एन.यू.जे इंडिया हिमाचल ने बद्दी में मनाया राज्य स्तरीय 49वां स्थापना दिवस

एन.यू.जे इंडिया हिमाचल ने बद्दी में मनाया राज्य स्तरीय 49वां स्थापना दिवस

  • पत्रकारों की मांगों को बजट में शामिल करने की सीएम से की मांग

  • गौ संवर्धन बोर्ड के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा ने की मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत

  • बेहतर कार्य करने वाले पत्रकारों को हिमाचल गौरव अवार्ड से नवाजा गया

  • अतिथियों ने स्वस्थ पत्रकारिता करने का किया आहवान

बददी : भारत के सबसे बडे पत्रकार संगठन नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्टस इंडिया की हिमाचल इकाई ने संगठन का राज्य स्तरीय स्थापना दिवस बददी में आयोजित किया जिसमें पूरे प्रदेश से सौ के लगभग पत्रकारों ने शिरकत की। कार्यक्रम में गौसंर्धन बोर्ड हिमाचल सरकार के उपाध्यक्ष अशोकर शर्मा ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की जबकि विशिष्ट अतिथि के तौर पर हिमाचल ड्रग मैनुफेकचरिंग एसोसिएशन के चेयरमैन सतीश सिंगला व लघु उद्योग भारती के प्रदेशाध्यक्ष राजीव कसंल ने भाग लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता हिमाचल प्रदेश यूनियन आफ जर्नलिस्टस के प्रदेशाध्यक्ष रणेश राणा ने की।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए हिमाचल प्रदेश यूनियन ऑफ जर्नलिस्टस के प्रदेशाध्यक्ष रणेश राणा

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए हिमाचल प्रदेश यूनियन ऑफ जर्नलिस्टस के प्रदेशाध्यक्ष रणेश राणा

कार्यक्रम में पूरे हिमाचल से अलग अलग श्रेणियों में बेहतर व विकासात्मक पत्रकारिता करने वाले प्रिंट, इलैक्ट्रानिक्स व डिजीटल मीडिया के पत्रकारों को राज्य स्तरीय हिमाचल गौरव अवार्ड से भी सम्मानित किया गया। बैठक में हिमाचल के पत्रकारों की मांगों पर विस्तार से मंथन हुआ वहीं सदस्यता अभियान को और ज्यादा तेज करने का निर्णय लिया गया। सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित हुआ कि इस बार के बजट में पत्रकारों की मांगों को प्रमुखता मिले इसलिए एक ज्ञापन राष्ट्रीय सचिव सीमा शर्मा के माध्यम से सीएम को शिमला में दिया जाएगा। राष्ट्रीय सचिव सीमा मोहन ने कहा कि हिमाचल इकाई देश के अन्य राज्यों के मीडीया में तुलना में श्रेष्ठ कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि कोविड काल में भी एनयूजे संगठन ने राष्ट्रीय व राज्य स्तर पर आर्थिक पैकेज, कोरोना योद्धा घोषित करने, नेशनल रजिस्टर फार जर्नलिस्ट जैसे पत्रकार हित्तों से जुडे मुददों को उठाया। हिमाचल के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि राष्ट्रीयअध्यक्ष रास बिहारी की मौजूदगी और राज्य अध्यक्ष रणेश राणा के नेतृत्व में प्रदेश के हमीरपुर जिला में पत्रकार दिवस के मौके पर धरना प्रदर्शन किया गया था। वहां उठाई गई मांगों को केंद्रीय राज्य वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर ने भी समर्थन किया है और मामले पर सीएम जयराम ठाकुर को पत्र लिखा है, जिसकी एनयूजे सराहना करता है। प्रदेश अध्यक्ष रणेश राणा ने पंचायत चुनाव और मतगणना के दौरान मान्यता और गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के बीच भेदभाव करने पर गहरा रोष व्यक्त किया। क्योंकि गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों को कवरेज करने से रोकना सही नहीं है। इस मुददे पर एन.यू.जे मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपेगी। उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि पत्रकार कल्याण बोर्ड के गठन, हरियाणा की तर्ज पर पेंशन और पत्रकारों से जुडी अन्य मांगे जो एनयूजे की तरफ से ज्ञापन सौंप कर अवगत करवाई गई है। उनके लिए आगामी वित्तीय वर्ष में बजट का प्रावधान करें केवल कोरेआश्वासन न दें। उन्होंने कहा कि अन्य पडोसी राज्यों की तर्ज पर सरकार पत्रकारों को सुविधाएं व साधन मुहैया करवाएं। पत्रकारों से सौतेला व्यवहार ठीक नहीं है। गौ संवर्धन बोर्ड के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा ने कहा कि पत्रकार केवल पत्रकारिता नहीं करते बल्कि समाज सेवा के रूप में भी पूर्ण योगदान देते हैं। उन्होंने सिरमौर और नारकंडा में बेसहारा पशुओं को आश्रय देने के लिए पत्रकारों द्वारा उठाये गए मुद्दे का उदाहरण देते हुए कहा कि यदि वह इस मामले को उजागर न करते तो सैंकडों बेसहारा गौवंश को आश्रय न मिलता। उन्होंने कहा पत्रकार समाज का आईना है। लघु उद्योग भारती के अध्यक्ष राजीव कंसल ने कहा कि डिजीटल मीडिया पत्रकारिता क्षेत्र में एक नए माध्यम के रूप में उभरा है जहां आज की खबरें कल नहीं बल्कि अभी मिल जाती है। दवा निर्माता संघ के प्रदेश चेयरमैन सतीश सिंगला ने कहा पत्रकारिता एक पवित्र पेशा है जो कि कुछ लोगों की वजह से दूषित हो गया है। आज सबसे बडा संकट विश्सनीयता का है। आज भी मूल्यों व तथ्यों पर आधारित पत्रकारिता का अभाव है। मंच पर उपस्थित राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य जोगिंद्र देव आर्य, सुमित शर्मा, हरदेव भारद्वाज, विशाल आनंद व सुरेंद्र अत्री ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम में एनजीओ हरिओम योगा सोसाईटी के चेयरमैन डा. श्रीकांत शर्मा ने भाग लिया और विचार रखे।

इन पत्रकारों को मिला राज्य स्तरीय अवार्ड-

कार्यक्रम में हिमाचल के विभिन्न जिलों से ताल्लुक रखने वाले अलग अलग श्रेणियों के पत्रकारों को राज्य स्तरीय हिमाचल गौरव अवार्ड देकर सम्मानित किया गया। हिमाचल गौरव अवार्ड में विभिन्न श्रेणीयों वरिष्ठ पत्रकार, महिला पत्रकार, ग्रामीण पत्रकार, युवा पत्रकार, डिजीटल मीडीया के पत्रकार दिए गए। इसमें वरिष्ठ पत्रकार का सम्मान अमित सूद (कुमारसैन)व आरडी पराशर (सिरमौर) को दिया गया। युवा पत्रकार के रूप में कपिल गुप्ता (सुबाथू) व मनीष पाल ठाकुर (नालागढ़) को दिया गया। महिला पत्रकार के रूप में भावना ओबरॉय (सिरमौर) तथा प्रीति मुकुल (शिमला)को सम्मान दिया गया। क्राइम रिपोर्टर के लिए सुभाष कुमार (चंबा), पंकज राक्टा (शिमला) व संतोष चौहान (नालागढ़) को अवार्ड दिया गया, डिजीटल मीडिया के लिए जगमोहन शर्मा (रामपुर बुशैहर), राजकुमार सूद (नाहन), रमेश शर्मा (हमीरपुर) को सम्मानित किया गया। ग्रामीण एवं विकासात्मक पत्रकारिता के लिए तरूण गुप्ता (रामशहर) , नितिन भारद्वाज ( राजगढ़) व नवीन सूद (कसौली) को सम्मानित किया गया। इलेक्ट्रौनिक मीडिया के लिए मुकेश गौतम (नयना देवी) तथा पंकज कतना (ऊना) को सम्मानित किया गया। अंग्रेजी मीडिया में योगदान के लिए वरिष्ठ पत्रकार का अवार्ड दिनेश अग्रवाल (शिमला) को दिया गया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *