हिमाचल के पूर्ण राज्यत्व दिवस के स्वर्ण जयंती समारोह पर नड्डा बोले: इतिहास में कुछ क्षण ऐसे अमूल्य होते हैं जो स्वयं से तय नहीं किये जाते

हिमाचल : स्वर्ण जयंती समारोह पर नड्डा बोले: इतिहास में कुछ क्षण ऐसे अमूल्य होते हैं जो स्वयं से तय नहीं किये जाते

शिमला: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व दिवस के स्वर्ण जयंती समारोह के अवसर पर शिमला के ऐतिहासिक रिज मैदान में आयोजित भव्य कार्यक्रम को संबोधित किया और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश के विकास के लिए कटिबद्धता जताई। वंदे मातरम् के उद्घोष और दीप प्रज्ज्वलन के साथ कार्यक्रम का श्रीगणेश हुआ। इस अवसर पर विशेष डाक टिकट भी जारी किया गया। प्रदेश के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा एक कॉफ़ी टेबल बुक का भी विमोचन किया गया। पूर्ण राज्यत्व दिवस के कार्यक्रम को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, प्रदेश के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय, केन्द्रीय राज्य मंत्री जयराम ठाकुर ने भी संबोधित किया। स्वागत भाषण प्रदेश के शहरी विकास एवं आवासीय मंत्री सुरेश भारद्वाज ने दिया। कार्यक्रम में एक वृत्तिचित्र हिमाचल तब और अबका भी प्रसारण किया गया जिसके माध्यम से हिमाचल प्रदेश के 50 वर्षों से विकास के बढ़ते कदम को रेखांकित किया गया। इस अवसर पर स्थानीय कलाकारों द्वारा एक भव्य एवं रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति भी दी गई। कार्यक्रम में विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री, प्रदेश सरकार के सभी मंत्री, सांसद और विधायक सहित बड़ी संख्या में राज्य के नागरिक भी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा कि इतिहास में कुछ क्षण ऐसे अमूल्य होते हैं जो स्वयं से तय नहीं किये जाते। यह सौभाग्य से मिलता है। आज हम सौभाग्यशाली हैं कि हमें इस महान क्षण का साक्षी होने का अवसर मिल रहा है। उन्होंने कहा कि विगत 50 वर्षों में हिमाचल ने विकास की बहुत बड़ी यात्रा की है और इसमें सभी मुख्यमंत्रियों का योगदान रहा है। उन्होंने हर एक हिमाचलवासी को ध्यान दिलाते हुए कहा कि अंधकार का अनुभव करने से ही उजाले की इज्जत होती है। इसलिए हमें यह नहीं भूलना है कि किन संघर्षों से गुजरते हुए हमने प्रदेश में विकास की ये मंजिल पाई है। 

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने हिमाचल प्रदेश के सभी मुख्यमंत्रियों के कृतित्व का स्मरण करते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश की यह पावन भूमि, देवभूमि के साथ-साथ कई मनस्वियों की कर्मभूमि, वीरभूमि और समाज को आगे बढ़ाने वाली पथ प्रदर्शक भूमि है। हमारे प्रथम मुख्यमंत्री यशवंत परमार से लेकर जयराम ठाकुर तक, सब ने प्रदेश को विकास पर अग्रसर करने में बड़ी भूमिका निभाई है। हम अपने मुख्यमंत्री शांता कुमार को नहीं भूल सकते कि उन्होंने कितने प्रयासों से हिमाचल के गाँव-गाँव में पीने का पानी पहुंचाया। उन्होंने महिलाओं के सर से घैला, सुराही उतारने का काम किया, इसलिए वे पानी वाले मुख्यमंत्रीके रूप में जाने जाते हैं। इसी तरहरॉयल्टी का मामला हो या विकास के कई अन्य कार्य, शांता कुमार जी ने इसे जमीन पर उतार कर दिखाया। जब प्रेम कुमार धूमल मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने श्रद्धेय अटल बिहार वाजपेयी जी द्वरा शुरू की गई प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत प्रदेश के गाँव-गाँव सड़क पहुंचाई। श्रद्धेय अटल जी ने हिमाचल प्रदेश को विशेष कैटेगरी में शामिल करते हुए आर्थिक पैकेज दिया था जिससे कि हिमाचल विकास के पथ पर तेज गति से अग्रसर हुआ। 

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि शिमला में सुपर स्पेशियलिटी हो, मण्डी, चंबा, बिलासपुर और ऊना में मेडिकल कॉलेज हो, कैंसर इंस्टीटयूट हो, बिलासपुर में एम्स हो या फिर ऊना में पीजीआई सैटेलाईट सेंटर हो, हिमाचल प्रदेश ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी प्रगति की है जिसकी कुछ समय पूर्व कल्पना भी संभव नहीं थी। इसी तरह हमारी साक्षरता दर 36% से बढ़ कर 86% हो गई है। मॉर्टलिटी रेट में काफी सुधार हुआ है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर बन रहे हैं और घर में बिजली, पानी पहुंचाए जाने के साथ-साथ शौचालयों का निर्माण हो रहा है। हिमाचल प्रदेश में उद्योगों की स्थिति में भी व्यापक सुधार आया है। 

नड्डा ने कहा कि जयराम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश की भाजपा सरकार ने विकास को नया आयाम दिया है। 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मैं आज आप सबसे निवेदन करता हूँ कि हिमाचल प्रदेश की देश में एक अलग और साफ़-सुथरी छवि है। हर हिमाचल वासी की छवि एक ईमानदार और इरादों के पक्के वाली पहाड़ी की है। सादगी हमारी ताकत है, विनम्रता हमारी पहचान है। हिमाचल के प्रहरी के तौर पर हम अपनी पहचान को बनाए रखते हुए अपनी सांस्कृतिक धरोहर को संभाल कर रखें और इसे सहेजते हुए आगे बढ़ें। मुझे विश्वास है कि जब हम अपने हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व दिवस की 75वीं सालगिरह मना रहे होंगे तो हम हर क्षेत्र में देश में प्रथम स्थान पर होंगे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *