भाजपा एक ऐसी राजनीतिक पार्टी जिसमें एक आम कार्यकर्ता भी शीर्ष औहदे पर : नड्डा

भाजपा एक ऐसी राजनीतिक पार्टी जिसमें एक आम कार्यकर्ता भी शीर्ष औहदे पर : नड्डा

धर्मशाला: वर्ष 2022 में होने वाले विधान सभा चुनावों में राज्य भाजपा के ‘ग्राम सभा से विधान सभा’ के संकल्प को पूरा करने के लिए पार्टी के प्रत्येक कार्यकर्ता को प्रतिबद्धता और निष्ठा से कार्य करना चाहिए। राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष  जगत प्रकाश नड्डा ने आज जिला कांगड़ा के धर्मशाला में प्रदेश भाजपा कार्यकारी समिति की बैठक को संबोधित करते हुए यह बात कही।

नड्डा ने कहा कि भाजपा एक ऐसी राजनीतिक पार्टी है, जिसमें एक आम कार्यकर्ता भी शीर्ष औहदे पर पहुंच सकता है जबकि अन्य सभी राजनीतिक पार्टियां एक परिवार विशेष की पार्टियां हैं। भाजपा के पास आज 18 करोड़ से अधिक सदस्य हैं और पार्टी का उद्देश्य राष्ट्र और मानव के समग्र आर्थिक विकास पर आधारित है। उन्होंने कहा कि केंद्र शासित भाजपा सरकार की अगुवाई में शुरू की गई योजनाओं का उद्देश्य समाज के प्रत्येक वर्ग का उत्थान और कल्याण करना है। ‘सबका साथ और सबका विकास और सबका विश्वास’ भाजपा का मूल मंत्र है।

राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष ने पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को स्वयं आकलन और स्व-मूल्यांकन करने का आग्रह किया ताकि यह पता लगाया जा सके कि उन्होंने पार्टी को सुदृढ़ करने में कितनी भूमिका निभाई है।

उन्होंने कहा कि पन्ना प्रमुख सम्मेलनों जैसी पहल कर हिमाचल प्रदेश आज अन्य राज्यों के लिए आदर्श बनकर उभरा है। अब पार्टी को बूथ स्तर पर सुदृढ़ बनाने के लिए पन्ना समिति गठित करने की आवश्यकता है। उन्होंने भाजपा के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं द्वारा कोविड महामारी के दौरान लोगों कोे राहत पहुंचाने के लिए किए गए प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान राष्ट्रीय स्तर पर लगभग 25 करोड़ मोदी फूड किट्स का वितरण किया गया।

जगत प्रकार नड्डा ने कहा कि जिला स्तर पर भाजपा के छह कार्यालयों का निर्माण कार्य आरम्भ कर दिया गया है। उन्होंने राज्य भाजपा अध्यक्ष से प्रदेश के अन्य जिलों में भी भाजपा कार्यालय के निर्माण के लिए भूमि चिन्हित करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि कार्यालय न केवल  पार्टी को सुदृढ़ बनाने के लिए कार्य करने का उपयुक्त स्थान होता है बल्कि एक मजबूत काडर के निर्माण के लिए एक प्रशिक्षण केंद्र और नर्सरी भी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के चुनौतियों में अवसर खोजने के मंत्र से आज भारत प्रति दिन लगभग पांच लाख पीपीई किट तैयार करने में सक्षम बन पाया है। इसके अलावा भारत आज विश्व के 16 देशों को कोविड वैक्सीन उपलब्ध करवा रहा है। यह केवल प्रधानमन्त्री के सक्षम नेतृत्व के कारण ही संभव हो पाया है।

राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जब भी केंद्र में एनडीए की सरकार सत्ता में आई है, हिमाचल प्रदेश हमेशा विकास की दृष्टि से मुख्यधारा से जुड़ा है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के प्रदेश के प्रति विशेष लगाव के कारण प्रदेश को औद्योगिक पैकेज मिला था और अब श्री नरेन्द्र मोदी ने राज्य को एक बार पुनः विशेष दर्जा प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि 3500 करोड़ रुपये की लागत की अटल टनल रोहतांग प्रदेश को केंद्र सरकार का एक तोहफा है।

नड्डा ने पार्टी कार्यकर्ताओं से राज्य और केन्द्र सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों को आम जनता तक ले जाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना, आयुष्मान भारत, हिमकेयर, हिमाचल गृहिणी सुविधा आदि योजनाओं से लोगों के चेहरों पर मुस्कान आई है।
जिला भाजपा अध्यक्ष श्री चन्द्रभूषण नाग ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य लोगों का इस अवसर पर स्वागत किया।

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर, केन्द्रीय वित्त एवं कारपोरेट कार्य राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर, पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सौदान सिंह, राज्य भाजपा प्रभारी अविनाश राय खन्ना, सह प्रभारी संजय टंडन  इस अवसर पर उपस्थित थे।

इससे पूर्व, गग्गल हवाई अड्डे आगमन पर लोगों ने गर्मजोशी के साथ जगत प्रकाश नड्डा और  अनुराग ठाकुर का स्वागत किया।

भारतीय जनता पार्टी की दो दिवसीय प्रदेश कार्यसमिति बैठक के पहले दिन के प्रथम सत्र में भाजपा के इतिहास विकास विषय पर कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन किया। उन्होनें कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विश्व गुरू बनने की ओर अग्रसर है। उन्होनें जोर देते हुए कहा कि जो समाज, राष्ट्र और संगठन को अपने इतिहास को भूला देता है वह विकास की राह पर अग्रसर नहीं हो सकता।
प्रो. धूमल ने कहा कि व्यक्ति कितना भी बड़ा हो लेकिन संगठन से बड़ा नहीं हो सकता। उन्होनें कहा कि भारतीय जनता पार्टी 2 सांसदों से शुरू हुई पार्टी आज 303 सांसद तक पहुंच चुकी है। उन्होनें कहा कि भारतीय जनता पार्टी के विकास को तीन चरणों में विभाजित किया जा सकता है। प्रथम चरण में जनसंघ के रूप में, दूसरे चरण में 1977 से 2014 तक तथा 2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एकल बहुमत वाली पार्टी के रूप में।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *