंने वीरभद्र सिंह के विरूद्ध कुछ भी नहीं किया, यह धूमल के उनके राजनीतिक विरोधियों के प्रति द्वेषपूर्ण रवैये को दर्शाता है। मंत्री ने मीडिया से भी वीरभद्र सिंह के विरूद्ध कोई बयान प्रकाशित करने से पहले इसे सत्यापित और इसकी पुष्टि करने का आग्रह किया। उन्होंने प्रेम कुमार धूमल को इस तरह की बयानबाजी न करने और लोगों के समक्ष सच रखने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोग भाजपा नेताओं के हथकडों से भलीभांति परिचित हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *