एनीमिया जागरूकता शिविर 22 फरवरी से

एनीमिया जागरूकता शिविर 22 फरवरी से

  • शिविरों में रोगियों की जाएगी निःशुल्क रक्त जांच व एनीमिया से सम्बन्धित दवाएं भी दी जाएंगी निःशुल्क

सोलन : आयुष विभाग द्वारा किशोरियों, गर्भधात्री महिलाओं को रक्तालपता के विषय में जागरूक बनाने तथा इस बीमारी की रोकथाम के दृष्टिगत सोलन जिला के धर्मपुर विकास खण्ड की विभिन्न ग्राम पंचायतों में जागरूकता के तृतीय चरण के तहत 22 फरवरी से 06 मार्च, 2021 तकएनीमिया जागरूकता शिविर आयोजित किए जाएंगे। यह जानकारी जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने आज यहां दी।

डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि जागरूकता शिविरों को सफल बनाने के लिए आयुष विभाग द्वारा समुचित प्रबन्ध किए गए हैं। एनीमिया के विषय में लक्षित समूहों को जागरूक करने के लिए आयुष विभाग सोलन द्वारा 4 टीमों का गठन किया गया है। यह टीमें विकास खण्ड धर्मपुर की अलग-अलग ग्राम पंचायतों में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जागरूकता शिविर आयोजित करेंगी। प्रत्येक टीम में आयुर्वेदिक चिकित्सक एवं फार्मासिस्ट की तैनाती की गई है।

उन्होंने कहा कि इन शिविरों में रोगियों की निःशुल्क रक्त जांच की जाएगी तथा उन्हें एनीमिया से सम्बन्धित दवाएं भी निःशुल्क वितरित की जाएंगी।

डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि 22 फरवरी को पंचायत घर जाडला, ग्राम पंचायत नालका के तहत आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र घरेड, ग्राम पंचायत चामियां के तहत चामियां, ग्राम पंचायत बनासर के तहत आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र बनासर तथा ग्राम पंचायत ढकरियाणा में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे।

23 फरवरी को ग्राम पंचायत रौड़ी के तहत रौड़ी, ग्राम पंचायत मंधाला के तहत आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र मंधाला, ग्राम पंचायत कोट के पंचायत घर, ग्राम पंचायत चम्मो के पंचायत घर तथा ग्राम पंचायत गोयला के तहत आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र ठकराना में शिविर आयोजित किए जाएंगे।

24 फरवरी को ग्राम पंचायत प्राथा के पंचायत घर, ग्राम पंचायत टकसाल के पंचायत घर, ग्राम पंचायत जगजीतनगर के पंचायत घर, ग्राम पंचायत घड़सी के तहत माता मंदिर गोयला में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे। 25 फरवरी को ग्राम पंचायत कृष्णगढ़ के पंचायत घर, ग्राम पंचायत जंगेशु के पंचायत घर मसूलखाना, ग्राम पंचायत सूरजपुर के आंगनबाड़ी केन्द्र सूरजपुर, ग्राम पंचायत हुड़ंग के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र कण्डा, ग्राम पंचायत गांगुड़ी के आंगनबाड़ी केन्द्र उपरली गांगुड़ी तथा ग्राम पंचायत घड़सी के माता मंदिर घड़सी में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे। 26 फरवरी को ग्राम पंचायत नारायणी के पंचायत घर, ग्राम पंचायत नाहरी के पंचायत घर, ग्राम पंचायत कालूझिंडा के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र कालूझिंडा में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे।

जिला आयुर्वेदिक अधिकारी ने कहा कि प्रथम मार्च, 2021 को ग्राम पंचायत चण्डी के बेड चण्डी, ग्राम पंचायत बरोटीवाला के पंचायत घर तथा ग्राम पंचायत जाबली के पंचायत घर में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे। 03 मार्च को ग्राम पंचायत कसौली गढ़खल के राजकीय प्राथमिक विद्यालय सनावर, ग्राम पंचायत गनोल के पंचायत घर, ग्राम पंचायत पट्टानाली के पंचायत घर परोल, ग्राम पंचायत गुल्हाड़ी के पंचायत घर, ग्राम पंचायत बुघारकनैता के सामुदायिक केन्द्र बघार घाट तथा ग्राम पंचायत बरोटीवाला के बुरांवाला शिव मंदिर में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे।

04 मार्च को ग्राम पंचायत सनवारा की राजकीय प्राथमिक पाठशाला सनवारा, ग्राम पंचायत आंजी मातला के पंचायत घर मातला, ग्राम पंचायत भावगुड़ी के पंचायत घर, ग्राम पंचायत दाड़वा के राजकीय प्राथमिक विद्यालय बनलगी तथा ग्राम पंचायत टकसाल के राजकीय प्राथमिक विद्यालय कामली में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे।

05 मार्च 2021 ग्राम पंचायत धर्मपुर के तहत महिला मण्डल धर्मपुर, ग्राम पंचायत कोटबेजा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कोटबेजा तथा ग्राम पंचायत बाड़ियां के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र जोहड़जी में यह शिविर आयोजित किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि 06 मार्च को ग्राम पंचायत बढ़लग के पंचायत घर में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किय जाएगा।

डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने इन ग्राम पंचायतों के समस्त निवासियों से एनीमिया जागरूकता शिविरों में भाग लेने का आग्रह किया है ताकि कोई भी रोगी एनीमिया से ग्रस्त न रहे और जागरूकता के माध्यम से भावी पीड़ी को इस बीमारी से बचाया जा सके।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *