आत्मनिर्भर भारत पैकेज से कृषि संबद्ध क्षेत्र को मिली नई गति : अनुराग

स्वर्णिम से प्लेटिनम जयंती के 25 वर्षों में हिमाचल को बनाएंगे नम्बर 1 राज्य : अनुराग

शिमला: केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट अफ़ेयर्स राज्यमंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश के 50वें राज्यत्व दिवस के अवसर पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएँ देते हुए इस स्वर्णिम जयंती से प्लेटिनम जयंती के बीच के आने वाले 25 वर्षों में साझा प्रयासों से हिमाचल प्रदेश को देश का अग्रणी राज्य बनाने की बात कही है।

अनुराग ठाकुर ने कहा देवभूमि हिमाचल के सभी सम्मानित निवासियों को 50 वें राज्यत्व दिवस की शुभकामनायें ।वीरभूमि हिमाचल ने इन 50 वर्षों में आशाओं, आकांक्षाओं व विश्वास की कसौटी पर खुद को खरा प्रमाणित किया है। अगर एक तरफ़ यहाँ के वीरों ने अपना लहू बहा कर माँ भारती के गौरव की रक्षा की है तो दूसरी तरफ़ हमारी पहाड़ी कला , संस्कृति व अतुल्य प्राकृतिक सौंदर्य ने विश्व भर में अपनी अलग छाप छोड़ी है। यह अवसर अपनी विरासत पर गर्व करने व साथ मिलकर प्रदेश के भविष्य को स्वर्णिम बनाने का है। पूर्व में श्रद्धेय अटल जी ने व अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने हिमाचल को अपना दूसरा घर माना है व इसे संवारने,निखारने एवं सहेजने के प्रति कृतसंकल्पित रहे हैं

आगे बोलते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा हिमाचल प्रदेश एक युवा राज्य है व हमारे पास अपनी इस कर्मभूमि को और आगे ले जाने की अपार सम्भावनाएँ हैं। अगर हिमाचल प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री डॉ. वाई.एस. परमार ने अपने अथक परिश्रम व दृढ़ इच्छाशक्ति से हिमाचल गठन में अहम भूमिका निभाई तो पानी वाले मुख्यमंत्री शांता कुमार  व सड़कों वाले मुख्यमंत्री  प्रेमकुमार धूमल  ने हिमाचल के विकास को प्रगति पथ पर आगे बढ़ाया जोकि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर  के नेतृत्व में अनरवत आगे बढ़ रहा है। स्वर्णिम जयंती से प्लेटिनम जयंती के बीच के आने वाले 25 वर्षों में हिमाचल स्वच्छता,सुंदरता,सबसे ज़्यादा आय,आत्मनिर्भरता के पैमाने पर देश का अग्रणी राज्य बने इसके लिए हम पार्टी लाइन से ऊपर उठकर हिमाचल को देश का नम्बर 1 राज्य बनाएँगे । हिमाचल प्रदेश में नेतृत्व  का अभाव कभी नहीं रहा, एक सामान्य पार्टी कार्यकर्ता से विश्व की सबसे बड़ी राजनैतिक पार्टी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद को इस देवभूमि के रत्न जगत प्रकाश नड्डा जी ने सुशोभित किया है। हमें गर्व है कि यह हमारी कर्मभूमि है।

 अनुराग ठाकुर ने कहा हिमाचल के लोग अपनी मेहनत और कार्यक्षमता के लिए पूरे विश्व में जाने जाते हैं,और उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में परिश्रम से अपनी और हिमाचल की स्वर्णिम पहचान गढ़ी है। अब समय है कि हम अपने हिमाचल के लिए अपनी प्रतिभा और कार्यकुशलता का किस तरह इस्तेमाल करके आने वाले वर्षों में हिमाचल को एक ऐसा आदर्श राज्य बनाएँ जो कि बाक़ी के 28 राज्यों के लिए प्रेरणास्त्रोत का काम करे। साधन व सुविधाएं दोनों की क़िल्लत नहीं होगी, चयन की समस्या उतपन्न नहीं हो रही होगी, जनताओं के प्रत्येक स्थिति से नीतिनिर्माता अवगत होंगे यही वह आदर्श स्थिति होगी जो हिमाचल को देश का अग्रणी राज्य बनाएगी और इसके लिए हम कृतसंकल्पित हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *