पार्किंग स्थलों पर तय दरों से अधिक किराया वसूलने पर पर्यटक व स्थानीय नागरिक टोल फ्री नम्बर पर करें शिकायत..

शिमला: पार्किंग स्थलों पर तय दरों से अधिक किराया वसूलने पर पर्यटक व स्थानीय नागरिक टोल फ्री नम्बर पर करें शिकायत..

  • उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने  31 दिसम्बर को शिमला में पर्यटकों की आमद के दौरान यातायात, कानून एवं अन्य व्यवस्थाओं को सुचारू रूप से क्रियान्वित करने के संबंध में की बैठक

  • पार्किंग स्थलों पर तय दरों से अधिक किराया वसूलने पर पर्यटक व स्थानीय नागरिक टोल फ्री नम्बर 1916 अथवा वह्टसऐप नम्बर 78765-78935 पर कर सकतें हैं शिकायत

  •  नववर्ष पर शिमला शहर में कर्फ्यू के चलते 10 बजे पर्यटक अपने-अपने होटलों में

शिमला: उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने आज 31 दिसम्बर, 2020 को शिमला में पर्यटकों की आमद के दौरान यातायात व कानून एवं अन्य व्यवस्थाओं को सुचारू रूप से क्रियान्वित करने के संबंध में बैठक आयोजित की।
उन्होंने बताया कि इस दौरान शिमला नगर को 7 सैक्टर में बांटा गया है, जिसमें सैक्टर-1 के तहत लम्बी धार, फागु, ठियोग, फन वर्ड, गलु और साथ लगते क्षेत्र शामिल होंगे जिसके लिए उपमण्डलाधिकारी ठियोग सौरव जस्सल कानून एवं व्यवस्था की निगरानी करेंगे।
सैक्टर-2 के तहत ढली, मशोबरा, नालदेहरा, छराबड़ा, कुफरी, चीनी बंगला, बाईपास के दोनों ओर के क्षेत्र तथा संजौली और साथ लगते क्षेत्र शामिल होंगे जिसके लिए जिला राजस्व अधिकारी संत राम कानून एवं व्यवस्था की निगरानी करेंगे।
सैक्टर-3 के तहत आईजीएमसी, लौंगवुड, भराड़ी, कैलस्टन, ऑकलैंड, लक्कड़ बाजार बस स्टैंड, ताराहाॅल, विक्ट्री टनल तथा साथ लगते क्षेत्र शामिल हैं, जिसकी नायब तहसीलदार शिमला (ग्रामीण) हीरा लाल गैज्टा कानून एवं व्यवस्था की निगरानी करेंगे।
सैक्टर-4 के तहत रिज, लक्कड़ बाजार, स्कैंडल प्वाईंट, तिबतियन मार्किंट, पीएआर, जोधा निवास, यूएस क्लब, हाॅलीलौज, माल रोड, स्पोर्टस काॅम्पलैक्स से शैलेडे स्कूल चैंक, हाई कोर्ट, सीटीओ, कालीबाड़ी से एसबीआई, मिडल बाजार, लोअर बाजार, राम बाजार तथा साथ लगते क्षेत्र शामिल हैं, जिसकी उपमण्डलाधिकारी शिमला (शहरी) मंजीत शर्मा कानून एवं व्यवस्था की निगरानी करेंगे।
सैक्टर-5 के तहत सीटीओ, उपायुक्त कार्यालय, आर्मी हैड क्वाटर, पुराना बस स्टैंड, विक्ट्री टनल, रेलवे स्टेशन, एसबीआई चैक, एजी चैक, कैनेेडी चैक, एडवांस स्टडी चैक, चक्कर, बालुगंज, सम्मरहिल, टूटु चैक, जतोग, डैंढा तथा साथ लगते क्षेत्र शामिल हैं, जिसकी उपमण्डलाधिकारी शिमला (ग्रामीण) मनोज कुमार कानून एवं व्यवस्था की निगरानी करेंगे।
सैक्टर-6 के तहत पुराना बस स्टैंड, बैमलोई, हिमलैंड, छोटा शिमला से नवबहार, ओक ऑवर, राज भवन, राम चन्द्रा चैक, जाखू, कुसुम्पटी, विकास नगर, पंथाघाटी, मैहली, न्यू शिमला तथा साथ लगते क्षेत्र शामिल हैं, जिसकी तहसीलदार शिमला (शहरी) सुमेध शर्मा कानून एवं व्यवस्था की निगरानी करेंगे।
सैक्टर-7 के तहत शिमला शहर के सभी यातायात सैक्टर और 103 टनल, आईएसबीटी, टूटीकंडी, पुराना बेरियर, तारा देवी, शोघी तथा साथ लगते क्षेत्र शामिल हैं, जिसकी तहसीलदार शिमला (ग्रामीण) संजीव गुप्ता कानून एवं व्यवस्था की निगरानी करेंगे।
उन्होंने कहा कि सभी तैनात अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में सघन निगरानी करेंगे ताकि किसी प्रकार की अप्रिय घटना से बचा जा सके। उन्होंने कहा कि कोई घटना होती है तो इसकी तुरन्त सूचना उपायुक्त अथवा अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी कानून एवं व्यवस्था को देना सुनिश्चित करें।
उन्होंने पुलिस विभाग को यातायात को सामान्य बनाए रखने तथा रिज व अन्य क्षेत्रों में पर्यटकों व लोगों के हुजुम को व्यवस्थित करने के लिए पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती के आदेश दिए।  उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा चैक पोस्ट शोघी में पर्यटकों के लिए आवश्यक मार्ग दर्शन सुनिश्चित किया जाए।
उन्होंने बताया कि इस दौरान शहर में पार्किंग व्यवस्था भर जाने पर पर्यटक अपनी गाड़ियों को टूटीकंडी बाईपास अथवा पार्किंग पर खड़ी कर हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों व टैक्सियों में शिमला शहर अथवा माल रोड में आने के लिए इस्तेमाल कर सकेंगे। पर्यटकों की बड़ी बसों, ट्रकों व टैम्पू ट्रैवलर आदि को शहर में प्रवेश करने की मनाही रहेगी, इन्हें टूटीकंडी पार्किंग पर ही खड़ा किया जाएगा। शहर में प्रवेश पर मनाही होगी। कुफरी नालदेहरा जाने वाले पर्यटक अथवा सामान्य नागरिक शोघी बाईपास के रास्ते का प्रयोग कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि हिमाचल पथ परिवहन निगम की टैक्सियां टूटीकंडी बाईपास व पार्किंग से सीटीओ मालरोड के लिए दोपहर 2 बजे से चलनी आरम्भ होगी, जिसकी सुविधा का लाभ पर्यटक मालरोड आने के लिए उठा सकते हैं। उन्होंने कहा कि शहर में विशेष रूप से लिफ्ट व अन्य पार्किंग स्थलों के भरने व अन्य व्यवस्थाओं की जानकारी टूटीकंडी स्थित पार्किंग पर निरंतर उपलब्ध करवाई जाएगी ताकि शहर में जाम की समस्या से बचा जा सके।
उन्होंने पार्किंग स्थलों पर तय दरों से अधिक किराया न वसूले जाने के लिए संबंधित विभाग को निगरानी व जांच के आदेश दिए। उन्होंने कहा कि इस संबंध में यदि कोई शिकायत पर्यटक अथवा सामान्य नागरिक को मिलती है तो वह टोल फ्री नम्बर 1916 अथवा वह्टसऐप नम्बर 78765-78935 पर कर सकता है। अधिक किराया वसूल करने वाले के प्रति कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
उन्होंने सहायक पर्यटन अधिकारी कंचन बेदी को निर्देश दिए कि होटल एसोसिएशन के साथ जल्द बैठक आयोजित कर उन्हें 31 दिसम्बर, 2020 के दौरान पर्यटकों को आवश्यक हिदायतें व निर्देशों के संबंध में जानकारी दें।
उन्होंने कहा कि शिमला शहर में कर्फ्यू के कारण 10 बजे के बाद पर्यटक सड़कों व बाजारों से अपने-अपने होटलों में लौट जाएंगे ताकि कर्फ्यू नियमों की अनुपालना सुनिश्चित की जा सके।
उन्होंने जिला प्रशासन व पर्यटन विभाग द्वारा संयुक्त रूप से प्रकाशित पर्यटकों द्वारा अपनाए जाने वाले (क्या करें, क्या न करें) की प्रचार सामग्री प्रत्येक पर्यटन सूचना केन्द्रों तथा होटलों व पुलिस के माध्यम से पर्यटकों को उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए।
उन्होंने नगर निगम को इस  दौरान प्रत्येक क्षेत्र में पर्याप्त विद्युत सुविधा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *