दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा करने के लिए आईजीएमसी से की जाएगी आपूर्ति

दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा करने के लिए आईजीएमसी से की जाएगी आपूर्ति

शिमला: कोविड-19 महामारी की स्थिति में दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा करने के लिए आईजीएमसी अस्पताल से आपूर्ति की उपलब्धता की जाएगी। शहरी विकास आवास नगर नियोजन संसदीय कार्य विधि एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने आज बचत भवन में कोविड-19 समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि आईजीएमसी में सरपल्स होने के कारण यह आर्पूति यह सुनिश्चित की जाएगी। इसके लिए उच्चाधिकारियों से भी चर्चा करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि अन्य क्षेत्रों से गंभीर अवस्था वाले रोगियों को  वहां के बीमएओ आईजीएमसी भेज सकते है इसके लिए व्यवस्था की जाएगी। उन्होंनें कहा कि बर्फवारी के दौरान कोविड-19 के अतिरिक्त अन्य रोगियों को लाने के लिए एम्बुलेंस व्यवस्था दुरूस्त करने के निर्देश दिए जिसके लिए चैन आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए ताकि रोगियों को लाने व ले जाने में कोइ दिक्कत न हो। उन्होंने इसके लिए जिला प्रशासन को सहयोग देने के लिए निर्देश भी दिए। उन्होंने आयुक्त नगर निगम को बर्फबारी के दौरान अस्पताल और इसके आसपास की सड़क को तुरन्त साफ करने की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा उन्होंने कहा कि कोविड-19 के संबध में जांच की प्रक्रिया व प्रोटोकॉल के अन्तर्गत आईजीएमसी की नई ओपीडी में 50 बिस्तरों की अतिरिक्त व्यवस्था की गई है जिसमें ऑक्सीजन व्यवस्था के साथ साथ अन्य बिमारियों से सम्बन्धित रोगियों का ईलाज भी किया जाएगा ताकि कोविड के  साथ साथ रोगी की अन्य गम्भीर बिमारियों  का भी इलाज किया जा सके।

उन्होंने नगर निगम आयुक्त को होम आईसोलेशन में व्यक्तियों के आपातकाल स्थिति से निपटने के लिए वॉलेंटियर तैयार करने के आदेश दिए गए है ताकि घर से गाड़ी तक मरीजों को लाया जा सके। उन्होंने कहा कि जो बाहर के जिलों से आने वाले रोगियों को उनकी मृत्यु की स्थिति में अपने- अपने क्षेत्रों में दाह संस्कार के लिए ले जाने के लिए सहयोग प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के प्रति जागरूकता प्रदान करने के लिए समाज के सभी वर्गो के लोग अपना सहयोग प्रदान करें। उन्होंने निर्वाचित प्रतिनिधियों को भी जानकारी प्राप्त कर हिम सुरक्षा अभियान के तहत लोगों को कोविड-19 माहामारी के सम्बध में जागरूक करने का आहवान भी किया। उन्होंने आज जिला प्रशासन द्वारा जन आन्दोलन वाहन को भी हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने बताया कि यह वाहन जिला के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर लोगों को कोविड-19 महामारी के प्रति जानकारी व जागरूकता प्रदान करेगी। विभिन्न दिशा निर्देशों की पालना तथा विशेष मानक संचालनों की अनुपालना सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने आज जिला प्रशासन द्वारा आयोजित नो मास्क, नो एंट्री, नो सर्विस अभियान का भी शुभारम्भ किया जिसका मुख्य उददेश्य लोगों को बिना मास्क के अनुमति नही मिलेगी वहीं कार्यालयों में भी बिना मास्क के कोई भी सेवाऐं नहीं दी जाएगी।

उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन शिमला द्वारा बरनेवलटी इंडक्स का शुभारम्भ किया गया है जिसके माध्यम से बनाए गए पांच आसान सवालों का जबाब देकर कोई भी व्यक्ति कोविड-19 के बारे में जानकारी हासिल कर सकता है। 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *