ऊना : मैड़ी होली मेला में 28 मार्च को चढ़ेगा झंडा, ओवरलोडिंग रोकने में पंजाब करे सहयोगः डीसी

ऊना : मैड़ी होली मेला में 28 मार्च को चढ़ेगा झंडा, ओवरलोडिंग रोकने में पंजाब करे सहयोगः डीसी

  • 21 से 31 मार्च तक चलेगा मैड़ी मेला, सफल आयोजन को लेकर डीसी ने की बैठक

  • मेले की तैयारियों पर डीसी ने पंजाब के अधिकारियों के साथ की समन्वय बैठक की अध्यक्षता

ऊना : मैड़ी मेला की तैयारियों पर पंजाब के अधिकारियों के साथ उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने आज समन्वय बैठक की, जिसमें यातायात प्रबंधन, पार्किंग, ओवरलोडिंग जैसे विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई।

बैठक में डीसी ने कहा कि मैड़ी स्थित डेरा बाबा बड़भाग सिंह होली मेला वर्ष-2021 का आयोजन 21 से 31 मार्च 2021 तक किया जा रहा है तथा झंडा चढ़ाने की रस्म 28 मार्च को होगी। पिछले वर्ष भी मैड़ी में 5-8 लाख श्रद्धालु मात्था टेकने के लिए पहुंचे थे। मेले में शामिल होने के लिए पंजाब व हरियाणा से श्रद्धालु अकसर ट्रकों, ट्रालियों व अन्य मालवाहक वाहनों में ओवरलोडिंग कर पहुंचते हैं, जिससे दुर्घटना की आशंका रहती है, इसलिए बेहद आवश्यक है कि ओवरलोडिंग को रोका जाए। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ऊना हादसों को रोकने के लिए गंभीर प्रयास कर रहा है, लेकिन इसमें पंजाब का सहयोग अनिवार्य है, विशेष रूप से पड़ोसी जिलों का। अगर पंजाब में ही ओवरलोडिंग की समस्या पर नकेल कसी जाए, तो जिला प्रशासन ऊना को सुविधा होगी तथा मैड़ी मेले के आयोजन में सुविधा होगी।

राघव शर्मा ने कहा कि मालवाहक वाहनों में ओवरलोड होकर आने वाले श्रद्धालुओं को रोकने के लिए हिमाचल पुलिस तथा पंजाब पुलिस संयुक्त नाके लगाएंगे। मैहतपुर-नंगल के बीच, पंजाब के साधु चक्क, मरवाड़ी तथा गगरेट आरटीओ बैरियर के पास पिछले वर्ष की भांति पुलिस नाके स्थापित होंगे। ट्रैफिक नियमों की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए इन स्थानों के अतिरिक्त गढ़शंकर की तरफ भी इस वर्ष संयुक्त पुलिस नाका लगाया जाएगा।

  • शटल बसों का प्रबंध करें

उपायुक्त राघव शर्मा ने कहा कि ओवरलोडिंग करके आने वाले वाले श्रद्धालुओं को नाकों पर उतारा जाएगा तथा यहां से उन्हें शटल बस की सुविधा प्रदान की जाएगी, जिसका प्रबंध एचआरटीसी की ओर से किया जाएगा। उन्होंने बैठक में उपस्थित रोपड़, होशियारपुर तथा जालंधर के प्रशासनिक अधिकारियों से ओवरलोडिंग तथा अन्य ट्रैफिक नियमों को अनुपालना सुनिश्चित करने की अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर पंजाब प्रशासन भी ट्रैफिक नियमों की अवहेलना करने वाले को वहीं पर रोके और अपने स्तर पर मैड़ी तक शटल बस सुविधा प्रदान करे तो इससे काफी सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि ओवरलोडिंग की समस्या पर लगाम कसने के लिए मैड़ी के गुरुद्वारा प्रबंधकों की ओर से भी सोशल मीडिया पर अपील करवाई जाएगी।

  • नैहरियां-नंदपुर रोड रहेगा वनवे

बैठक में जिलाधीश ने कहा कि मैड़ी मेला के दौरान नैहरियां-नंदपुर रोड वनवे रहेगा। इस सड़क पर नैहरियां से नंदपुर की ओर आने की अनुमति रहेगी, जबकि मैड़ी जाने के लिए अंब होते हुए ही जाना होगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *